• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • Budget News: मुरादाबाद के पीतल कारोबारियों को वित्त मंत्री से काफी उम्मीदें, की ये मांग

Budget News: मुरादाबाद के पीतल कारोबारियों को वित्त मंत्री से काफी उम्मीदें, की ये मांग

मुरादाबाद के पीतल कारोबारियों को बजट से काफी उम्मीदें

मुरादाबाद के पीतल कारोबारियों को बजट से काफी उम्मीदें

Union Budget 2021: पीतल कारोबारियों ने सरकार से मांग की है कि वह पीतल पर जीएसटी 12% से घटाकर 5% कर दें ताकि पीतल के उत्पाद बनाने में इस्तेमाल होने वाले रॉ मटेरियल भी सस्ता हो जाएं.

  • Share this:

    मुरादाबाद. एक फरवरी को आ रहे बजट (Union Budget 2021) को लेकर मुरादाबाद (Moradabad) के पीतल कारोबारियों (Brass Traders) को सरकार से काफी उम्मीदें हैं. पीतल कारोबारियों का कहना है कि यह बजट व्यापारियों के हित के साथ-साथ ही देश के हित में भी होना चाहिए. मुरादाबाद में न्यूज़ 18 से बात करते हुए पीतल कारोबारियों ने सरकार से मांग की है कि वह पीतल पर जीएसटी 12% से घटाकर 5% कर दें ताकि पीतल के उत्पाद बनाने में इस्तेमाल होने वाले रॉ मटेरियल भी सस्ता हो जाएं. जिससे पीतल कारोबार में तेज़ी आये. इसके साथ ही व्यापारियों की मांग है कि वह पिछले 3 दशक से मुरादाबाद से मुंबई के लिए सीधी ट्रेन की मांग कर रहे हैं ताकि पीतल व्यापार के लिए व्यापारियों को मुरादाबाद आने में आसानी हो और यहां से पीतल के उत्पाद बाहर दूसरे राज्यों में भेजने में भी व्यापारियों को आसानी हो. लेकिन कई सांसदों के वादा करने के बाद भी मुरादाबाद से मुंबई के लिए सीधी ट्रेन नहीं चलाई गई है. उनकी मांग है कि सरकार मुरादाबाद से मुंबई के लिए आगरा होते हुए सीधी ट्रेन भी चलाएं.

    मुरादाबाद से हर साल आठ हजार करोड़ से ज़्यादा के पीतल, एलमुनियम और लोहे से बने उत्पाद का विदेश में निर्यात होता है. इस निर्यात से विदेशी मुद्रा भी अर्जित होती है. इसके साथ ही मुरादाबाद के बने पीतल व तांबे के बर्तन पूरे देश में सप्लाई होते हैं, लेकिन सरकार द्वारा पीतल से बने उत्पाद पर 18% जीएसटी लगने के बाद व्यापारियों को काफी नुकसान उठाना पड़ा था. जिसके विरोध के बाद सरकार ने 18% जीएसटी घटाकर 12% कर दी. उसके बाद भी अभी व्यापारी पीतल कारोबार के लिए 12% जीएसटी को नुकसानदेह मान रहे हैं. व्यपारियो की मांग है कि सरकार यह जीएसटी 12% घटाकर 5% कर दे ताकि पीतल के उत्पाद बनाने के लिए आने वाले रॉ मैटेरियल पर भी रेट कम हो जाए और फिर पीतल के तैयार माल पर भी खुद-ब-खुद रेट कम हो जाएंगे. जिससे पीतल के व्यापार में तेज़ी आयेगी.

    मुंबई के लिए डायरेक्ट ट्रैन की मांग 

    हर समय व्यापारियों से गुलजार रहने वाला मुरादाबाद का बर्तन बाजार लॉक डाउन की वजह से अभी पूरे शबाब पर नहीं आया है. देशभर के अलग-अलग राज्यों से मुरादाबाद आने वाले व्यापारी भी अब ऑनलाइन ही सैंपल मंगा कर उसके आर्डर कारोबारियों को दे रहे हैं. कारोबारियों का कहना है कि मुरादाबाद से मुंबई के लिए कोई सीधी ट्रेन न होने की वजह से भी व्यापार पर काफी असर पड़ रहा है, और वह पिछले तीन दशक से मुरादाबाद के सांसदों के माध्यम से सरकार से यह मांग करते आ रहे हैं कि मुरादाबाद से आगरा होते हुए देश के कई राज्यों को जोड़ती हुई मुंबई के लिए एक सीधी ट्रेन चला दें, जिससे मुरादाबाद के पीतल के बने बर्तनों के व्यापार को और कामयाबी मिले.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज