• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • Mirzapur: पहले मिला तीन बेटियों का कंकाल, अब आरोपी महिला का शव मिलने से गुत्थी सुलझाने में उलझी पुलिस

Mirzapur: पहले मिला तीन बेटियों का कंकाल, अब आरोपी महिला का शव मिलने से गुत्थी सुलझाने में उलझी पुलिस

मिर्जापुर में तीन बच्चियों के कंकाल मिलने के बाद मां की आत्महत्या से उलझी गुत्थी

मिर्जापुर में तीन बच्चियों के कंकाल मिलने के बाद मां की आत्महत्या से उलझी गुत्थी

Mirzapur Murder Mystery: मिर्जापुर के हलिया थाना क्षेत्र के हर्रा के जंगल में तीन बालिकाओं का कंकाल मिलने के बाद फरार मां का शव शुक्रवार सुबह मोरचहवा जंगल में पेड़ से लटकता मिला. स्थानीय लोगों की सूचना पर पहुंचे परिजनों ने शव की शिनाख्त की.

  • Share this:

मिर्जापुर. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मिर्जापुर (Mirzapur) जनपद में जंगल में तीन नरकंकाल मिलने के बाद अब लापता मां का शव जंगल में पेड़ से लटकते हुए मिला. इससे पहले जंगल में तीन नरकंकाल के पास से कई दिनों से लापता तीन नाबालिग लड़कियों के कपड़े मिले थे. इस मामले में पुलिस (Police) ने मां के खिलाफ बच्चियों को लापता करने का मुकदमा दर्ज किया था.  इस बीच शुक्रवार को महिला का शव जंगल में मिला तो मामले की गुत्थी और भी उलझ गयी.

21 सितंबर 2021 से लापता महिला सीमा का शव पेड़ से लटकता हुआ मिला. भेड़ चराने वाले एक चरवाहे ने जब शव देखा तो इसकी जानकारी स्थानीय लोगों को दी. पुलिस ने शव की पहचान परिजनों से करवाया. भाई रमाकांत ने शव और पास पड़े बहन के चप्पल, साड़ी और मोबाइल आदि से पहचान किया. पास में मोबाइल तोड़ कर रखा गया था. सवाल उठता है कि इस घने जंगल में अकेले इतनी दूर महिला कैसे पहुंची? आशंका व्यक्त की जा रही है कि हत्या कर शव को लटका दिया गया होगा. महिला का शव पेड़ से साड़ी के फंदे से लटकता हुआ मिला था.

फरार मां का शव मिलने से उलझी गुत्थी
मिर्जापुर के हलिया थाना क्षेत्र के हर्रा के जंगल में तीन बालिकाओं का कंकाल मिलने के बाद फरार मां का शव शुक्रवार सुबह मोरचहवा जंगल में पेड़ से लटकता मिला. स्थानीय लोगों की सूचना पर पहुंचे परिजनों ने शव की शिनाख्त की. आशंका यही जताई जा रही है कि बच्चों की हत्या मां ने ही की थी. अब पकड़े जाने के डर से सीमा ने आत्महत्या कर ली. दरअसल, हलिया थाना क्षेत्र के बेलाही गांव से एक महीने पहले सीमा अपने तीन बच्चियों संग घर से निकली थी. 22 सितंबर को जंगल में तीन कंकाल मिले थे, जिसे बच्चियों के मामा ने कपड़ों से पहचान लिया था, तीनों कंकालों की पहचान 12 वर्षीय गोलू, 10 वर्षीय मुनिया और 8 वर्षीय ममता के रूप में की गई थी.

18 अगस्त से लापता थीं तीनों लड़कियां
जानकारी के मुताबिक 18 अगस्त को देवी दास घर से किसी काम के लिए बाहर जाता है. उसी दिन पत्नी सीमा भी निकल जाती है. दो दिन बाद सीमा घर पहुंचती  है. पुत्रियों को साथ नहीं देख देवी दास (मृतक सिमा का पति) के पूछने पर सीमा बताती है कि बच्चियां नौकरी के लिए इंदौर गयी हैं. पत्नी की बातों पर शक होने के बाद पति बच्चों की खोजबीन करता है, लेकिन कोई सुराग नहीं मिलता है. फिर अचानक तीन कंकाल मिलने के बाद से सीमा लापता हो जाती है. पुलिस सीमा पर अपहरण का मुकदमा दर्ज करती है. शुक्रवार सुबह सीमा का शव मिलने के बाद गुत्थी और उलझ गई है.

उठ रहे कई सवाल
अब पूरे मामले में कई सवाल खड़े हो रहे हैं. क्या मृतक सीमा अपने तीन बच्चों को अकेले जंगल में  ले जाकर मार सकती है? या कोई और भी है जो इस मौत के पीछे है जिस पर पुलिस की नजर नहीं पड़ पा रही है? क्या पुलिस द्वारा सीमा पर अपहरण का मुकदमा दर्ज करने के बाद उसने खुद फांसी लगाकर जान दे दिया या कोई और है तीन बच्चियों के साथ सिमा को मौत के घाट उतारने वाला. फिलहाल पुलिस इस मौत की गुत्थी सुलझाने में खुद उलझ गई है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज