CM Yogi ने क्यों कहा, 'ट्रैफिक पुलिस जांच के नाम पर आतंक न फैलाए’

हिंदू महासभा के पूर्व अध्यक्ष कमलेश तिवारी की हत्या यूपी पुलिस ही नहीं देश के दूसरे राज्यों की पुलिस के लिए भी अलार्मिंग है.
हिंदू महासभा के पूर्व अध्यक्ष कमलेश तिवारी की हत्या यूपी पुलिस ही नहीं देश के दूसरे राज्यों की पुलिस के लिए भी अलार्मिंग है.

सीएम योगी (CM Yogi Adityanath) ने कहा कि स्कूली (School) स्तर से ही बच्चों को यातायात नियमों (Traffic Rule) के लिए जागरूक किया जाए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 16, 2019, 1:57 PM IST
  • Share this:
लखनऊ. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) का कहना है कि शराब पीकर ड्राइविंग (Drunk Driving) करने वालों के लाइसेंस (Licence) और वाहन (Vehicle) दोनों जब्त किए जाएं. थोड़ी सी जागरुकता और सख्ती से ही सड़क हादसे रोके जा सकते हैं. ट्रैफिक पुलिस (Traffic Police) सिर्फ चालान (Challan) काटने को अपना लक्ष्य न बनाए बल्कि वाहन चालकों को जागरूक भी करे. साथ ही ट्रैफिक पुलिस जांच के नाम पर चौराहों पर आतंक न फैलाएं. सीएम योगी बुधवार को यहां अपने आवास पर सड़क सुरक्षा के प्रति जागरूक करने के लिए आयोजित रैली को संबोधित कर रहे थे.

शराब पीकर ड्राइविंग की तो लाइसेंस-वाहन दोनों होंगे जब्त

सीएम योगी ने कहा शराब पीकर ड्राइविंग करने वालों के लाइसेंस और वाहन दोनों जब्त किए जाएं. जब तक सख्त कार्रवाई नहीं होगी ऐसे लोग नहीं सुधरेंगे. साथ ही उन्होंने कहा कि पाठ्यक्रम में यातायात शिक्षा शामिल होनी चाहिए. यह जिम्मेदारी शिक्षा विभाग की है. स्वास्थ्य विभाग की भी जिम्मेदारी है कि घायलों को अच्छा इलाज मिले और समय पर एंबुलेंस की उपलब्धता रहे. नए ट्रॉमा सेंटर्स की स्थापना भी होनी चाहिए.



कोशिश कामयाब हो रही हैं-सीएम योगी
रैली को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि परिवहन विभाग के प्रयास सार्थक रहे हैं. रोड एक्सीडेंट में कमी आ रही है. एक्सीडेंट के शिकार लोगों को समय पर इलाज मिल रहा है. रिजल्ट भी अच्छे आ रहे हैं. लेकिन अभी भी बहुत कुछ करना बाकी है. दूसरा ये कि आमजन की सहभागिता के बिना इस प्रकार के कार्यक्रम सफल नहीं हो सकते. गौरतलब रहे कि इस रैली में 25 ट्रैफिक पुलिस बाइकर्स, 10 विंटेज कार, 100 बाइकर्स, 100 एनसीसी के कैडेट्स, विभिन्न स्कूलों के 700 छात्र-छात्राओं ने हिस्सा लिया

ये भी पढ़ें-

सीएम योगी का दीवाली तोहफा, देश में बनने वाली तोप पर यूपी के इस जिले का लिखा जाएगा नाम

Ayodhya Case: सुन्नी वक्फ बोर्ड के हटने से क्या असर पड़ेगा, जानिए क्या है इसका कानूनी पेंच
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज