Home /News /uttar-pradesh /

बदहाल शिक्षा व्‍यवस्‍था: न बेंच न बिजली, पसीने में तर-बतर जमीन पर बैठकर पढ़ने को मजबूर नौनिहाल

बदहाल शिक्षा व्‍यवस्‍था: न बेंच न बिजली, पसीने में तर-बतर जमीन पर बैठकर पढ़ने को मजबूर नौनिहाल

मुरादाबाद जिले के एक स्‍कूल में न तो बिजली है और न ही बेंच.

मुरादाबाद जिले के एक स्‍कूल में न तो बिजली है और न ही बेंच.

उत्‍तर प्रदेश में बदहाल शिक्षा व्‍यवस्‍था का एक और मामला सामने आया है. मुरादाबाद के बसंतपुर रामराय में स्थित स्‍कूल में पंखे हैं, लेकिन बिजली नहीं. यहां तक की स्‍कूल में बेंच में भी नहीं हैं.

    कहा जाता है किसी भी देश और समाज का भविष्‍य बच्‍चों की शिक्षा से ही संवारी जा सकती है. इसमें स्‍कूली शिक्षा सबसे ज्‍यादा जरूरी है. लेकिन, जनसंख्‍या के लिहाज से देश के सबसे बड़े राज्‍य उत्‍तर प्रदेश के मुरादाबाद जिले में स्थित एक स्‍कूल की बदहाली कहानी सरकारी दावों की पोल खोलने के लिए काफी है. हालात ये हैं कि बसंतपुर रामराय के एक जूनियर स्‍कूल में पंखे और बल्‍ब तो मई में ही लगा दिए गए थे, लेकिन बिजली के अभाव में ये महज शो-पीस बनकर रह गए हैं. नौनिहालों को भीषण गर्मी और उमस में पसीने में तर-बतर होकर पढ़ाई करनी पड़ रही है. न्‍यूज एजेंसी एएनआई की रिपोर्ट के अनुसार, इस स्‍कूल में बेंच तक नहीं हैं, जिसके कारण छात्र फर्श पर चटाई बिछाकर पढ़ने को मजबूर हैं.

    स्‍कूल में पढ़ने वाली वैष्‍णवी बताती हैं कि भीषण गर्मी की वजह से स्‍कूल में पढ़ाई करना बेहद मुश्किल हो जाता है. उन्‍होंने बताया कि जब गर्मी बर्दाश्‍त नहीं होती है तो छात्र किताब को ही पंख बनाकर राहत पाने की कोशिश करते हैं.

    मई में लगे पंखे अब तक नहीं चले
    टीचर मुनाबर सुल्‍ताना कहती हैं कि वह वर्ष 2008 से इस स्‍कूल में पढ़ा रही हैं. उन्‍होंने कहा, 'इस साल मई में पंखे लगा दिए गए थे, लेकिन बिजली न होने के कारण इसका इस्‍तेमाल नहीं हो रहा है. बच्‍चों को जब ज्‍यादा गर्मी लगती है तो वे किताबों को ही पंखा बना लेते हैं. यहां तक की स्‍कूल में बेंच तक भी नहीं हैं.'

    समस्‍या को जल्‍द सुलझाने का दावा
    स्‍थानीय प्रशासन को जब इस बात की जानकारी दी गई तो स्‍कूल की समस्‍या को जल्‍द सुलझाने का दावा किया गया. मुरादाबाद (देहात) के ब्‍लॉक एजुकेशन अधिकारी (BEO) प्रेम गंगवार ने बताया कि स्‍कूल की समस्‍या उनके संज्ञान में आया है. उन्‍होंने इस बाबत SDO से एक बार फिर से बात करने की बात कही है. गंगवार ने भरोसा दिलाया कि इस समस्‍या को जल्‍द से जल्‍द सुलझा लिया जाएगा.

    ये भी पढ़ें:

    पिकप भवन अग्निकांड से नाराज CM योगी आदित्यनाथ, 48 घंटे में मांगी रिपोर्ट

    महिला डॉक्टर की संदिग्ध आत्महत्या का वायरल हुआ वीडियो

    आपके शहर से (मुरादाबाद)

    मुरादाबाद
    मुरादाबाद

    Tags: Government primary schools, Moradabad S24p06, UP education department, Uttar pradesh news

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर