होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /Moradabad: 'MY' ऐप से मुरादाबाद की हर समस्‍या का होगा समाधान, जानें एमडीए का पूरा प्‍लान

Moradabad: 'MY' ऐप से मुरादाबाद की हर समस्‍या का होगा समाधान, जानें एमडीए का पूरा प्‍लान

मुरादाबाद विकास प्राधिकरण कर रहा एप लॉन्च

मुरादाबाद विकास प्राधिकरण कर रहा एप लॉन्च

मुरादाबाद विकास प्राधिकरण 'MY' नाम से ऐप लॉन्‍च कर रहा है. इस ऐप की मदद से कॉलोनियों में जल निकासी और पेयजल समेत सभी दि ...अधिक पढ़ें

    रिपोर्ट: पीयूष शर्मा

    मुरादाबाद. यूपी का मुरादाबाद विकास प्राधिकरण प्रशासन अगले महीने एक ऐप लॉन्च कर रहा है. इस ऐप की मदद से किसी भी स्थान पर किए जा रहे अवैध निर्माण अथवा ग्रीन बेल्ट की भूमि पर कब्जे की शिकायत कोई भी व्यक्ति आसानी से कर सकेगा. इसमें शिकायतकर्ता का नाम और पता गोपनीय रखा जाएगा. इसके साथ ही एमडीए की कॉलोनियों में जल निकासी और पेयजल समेत किसी भी तरह की समस्या के समाधान इस ऐप के माध्यम से किया जा सकेगा.यही नहीं, इस ऐप से एमडीए की बिक्री योग्य जमीन और मकानों की जानकारी भी मिल सकेगी.

    बता दें कि मुरादाबाद शहर में आए दिन अवैध निर्माण की जानकारी होने पर उनके खिलाफ अभियान चलाया जाता है. कई मामलों में नागरिक इसकी शिकायत भी करते हैं, लेकिन उन शिकायतों पर त्वरित कार्रवाई नहीं हो पाती. इसके अलावा आम जन को एमडीए के आवंटन योग्य खाली पड़े प्लाटों पर मकानों की भी सटीक नहीं मिल पाती. इन सभी समस्याओं के लिए एनडीए द्वारा इस ऐप को लांच किया जा रहा है.

    ‘MY’ एमडीए नाम से हो रहा है ऐप लॉन्च
    मुरादाबाद विकास प्राधिकरण द्वारा माई (MY) एमडीए नाम का ऐप लॉन्च करने जा रहा है. इस ऐप पर शहर का कोई भी व्यक्ति अवैध निर्माण के फोटो आदि भेजकर इसकी शिकायत कर सकेगा. ऐप पर शिकायत प्राप्त होते ही वह शिकायत संबंधित क्षेत्र अथवा दूसरे क्षेत्र के जेई को जांच के लिए ट्रांसफर कर दी जाएगी. 24 घंटे में संबंधित क्षेत्र में जाकर जांच अधिकारी को अपनी जांच रिपोर्ट और कार्रवाई से अवगत कराना होगा. इस पूरी प्रक्रिया में शिकायतकर्ता का नाम गोपनीय रखा जाएगा.

    जीपीएस आधारित होगा ऐप
    मुरादाबाद विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष शैलेश कुमार ने न्यूज़ 18 लोकल को बताया कि मुरादाबाद विकास प्राधिकरण की तरफ से बहुत जल्दी ही माई (MY) एमडीए नाम से ऐप लॉन्‍च किया जा रहा है. इससे लोगों को काफी सुविधा होगी. इसके साथ ही एप जीपीएस आधारित होगा. लिहाजा शिकायत के साथ ही स्थान की लोकेशन आदि स्वतः ही एमडीए को प्राप्त हो जाएगी.

    Tags: Moradabad News, UP news

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें