लाइव टीवी

तंग आकर गांव वालों ने स्कूल में बंद की गायें, बच्चों को बैठाया गेट से बाहर

News18 Uttar Pradesh
Updated: January 7, 2019, 6:24 PM IST

यूपी के अमरोहा में आवारा पशुओं से तंग आकर गांव वालों ने प्राथमिक स्कूल में गायों को बंद कर दिया. वहीं स्कूल में गायों को भरने के बाद प्राथमिक विद्यालय के बच्चों को बाहर बैठा दिया गया जिसके बाद गांव के प्राथमिक विद्यालय की पढ़ाई चौपट हो गई.

  • Share this:
यूपी के अमरोहा में आवारा पशुओं से तंग आकर गांव वालों ने प्राथमिक स्कूल में गायों को बंद कर दिया. वहीं स्कूल में गायों को भरने के बाद प्राथमिक विद्यालय के बच्चों को बाहर बैठा दिया गया जिसके बाद गांव के प्राथमिक विद्यालय की पढ़ाई चौपट हो गई. जानकारी मिलने के बाद प्रशासन ने पुलिस की मदद से स्कूल से गायों को बाहर निकालकर विद्यालय के पहले की तरह शुरू कराया और इस पूरे मामले में एसडीएम का कहना है कि बहुत जल्द इनकी समस्या का समाधान कराने के लिए अस्थाई गौशाला का निर्माण कराया जाएगा.

आपको बता दें कि अमरोहा जनपद के हसनपुर तहसील क्षेत्र के गांव अलीपुरा में अधर्मी गांव वालों ने दूध ना देने वाली गायों को अपने घर से खोलकर आवारा घूमने के लिए छोड़ दिया था. जिसके बाद यह सभी गाय, चारा चरने के लिए ग्रामीणों के खेतों में जाकर फसलों को खाने लगी, उससे उनकी फसलों को नुकसान होने लगा. गुस्साए गांव वालों ने इन सभी बेबस और लाचार गायों को गौशाला में भेजने के लिए काफी प्रयास किए, लेकिन प्रशासन ने इस ओर कोई ध्यान नहीं दिया.

नाराज गांव वालों ने सोमवार सुबह अलीपुर गांव के प्राथमिक स्कूल में इन सभी गायों को ले जाकर बंद कर दिया और स्कूल के बच्चों को गायों के अंदर जाने की वजह से बाहर बैठना पड़ा. जिसके कारण पूरी तरीके से पढ़ाई चौपट हो गई. जानकारी मिलने के बाद मौके पर विद्यालय के अध्यापक ग्राम प्रधान और इलाके के कुछ समाजसेवी पहुंचे, लेकिन गांव वालों ने इनकी एक ना सुनी.  प्रशासनिक अमले को जब इस पूरे मामले की जानकारी हुई तो उन्होंने इस पूरे मामले में पुलिस और प्रशासन के अधिकारियों को भेजकर स्कूल से गायों के बाहर निकलवाया. स्कूल के अंदर बच्चों को दोबारा बैठा कर पढ़ाई शुरू कराई गई लेकिन यह सब कराने में काफी देर हो चुकी थी और स्कूल का पूरा समय बर्बाद हो चुका था.

यूपी सरकार आरक्षण पर पिछड़ों को आपस में लड़ाना चाहती है: अनुप्रिया पटेल

स्कूल के 1 बच्चे ने बताया कि उन्हें बाहर निकाल दिया गया है. उन्हें खुद को नहीं पता क्यों न क्यों बाहर निकाला गया है, लेकिन स्कूल ना खुलने से उन्हें काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. गांव के प्रधान अनिल का कहना है कि इन सभी गांव वालों ने आज स्कूल में गाय को भरकर स्कूल बंद करा दिया है हम सभी काफी परेशान है लेकिन यह लोग सुनने को तैयार नहीं हैं उनकी मांग है कि गांव की आवारा गायों को गौशाला में भेज दिया जाए और गांव या उसके आसपास में गौशाला का निर्माण कराया जाए.

आवारा कुत्तों ने नोच-नोच कर मार डाला चार साल का मासूम

हसनपुर के उप जिलाधिकारी त्रिपाठी का कहना है कि गांव के स्कूल में जानवरों के भरने की जानकारी हुई थी हमने स्कूल में से गायों को बाहर निकलवा दिया है और स्कूल शुरू करा दिया है इस पूरे मामले में बहुत जल्द गौशाला का निर्माण करा कर पशुओं को वहां पर रखा जाएगा.
Loading...

(संजय कुमार की रिपोर्ट)

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मुरादाबाद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 7, 2019, 6:24 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...