लाइव टीवी

मीडिया वालों के आपत्तिजनक पोस्टर लगा कर रहे हैं CAA का विरोध
Moradabad News in Hindi

News18Hindi
Updated: January 29, 2020, 8:29 PM IST
मीडिया वालों के आपत्तिजनक पोस्टर लगा कर रहे हैं CAA का विरोध
मुरादाबाद में ऐसे हुआ सीएए का विरोध

मुरादाबाद (Moradabad) की ईदगाह मैदान में सीएए के विरोध में चल रहे धरने प्रदर्शन में मीडिया के आने पर रोक लगा दी गयी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 29, 2020, 8:29 PM IST
  • Share this:
मुरादाबाद. देश भर में जहां नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ प्रदर्शन हो रहा है ऐसे में कुछ लोग ऐसे भी है जो मीडिया पर अपना गुस्सा निकाल रहे हैं. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुरादाबाद (Moradabad) की ईदगाह मैदान में सीएए के विरोध में चल रहे धरने प्रदर्शन में मीडिया के आने पर रोक लगा दी गयी है. यहां पत्रकारों के खिलाफ आपत्तिजनक पोस्टर लगा कर महिलाएं और पुरुष धरना दे रहे हैं.

प्रदर्शनकारियों ने लगाए 'मीडिया गो बैक' के नारे
बुधवार को जब कुछ मीडिया कर्मी ईद गाह मैदान में धरना स्थल पर कवरेज करने के लिए पहुंचे तो वहां मौजूद शरारती युवकों ने 'मीडिया गो बैक' के नारे लगाते हुए मीडिया कर्मियों के साथ बदसलूकी की और उन्हें कवरेज करने से रोक दिया गया. जो धरना सुबह शांतिपूर्ण तरीके से शुरू हुआ था शाम होते होते वहां उग्र भीड़ बढ़ गयी. अब हालात ऐसे हैं कि मीडिया के लिए आपत्तिजनक पोस्टर इन प्रदर्शनकारियों ने ईदगाह के गेट पर लगा दिए हैं और यहां आने वाले मीडिया कर्मियों से बदसलूकी कर रहे हैं.

लखनऊ के घंटाघर पर 13 दिन से चल रहा है आंदोलन

नागरिकता संशोधन कानून (CAA) को लेकर राजधानी लखनऊ (Lucknow) के घंटाघर में महिलाओं का प्रदर्शन (Protest) बुधवार को 13वें दिन भी जारी है. धरने पर बैठी महिलाओं को लगातार धर्मगुरूओं से लेकर कई सामाजिक संगठनों का समर्थन मिल रहा है.

फरंगी महली ने भी किया है समर्थन
बता दें कि घंटाघर पर सीएए के खिलाफ महिलाओं के प्रदर्शन में सोमवार को ईदगाह के इमाम और ऑल इंडिया पर्सनल लॉ बोर्ड के सदस्य मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली (Maulana Khalid Rashid Farangi Mahli) भी पहुंचे थे. उन्होंने सीएए और एनआरसी के खिलाफ प्रदर्शन कर रही महिलाओं का समर्थन किया था.फरंगी महली ने कहा कि सरकार को इस कानून को वापस लेना चाहिए और मैं इतनी बड़ी तादाद में हर मजहब की आईं बहनों का शुक्रिया अदा करता हूं कि आप लोगों की मेहनत की बदौलत ये प्रदर्शन जारी है. उन्‍होंने कहा कि इंशाअल्लाह सरकार इस कानून को जरूर वापस लेगी.
(फरीद शमसी की रिपोर्ट)

ये भी पढ़ें: 

अखिलेश यादव की BJP को नसीहत, धमकी देने की जगह 'राजधर्म' निभाए सरकार

बांदा में भीषण सड़क हादसा: ब्रेक फेल होने से बस पलटी, 40 यात्री घायल, 14 गंभीर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मुरादाबाद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 29, 2020, 8:29 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर