मुरादाबाद: गड्ढों से बेहाल शहर की शिकायतें सुन भड़के नगर विकास मंत्री, बोले...

मुरादाबाद में समीक्षा बैठक के दौरान यूपी के नगर विकास, शहरी समग्र विकास मंत्री आशुतोष टंडन

मुरादाबाद में समीक्षा बैठक के दौरान यूपी के नगर विकास, शहरी समग्र विकास मंत्री आशुतोष टंडन

Moradabad News: यूपी के नगर विकास मंत्री आशुतोष टंडन ने मंगलवार को मुरादाबाद नगर निगम की 22 करोड़ 36 लाख की 60 परियोजनाओं का लोकापर्ण और शिलान्यास किया. इस दौरान उन्होंने शहर में स्मार्ट सिटी प्रोजैक्ट की भी समीक्षा की.

  • Share this:
मुरादाबाद. उत्तर प्रदेश के नगर विकास, शहरी समग्र विकास नगरीय रोजगार एवं गरीबी उन्मूलन मंत्री आशुतोष टंडन (Ashutosh Tandon)  ने मंगलवार को सर्किट हाउस में मुरादाबाद नगर निगम और  मुरादाबाद स्मार्ट सिटी की समीक्षा बैठक की. इस दौरान आशुतोष टंडन ने नगर निगम की 22 करोड़ 36 लाख की 60 परियोजनाओं का लोकापर्ण और शिलान्यास किया. बैठक के बाद उन्होंने  मुरादाबाद स्मार्ट सिटी पीतल नगरी मुरादाबाद में कैरियर मित्र वेबसाइट/मोबाइल एप का लोकापर्ण किया.

इस दौरान उन्होंने नगर निगम को निर्देश दिए कि गर्मी का मौसम शुरू हो गया है इसलिए नगर निगम शहर में पेयजल व्यवस्था को दुरस्त करें. नाला सफाई व्यवस्थित कर ठीक प्रकार से महानगर में सफाई का कार्य सुनिश्चित करें. स्वच्छता पर विशेष ध्यान दें. उन्होंने कहा कि शहर में किसी भी स्थान पर जलभराव न हो, ऐसी जगहों को समय से ठीक कर लें. उन्होंने कहा कि शहर में चल रहीं अवैध डेयरी पर कार्रवाई करें. उन्होंने  नगर आयुक्त को निर्देश दिये कि मुरादाबाद आने वाले सभी रोड सुन्दर एवं स्वच्छ हो ताकि आने वालों को लगे कि हम एक सुन्दर शहर में प्रवेश कर रहे हैं. इस दौरान मंत्री ने नगर निगम मुरादाबाद की सीमा में स्थित  तालाबों का चिन्हाकंन कर जल-जीवन मिशन के अन्र्तगत तालाबों को संरक्षित एवं सुन्दर करने के निर्देश दिए.

कंपनी को ब्लैक लिस्ट करने के निर्देश

वहीं शहर में एलएण्डटी द्वारा सीवर लाइन खोदने के कारण सड़के खराब होने की शिकायत पर मंत्री ने महाप्रबन्धक जल से इस सम्बन्ध में जानकारी ली और कंपनी पर कार्य में लापरवाही एवं शिथिलता वरतने पर ब्लैक लिस्ट करने के निर्देश दिए. उन्होंने कहा कि एलएण्डटी खोदी गयी सड़कों को दुरस्त करना सुनिश्चित करे और शहर की अन्य सड़कों को नगर निगम गढ्डामुक्त कराए.
उन्होंने नगर निगम में स्वास्थ्य, राजस्व, लेखा, अभियंत्रण, जलकर, पथ प्रकाश विभागों आदि की समीक्षा कर अधिकारियों को अपने दायित्वों को ठीक प्रकार से निवर्हन कर कार्यो में गति देने के निर्देश दिए. बैठक में नगर आयुक्त श्री संजय चौहान ने बताया कि नगर निगम मुरादाबाद का अनुमानित क्षेत्रफल 85 वर्ग किलोमीटर है. जिसकी सफाई व्यवस्था हेतु निर्वाचित 70 वार्ड व 9 सफाई जोन में विभाजित किया गया है और कुल 2301 सफाई श्रमिकों द्वारा महानगर के नाले-नालियों, सड़कों आदि की साफ-सफाई की व्यवस्था का कार्य कराया जा रहा है.

पार्किंग सुधार कार्यक्रम पर दें विशेष ध्यान

महानगर की सफाई व्यवस्था के लिए 201 वाहन और डीटीडीसी कार्य में 54 वाहन लगे हुए हैं. सफाई श्रमिकों को शासनादेशानुसार भुगतान किया जा रहा है. सफाई श्रमिकों हेतु सुरक्षा उपकरण उपलब्ध कराये गये हैं तथा 233 खुले एवं 16 अण्डरग्राउंड नालों की सफाई कराई गई. जुलाई 2020 से अब तक कुल 7 लाख 73 हजार रुपये का समन शुल्क वसूला गया है. नगर निगम ओडीएफ में प्रमाणित हो चुका है और इस आशय का प्रमाण पत्र मिल गया है. आशुतोष टंडन ने स्मार्ट सिटी की समीक्षा करते हुए पार्किंग सुधार कार्यक्रम के तहत पार्को को विकसित एवं सुन्दर बनाने के निर्देश दिए.



बैठक में महापौर विनोद अग्रवाल, विधायक कांठ राजेश कुमार सिंह चुन्नू, सदस्य विधान परिषद डॉ जयपाल सिंह व्यस्त, खादी ग्रामोद्योग बोर्ड के उपाध्यक्ष गोपाल अंजान, जिला अध्यक्ष भाजपा राजपाल चैहान, महानगर अध्यक्ष भाजपा धर्मेन्द्र मिश्रा, अपर नगर आयुक्त अनिल कुमार सिंह, सहायक नगर आयुक्त दीपशिखा पाण्डे, गम्भीर सिंह, महाप्रबन्धक जल सुनील कुमार केसरी, वरिष्ठ नगर स्वास्थ्य अधिकारी रणधीर सिंह, लेखाधिकारी त्रिलोकनाथ मिश्र, मुख्य कर निर्धारण अधिकारी राकेश कुमार सोनकर, परियोजना अधिकारी डूडा दीपक कुमार एवं स्मार्ट सिटी से संबंधित अधिकारी उपस्थित थे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज