नाले में गिरे रिटायर्ड बैंक मैनेजर की दर्दनाक मौत, शव ढूंढने में लगे 2 घंटे

ETV UP/Uttarakhand
Updated: November 15, 2017, 8:51 AM IST
नाले में गिरे रिटायर्ड बैंक मैनेजर की दर्दनाक मौत, शव ढूंढने में लगे 2 घंटे
Muradabad: बुजुर्ग को 2 घंटे बाद निकाला जा सका
ETV UP/Uttarakhand
Updated: November 15, 2017, 8:51 AM IST
मुरादाबाद जिले में एक बुजुर्ग की गहरे नाले में गिरने से दर्दनाक मौत हो गई. नाले की गहराई अधिक थी, जिससे बुजुर्ग के शव को नाले से बाहर निकालने में 2 घंटे से अधिक समय लग गया. शव को नाले से बाहर निकालने के बाद पुलिस जिला अस्पताल ले गई, जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया.

यह दर्दनाक हादसा गलशहीद थाना क्षेत्र स्थित रोडवेज बस अड्डे पर हुआ. चश्मदीदों के मुताबिक बुजुर्ग व्यक्ति बस के इंतजार में रोडवेज बस अड्डे पर बैठा था और संतुलन बिगड़ने से पीछे बह रहे गहरे नाले में गिर गया. आनन-फानन में पुलिस और फायर बिग्रेड को बुजुर्ग के नाले में गिरने की सूचना दी गई.

रिपोर्ट के मुताबिक दमकलकर्मियों को बुजुर्ग के शव को गहरे नाले से बाहर निकालने में दो घंटे से अधिक समय लगे. बुजुर्ग की शिनाख्त मौके से बरामद एक बैग में मिले दस्तावेजों के आधार पर की गई. मुरादाबाद जिले के कांठ थाना क्षेत्र के सलेमपुर निवासी मृतक ख़ालिदुज्जमा प्रथमा बैंक के रिटायर्ड मैनजर बताए जाते हैं. पुलिस ने बुजुर्ग के परिजनों को सूचना भिजवा दी है.

गहरे नाले में गिरने से बुजुर्ग की मौत होने के बाद स्थानीय लोगों ने नगर निगम के खिलाफ आक्रोश व्यक्त किया और शहर में गहरे नालों के आस पास कोई सुरक्षा इंतजाम नहीं होने का हवाला देते हुए कहा कि शहर के ज्यादातर नालों के खुले हैं, जिससेपहले भी कई हादसे हो चुके हैं.
First published: November 15, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर