Home /News /uttar-pradesh /

मुरादाबाद में AIMIM के नेता का ऐलान- वसीम रिजवी को जूता मारने वाले को 11 लाख का इनाम दूंगा

मुरादाबाद में AIMIM के नेता का ऐलान- वसीम रिजवी को जूता मारने वाले को 11 लाख का इनाम दूंगा

उन्होंने शिया वक्फ बोर्ड से  वसीम रिजवी की सदस्यता खत्म करने की भी मांग की. (File photo)

उन्होंने शिया वक्फ बोर्ड से वसीम रिजवी की सदस्यता खत्म करने की भी मांग की. (File photo)

Moradabad News: रशीद ने कहा कि वसीम रिजवी के खिलाफ कई स्थानों पर विभिन्न आपराधिक मामलों में रिपोर्ट दर्ज हैं. मुकदमों से बचने के लिए ही वसीम रिजवी हिंदुत्ववादी ताकतों के इशारों पर विवादित बयान देते रहे हैं. उन्होंने कहा कि कुछ समय बाद विधानसभा चुनाव होने वाले हैं. लोगों को महंगाई, बेरोजगारी आदि समस्याओं से भटका कर वसीम रिजवी चुनाव को सिर्फ हिंदू-मुस्लिम के बीच बनाने की कोशिश में तुले हुए हैं. वसीम रिजवी के धर्म परिवर्तन के सवाल पर उन्होंने कहा कि जो शख्स इस्लाम का नहीं हुआ वह हिंदू धर्म का क्या होगा.

अधिक पढ़ें ...

मुरादाबाद. यूपी के मुरादाबाद (Moradabad) में AIMIM के महानगर अध्यक्ष वकी रशीद ने हाल ही में हिंदू धर्म अपनाने वाले वसीम रिजवी उर्फ जितेंद्र नारायण त्यागी (Wasim Rizvi) को जूता मारने वाले को 11 लाख रुपये इनाम देने का ऐलान किया है. उनके इस विवादित बयान का वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. आल इंडिया मजलिस-ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन के महानगर अध्यक्ष वकी रशीद का कहना है कि वसीम रिजवी किसी साजिश के तहत हिंदू-मुस्लिम फसाद कराना चाहते हैं.

रशीद ने कहा कि वसीम रिजवी के खिलाफ कई स्थानों पर विभिन्न आपराधिक मामलों में रिपोर्ट दर्ज हैं. मुकदमों से बचने के लिए ही वसीम रिजवी हिंदुत्ववादी ताकतों के इशारों पर विवादित बयान देते रहे हैं. उन्होंने कहा कि कुछ समय बाद विधानसभा चुनाव होने वाले हैं. लोगों को महंगाई, बेरोजगारी आदि समस्याओं से भटका कर वसीम रिजवी चुनाव को सिर्फ हिंदू-मुस्लिम के बीच बनाने की कोशिश में तुले हुए हैं. वसीम रिजवी के धर्म परिवर्तन के सवाल पर उन्होंने कहा कि जो शख्स इस्लाम का नहीं हुआ वह हिंदू धर्म का क्या होगा. उन्होंने शिया वक्फ बोर्ड से उसकी सदस्यता खत्म करने की भी मांग की.

विवादों में रहते हैं वसीम रिजवी
शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के पूर्व चेयरमैन वसीम रिजवी ने हाल ही में सनातन धर्म अपना लिया. इसके साथ ही उनका नाम भी बदल गया है. वसीम रिजवी का नया नाम जितेंद्र नारायण सिंह त्यागी हो गया है. इस्लाम छोड़कर हिंदू बनने के बाद जितेंद्र नारायण सिंह त्यागी (वसीम रिजवी) अब मुस्लिम नेताओं और धर्मगुरुओं के निशाने पर हैं. वहीं हिंदू धर्म अपनाने के बाद वसीम रिजवी ने कहा, ‘धर्म परिवर्तन की यहां पर कोई बात नहीं है, जब मुझको इस्लाम से निकाल दिया गया.

बता दें कि वसीम रिजवी अक्सर ही अपनी बातों और हरकतों से विवादों में रहते हैं. कुछ दिनों पहले रिजवी ने अपनी वसीयत लिखी थी, जिसमें उन्होंने इच्छा जताई थी कि उनके मरने के बाद उन्हें दफनाया नहीं जाए, बल्कि हिंदू रीति रिवाज से अंतिम संस्कार किया जाए. उन्होंने यह भी इच्छा जताई थी कि यति नरसिम्हानंद उनकी चिता को अग्नि दें.

Tags: AIMIM, Asaduddin owaisi, Bjp government, Moradabad News, UP news, Waseem Rizvi Conversion, Wasim Rizvi, मुरादाबाद

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर