COVID-19 के चलते बंद स्कूल में शुरू की अवैध शस्त्र फैक्ट्री, तमंचों के साथ टीचर सहित 4 गिरफ्तार

मुरादाबाद में अवैध असलहा फैक्ट्री का भंडाफोड़
मुरादाबाद में अवैध असलहा फैक्ट्री का भंडाफोड़

मुरादाबाद (Moradabad): इस अवैध शस्त्र फैक्ट्री का खुलासा करने वाली पुलिस टीम को आलाधिकारियों की तरफ से प्रशस्ति पत्र के साथ ही नक़द पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया.

  • Share this:
फरीद शम्सी

मुरादाबाद. उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद (Moradabad) में डिलारी पुलिस ने लॉक डाउन (Lockdown) के दौरान भोजपुर थाना क्षेत्र में कोविड-19 के चलते बंद आनंद पब्लिक स्कूल (Anand Public School) में काफ़ी समय से चल रही अवैध शस्त्र बनाने की फैक्ट्री (Illegal Arms Factory) का ख़ुलासा किया है. पुलिस ने फैक्ट्री में बने व अधबने दर्जनों तमंचे बरामद कर एक शिक्षक सहित 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया है. पुलिस पूछताछ में पकड़े गए आरोपियों ने बताया कि फैक्टी चलाने वाला मुख्य आरोपी धमेंद्र भटनागर और मिक्की सैफ़ी फ़रार हो गए. ये सभी लोग तमांचे बनाकर आस-पास के ज़िलों में बेच रहे थे. पुलिस ने फैक्ट्री से अवैध तमंचे के साथ ही उपकरण भी बरामद किए हैं.

मुरादाबाद पुलिस को काफ़ी समय से आसपास के ज़िलों से सूचना मिल रही थी, मुरादाबाद में अपराधी भारी मात्रा अवैध शस्त्र बनाकर अपराधी बेच रहे हैं. पुलिस ने छानबीन की तो मुख़बिर से सूचना मिली कि मुरादाबाद देहात के थाना डिलारी क्षेत्र के रहने वाले आरोपी भोजपुर थाना क्षेत्र के ग्राम नाख़ूनका में कोविड-19 के चलते बंद आनंद पब्लिक स्कूल में अवैध तमांचे बनाकर बेच रहे हैं.




ये हैं गिरफ्तार और फरार

पुलिस ने छापा मारकर शिक्षक मुकेश कुमार, प्रशांत आर्य, जयपाल सिंह और राजाराम को गिरफ्तार किया है. छापे के दौरान अवैध शस्त्र फैक्ट्री चलाने वाले मुख्य आरोपी धमेंद्र भटनागर, मिक्की सैफ़ी और सोनू पेंटर फ़रार हो गए. पुलिस ने स्कूल में चल रही अवैध शस्त्र फैक्ट्री से बने व अधबने दर्जनों तमंचे बरामद किए हैं. पकड़े गए आरोपी लॉक डाउन के दौरान बंद स्कूल में शिक्षक मुकेश के साथ मिलकर तमांचे बनाकर बेच रहे थे. आज इस अवैध शस्त्र फैक्ट्री का खुलासा करने वाली पुलिस टीम को प्रशस्ति पत्र के साथ ही नक़द पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज