Home /News /uttar-pradesh /

आजम खान के बाद मुख्‍तार अंसारी का बेटा अब्‍बास भी उतरेगा चुनावी मैदान में! जानें क्‍या बोले राजभर

आजम खान के बाद मुख्‍तार अंसारी का बेटा अब्‍बास भी उतरेगा चुनावी मैदान में! जानें क्‍या बोले राजभर

मुख्‍तार अंसारी के बेटे अब्‍बास (दाएं) के साथ सुभासपा प्रमुख ओमप्रकाश राजभर की फाइल फोटो (साभार- फेसबुक पेज)

मुख्‍तार अंसारी के बेटे अब्‍बास (दाएं) के साथ सुभासपा प्रमुख ओमप्रकाश राजभर की फाइल फोटो (साभार- फेसबुक पेज)

मुख्तार अंसारी (Mukhtar Ansari) के बेटे अब्बास अंसारी (Abbas Ansari) भी अब सियासत में कदम रखने की तैयारी में हैं. खबर है कि अब्बास ओमप्रकाश राजभर की सुभासपा के टिकट पर चुनाव लड़ सकते हैं. ओम प्रकाश राजभर (Om Prakash Rajbhar) से NEWS18 ने जब इस बात सवाल किया तो उन्होंने कहा, 'जब राजनाथ सिंह के बेटे चुनाव लड़े सकते हैं तो मुख्तार के क्यों नहीं.'

अधिक पढ़ें ...

लखनऊ. जेल में बंद बाहुबली नेता मुख्तार अंसारी (Mukhtar Ansari) के बेटे अब्बास अंसारी (Abbas Ansari) भी अब सियासत में कदम रखने की तैयारी में हैं. खबर है कि अब्बास ओमप्रकाश राजभर की सुभासपा के टिकट पर चुनाव लड़ सकते हैं. ओम प्रकाश राजभर (Om Prakash Rajbhar) से NEWS18 ने जब इस बात सवाल किया तो उन्होंने कहा, ‘जब राजनाथ सिंह के बेटे चुनाव लड़े सकते हैं तो मुख्तार के क्यों नहीं. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि बीजेपी के 106 से नेताओं पर ज्यादा आपराधिक मुकदमें है. बीजेपी नैतिकता की बात ना करें.

मुख्तार अंसारी के सबसे बड़े बेटे अब्बास की उम्र करीब 29 साल है और पिछले कुछ वर्षों से राजनीति में भी सक्रिय रहे हैं. अब्बास शूटिंग चैंपियन भी रह चुके हैं और अंतरराष्ट्रीय शूटिंग प्रतियोगिता में कई मेडल भी अपने नाम किए हैं. हालांकि पिता के जेल जाने के बाद उन्होंने राजनीति में कदम रखा और बहुजन समाज पार्टी में शामिल हो गए. हालांकि पिछले दिनों एक सार्वजनिक कार्यक्रम में उन्हें राजभर के साथ देखा गया था, जिसके बाद से ही उनके चुनाव लड़ने की अटकलें तैरने लगी थी.

ये भी पढ़ें- आरपीएन सिंह के कांग्रेस छोड़ने से कैसे बढ़ गई स्वामी प्रसाद मौर्य की टेंशन, BJP का ऐसा है प्लान!

मऊ में मुख्तार का दबदबा
अंसारी परिवार का मऊ और आसपास की राजनीति में खासा दबदबा रहा है. मुख्तार अंसारी यहां मऊ सदर सीट से पिछले 5 बार से लगातार विधायक चुने जाते रहे हैं. फिलहाल वह बांदा जेल में बंद हैं. हालांकि अटकलें थी कि मऊ से इस बार भी मुख्तार के चुनाव लड़ने की अटकलें थी. खबर थी कि अगर मुख्तार मऊ से चुनाव लड़ते हैं तो सपा और सुभासपा उनके खिलाफ अपना कैंडिडेट खड़ा नहीं करेगी. हालांकि अब माना जा रहा है कि मुख्तार अपनी राजनीतिक विरासत अपने बड़े बेटे अब्बास को सौंपने की तैयारी में है और ऐसे में वह सुभासपा की टिकट पर मऊ सदर से चुनाव लड़ सकते हैं.

Tags: Mukhtar ansari, Uttar Pradesh Assembly Elections, Uttar Pradesh Elections

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर