होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /

अमरोहा में जन्माष्टमी पर गोवंश को श्रद्धांजलि पर राजनीति, कांग्रेसियों को किया नजरबंद

अमरोहा में जन्माष्टमी पर गोवंश को श्रद्धांजलि पर राजनीति, कांग्रेसियों को किया नजरबंद

अमरोहा में 61 गोवंशीय पशुओं की आत्मा शांति के लिए यज्ञ होने वाला था.

अमरोहा में 61 गोवंशीय पशुओं की आत्मा शांति के लिए यज्ञ होने वाला था.

Amroha News: कांग्रेस जिला अध्यक्ष ओमकार सिंह कटारिया के नेतृत्व में साथलपुर गौशाला में जन्माष्टमी पर यज्ञ करने जा रहे कांग्रेस कार्यकर्ताओं को पुलिस ने जिलाध्यक्ष के घर में ही नजरबंद कर दिया.

हाइलाइट्स

गौशाला जा रहे कांग्रेसियों को किया नजरबंद.
4 अगस्त को गौशाला में 61 गोवंशीय पशुओं की मौत हो गई थी.

मुरादाबाद. उत्तर प्रदेश के जनपद अमरोहा में शुक्रवार को गोशाला में 61 गोवंशीय पशुओं की आत्मा शांति के लिए यज्ञ होने वाला था. इसके लिए गौशाला जा रहे कांग्रेसियों को नजरबंद किए जाने का मामला सामने आया है. इसके बाद कांग्रेस नेताओं ने वर्तमान सरकार पर कई गंभीर आरोप लगाए हैं. अमरोहा में बीती 4 अगस्त को गौशाला में 61 गोवंशीय पशुओं की मौत हो गई थी, जिसके बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मामले में संज्ञान लेते हुए दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही का निर्देश दिया था. इस मामले में पुलिस ने 12 व्यक्तियों को जेल भेज दिया था. अब इसी को लेकर राजनीति शुरू हो गई है.

कांग्रेस जिला अध्यक्ष ओमकार सिंह कटारिया के नेतृत्व में साथलपुर गौशाला में जन्माष्टमी पर यज्ञ करने जा रहे कांग्रेस कार्यकर्ताओं को पुलिस ने जिलाध्यक्ष के घर में ही नजरबंद कर दिया. कांग्रेस जिलाध्यक्ष ने सरकार पर आरोप लगाया कि योगी की सरकार व शासन-प्रशासन को हमारे यज्ञ करने पर भी समस्या है. हमें घर में ही नजरबंद कर दिया गया जबकि हिंदू धर्म में यज्ञ सबसे पवित्र क्रिया एवं धार्मिक अनुष्ठान है.

तानाशाही और राक्षसी प्रवृत्ति
ओमकार सिंह कटारिया का कहना था कि योगी जी अपनी सरकार में धार्मिक अनुष्ठानों समेत यज्ञ करने पर भी पाबंदी लगा रहे हैं. इसमें मैं यही कहूंगा विनाश काले विपरीत बुद्धि क्योंकि उत्तर प्रदेश में आने वाला समय और भी खराब है क्योंकि जिस राज्य में यज्ञ करने पर पाबंदी एवं प्रतिबंध लगाया जाता हो. साथ ही योगी जी पुलिस को भेजकर यज्ञ करने जाने वाले लोगों को घर में नजरबंद करवा रहे हैं. इससे ज्यादा तानाशाही एवं राक्षसी प्रवृत्ति का शासन कभी नहीं देखा.

उन्होंने कहा कि यह रावण एवं राक्षसों के जमाने में होता था क्योंकि उस दौरान ऋषि.मुनियों को बंदी बनाया जाता था. इसी तरह उत्तर प्रदेश एवं भारत सरकार यज्ञ रोक रही है. हमें यह करने के लिए क्यों रोका जा रहा है? यह शासन- प्रशासन को जवाब देना पड़ेगा.

Tags: Amroha news, BJP, Congress

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर