होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /Moradabad News: यहां हर मौके पर लगाया जाता है एक पौधा, जानिए इसकी क्या है वजह?

Moradabad News: यहां हर मौके पर लगाया जाता है एक पौधा, जानिए इसकी क्या है वजह?

UP News: मुरादाबाद के रेलवे हरथला कॉलोनी स्थित केंद्रीय विद्यालय में हर मौके पर एक पौधा लगाया जाता है. इसके साथ ही विद् ...अधिक पढ़ें

  • Local18
  • Last Updated :

    रिपोर्ट:-पीयूष शर्मा

    मुरादाबाद: मौका खुशी का हो या गम का केंद्रीय विद्यालय में हर अवसर के मायने एक पौधा होता है. पिछले 5 वर्ष से अब तक करीब 5 हजार पौधे न सिर्फ लगाए गए हैं. बल्कि उनकी देखभाल भी ठीक प्रकार से की गई है. यही वजह है कि परिसर की हरियाली यहां आने वाले को पर्यावरण संरक्षण का संदेश देती है. केंद्रीय विद्यालय से बहुत सी खास बातें जुड़ी हुई हैं. विद्यालय में कोई भी व्यक्ति प्रवेश करता है तो प्रधानाचार्य उससे पौधा लगाने की अपील करते हैं. प्रधानाचार्य की इस पहल की जानकारी मिलते ही न्यूज 18 लोकल की टीम सिविल लाइन थाना क्षेत्र के रेलवे हरथला कॉलोनी स्तिथ केंद्रीय विद्यालय पहुंची. जहां प्रधानाचार्य ने पूरे विद्यालय में लगाए गए विभिन्न तरह के पौधों को दिखाया.

    केंद्रीय विद्यालय की बहुत सी खासियत है. यहां पर चाहे किसी विद्यार्थी, शिक्षक या कर्मचारी का जन्मदिन हो या फिर किसी के परिजन की पुण्यतिथी उसके बदले एक पौधा रोपकर उसका संरक्षण किया जाता है. इसके साथ ही विद्यालय परिसर में कार्यक्रम में बुलाए गए अतिथियों का स्वागत भी पौधा लगाकर किया जाता है. विद्यालय में एंट्री करते ही पेड़ पौधों की एक अलग ही खुशबू आने लगती है.विद्यालय परिसर में सुगंध वाटिका, मनोरम वाटिका/पुष्प वाटिका,पोषण वाटिका,विशिष्ट वाटिका,वृक्ष वाटिका,और फल वाटिका मौजूद हैं.

    प्रधानाचार्य ने शुरू की पहल

    विद्यालय के प्रधानाचार्य विजेश कुमार ने बताया. उनका शुरू से ही पेड़ पौधों से काफी गहरा लगाव रहा है. लेकिन 5 वर्ष पूर्व जब वह इस विद्यालय में आए थे. तभी उन्होंने इस जगह को विकसित करने के बारे में सोच लिया था.
    उन्होंने बताया कि हमारी जिम्मेदारी है कि विद्यालय प्रांगण को हरा भरा रखा जाए. वही से पौधारोपण शुरू कर दिया गया. हमारे यहां शिक्षक एवं शिक्षिकाएं स्थानांतरित होती रहती हैं. इसके साथ ही बच्चे आपस में झगड़ा कर लेते हैं. या शैतानियां करते हैं. तो हम उनसे पौधारोपण कराते हैं. शुरुआत हमने इसी पहल से की थी.

    अब तक लगा चुके है 5 हजार पौधे

    करीब 5 वर्षों में चार से 5 हजार पौधे लगा चुके हैं. जिसमें कदम, सागवान, नीम, पीपल, बरगद रुद्राक्ष और विशिष्ट तौर पर चंदन के भी पौधे लगाए हैं. यहां पर मनोरम वाटिका सुगंध वाटिका सहित कई प्रकार की वाटिकाओं को भी विकसित करने का प्रयास किया गया है. यह प्रक्रिया निरंतर जारी है.

    पौधारोपण की प्रक्रिया में सभी का योगदान

    प्रधानाचार्य ने बताया कि पौधारोपण की प्रक्रिया में बच्चों का अभिभावकों का मैनेजमेंट कमेटी का हमारे अध्यापकों का सभी का बहुत योगदान रहता है. इसमें विशेषकर योगदान हमारे दो मालियों दिनेश और विजय का रहता है. जो विद्यालय परिसर में लगे पेड़ पौधों की देखभाल करते है. पेड़ पौधे पठन-पाठन की प्रक्रिया को बहुत ही सुंदर बनाते हैं. इससे बच्चों का भी मन लगता है. इसी आशा के साथ हमने इस पहल को शुरू किया था और अब यह निरंतर चलती रहेगी.

    Tags: Moradabad News, UP news

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें