वन्दे मातरम् पर रोक से भड़की साध्वी प्राची, सीएम कमलनाथ को बताया जिहादी

साध्वी प्राची ने राफेल के मुद्दे पर बोलते हुए कहा कि यह कोई बड़ी बात नहीं है. किसी भी कोर्ट में चले जाएं. कोर्ट का हम सम्मान करते हैं. रही बात राफेल की, ‘राफेल का मतलब है राहुल फेल’ यानी 2019 में राहुल फेल हैं.

  • Share this:
अपने बयानों को लेकर हमेशा चर्चा में रहने वाली विश्व हिन्दू परिषद (विहिप) की फायर ब्राण्ड नेत्री साध्वी प्राची ने एक बाद फिर विवादित बयान दे दिया. साध्वी प्राची ने मध्यप्रदेश के सचिवालय के कर्मचारियों को वन्दे मातरम् गाने से रोकने पर मुख्यमंत्री कमलनाथ की तुलना जिहादियों से कर दी.



मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री द्वारा वन्दे मातरम् पर रोक लगाने के सवाल पर बोलते हुए साध्वी प्राची ने कमलनाथ को दो टूक शब्दों में कहा, “कमलानाथ को देशभक्त भगत सिंह, बिस्मिल और अशफाक उल्ला खां को याद करना चाहिए, जो वन्दे मातरम् कहते हुए फांसी के फंदे पर झूल गए. जो लोग अपनी मातृभूमि के साथ गद्दारी करता है, वह सबसे बड़ा देशद्रोही होता है.” साध्वी प्राची ने कहा कि यह तो जिहादी लोग हैं और कह भी चुके हैं कि हमारी पार्टी तो मुस्लिमों की पार्टी है तो मुस्लिम और ईसाइयों का प्रचार करें, हिंदुस्तान का, भारत माता का इनके दिल में कोई स्थान नहीं है.



साध्वी प्राची ने कहा, “मैं समझती हूं, यह लोग तो जेहादी लोग हैं. इनका जिहादी चेहरा हिंदुस्तान के सामने आ रहा है. यह केवल और केवल जिहाद फैलाना चाहते हैं.”






राफेल का मतलब है राहुल फेल
साध्वी प्राची ने राफेल के मुद्दे पर बोलते हुए कहा कि यह कोई बड़ी बात नहीं है. किसी भी कोर्ट में चले जाएं. कोर्ट का हम सम्मान करते हैं. रही बात राफेल की, ‘राफेल का मतलब है राहुल फेल’ यानी 2019 में राहुल फेल हैं. राहुल इस मुद्दे को तो उठा रहे हैं, बोफोर्स कांड में इतनी दलाल आई लेकिन राफेल में इनको कुछ खाने को नहीं मिला इसलिए राहुल राफेल राफेल चिल्ला रहे हैं. जिन लोगों को घूस की आदत थी, जिन लोगों को दलाली खाने की आदत थी, जो घोटाले पर घोटाले कर रहे थे, आज उन लोगों को कुछ खाने को नहीं मिल रहा है क्योंकि मोदी जी ने कहा है ‘ना मैं खाऊंगा ना खाने दूंगा’, यह उसी का परिणाम है कि आज राहुल राफेल राफेल चिल्ला रहे हैं. प्राची ने कहा कि देश की सुरक्षा के लिए पीएम मोदी ने बहुत अच्छा कदम उठाया है. इसलिए यह जरूरी था. विरोधी लोग बार-बार चिल्ला रहे हैं, पीएम पर आरोप लगा रहे हैं, यह सब सरासर गलत आरोप हैं.



राम मंदिर के मुद्दे पर 4 जनवरी का इंतजार

साध्वी प्राची ने राम मंदिर पर बोलते हुए कहा कि पूरा देश नए साल के लिए आगाज कर रहा होगा. लेकिन मुझे तो 4 जनवरी का इंतजार है क्योंकि मैं कोर्ट का सम्मान करती हूं. हर हिंदुस्तानी को कोर्ट का सम्मान करना चाहिए. हमें 4 तारीख में उम्मीद है लेकिन हमें तारीख पे तारीख, तारीख पे तारीख नहीं चाहिए. हमें फैसला चाहिए. प्राची ने कहा कि राम मंदिर के मुद्दे पर जल्द से जल्द फैसला हो या तो सरकार नई बैच स्थापित करे जिसमें प्रतिदिन राम मंदिर के लिए सुनवाई हो.



राजस्थान के मुस्लिम मंत्री ने मंदिर में की पूजा, एक घंटे तक किया भगवान शिव का अभिषेक!





ये भी पढ़ें- गोरखपुर के मुकाबले राजधानी लखनऊ में 1.3 रुपये सस्ता हुआ पेट्रोल, जानिए नए रेट्स
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज