अपना शहर चुनें

States

AMU में पढ़ने वाले 11वीं के छात्र मोहम्मद शादाब को मिला राष्ट्रीय बाल पुरस्कार

मुस्लिम विश्वविद्यालय में पढ़ने वाले शादाब को राष्ट्रीय बाल पुरस्कार मिला है.
मुस्लिम विश्वविद्यालय में पढ़ने वाले शादाब को राष्ट्रीय बाल पुरस्कार मिला है.

अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (Aligarh Muslim University) में पढ़ने वाले कक्षा 11वीं के छात्र मोहम्मद शादाब को राष्ट्रीय बाल पुरस्कार (National Children's Award) से नवाजा गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 25, 2021, 10:31 PM IST
  • Share this:
अलीगढ़. अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (Aligarh Muslim University) में पढ़ने वाले कक्षा 11वीं के छात्र मोहम्मद शादाब को राष्ट्रीय बाल पुरस्कार (National Children's Award) मिला है. शादाब ने बताया कि मेरे माता पिता मुझे हमेशा कहते थे कि जीवन में कुछ ऐसा करो कि देश आपको याद रखे. मेरा भी ऐसा ही कुछ करने का सपना था.

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के पूर्व छात्र मोहम्मद शादाब ने केनेडी-लूगर यूथ एक्सचेंज एंड स्टडी स्कॉलरशिप के जरिए बेलफास्ट एरिया हाईस्कूल, अमेरिका में पढ़ाई की थी. 97.6 फीसदी अंक हासिल कर स्कूल टॉप किया था. यूनिवर्सिटी के मिंटो सर्किल से कक्षा नौ की पढ़ाई करके शादाब ने स्कॉलरशिप के जरिये बेलफास्ट एरिया हाईस्कूल में दाखिला लिया था. उसे स्कॉलरशिप में 28 हजार अमेरिकी डालर मिले थे.


स्कूल में कक्षा 9 से 12 तक करीब 500 बच्चे पढ़ते थे. शादाब ने बताया कि फरवरी 2020 में उसे स्कूल में स्टूडेंट ऑफ द मंथ भी चुना गया था. शादाब ने कहा कि उनकी अम्मी जरीना बेगम व अब्बू अरशद नूर पढ़े-लिखे नहीं हैं, जबकि बड़े भाई समद नूर बीसीए की पढ़ाई कर चुके है. छोटी बहन अब्दुल्ला गर्ल्स कॉलेज में पढ़ रही है.



एक साल की मेहनत के बाद मिली थी सफलता
शादाब को अमेरिकी सरकार की स्कॉलरशिप एक साल की मेहनत के बाद मिली थी, जब वह कक्षा नौ में पढ़ रहा था, तब उसका चयन ऑल इंडिया एक्सेस प्री इंग्लिश कैंप मुंबई के लिए हुआ था. कैंप में अमेरिकन ट्रेनर टॉम ने केनेडी-लूगर यूथ एक्सचेंज एंड स्टडी स्कॉलरशिप के बारे में जानकारी दी थी.

आईएएस बनकर यूएन में सेवा देने की है ख्वाहिश
शादाब फरवरी-2020 में 800 बच्चों के बीच ‘स्टूडेंट ऑफ मंथ’ चुना गया था. वह आईएएस बनकर संयुक्त राष्ट्र संघ में बतौर मानवाधिकार अधिकारी के रूप में कार्य करना चाहता हैं. उसने अमेरिका में भारतीय संस्कृति व महत्व का प्रचार-प्रसार किया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज