लाइव टीवी

अनोखा केस: बेटी ने मां-बाप के खिलाफ दर्ज कराया तीन तलाक का मुकदमा

News18Hindi
Updated: September 30, 2019, 8:41 AM IST
अनोखा केस: बेटी ने मां-बाप के खिलाफ दर्ज कराया तीन तलाक का मुकदमा
तीन तलाक का यह अनोखा केस मेरठ के नौचंदी पुलिस थाने में दर्ज हुआ है. (प्रतीकात्‍मक फोटो)

यूपी (UP) के मेरठ (Meerut) में तीन तलाक का एक अनोखा केस सामने आया है. महिला ने तीन तलाक के मामले में मां-बाप के खिलाफ मामला दर्ज कराया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 30, 2019, 8:41 AM IST
  • Share this:
मेरठ. अभी तक आपने पत्नी द्वारा पति पर तीन तलाक (Triple Talaq) का केस दर्ज कराए जाने के दर्जनों केस के बारे में सुना होगा. लेकिन, यूपी (UP) के मेरठ (Meerut) में तीन तलाक का एक अनोखा केस सामने आया है. पुलिस थाने (Police Station) में एक युवती ने तीन तलाक का केस दर्ज कराया है, लेकिन यह केस पति के खिलाफ नहीं बल्कि मां-बाप के खिलाफ दर्ज कराया गया है. इसमें तीन तलाक कराने वाली पंचायत में शामिल हुए लोगों के नाम भी हैं. मां-बाप पर धोखे से तीन तलाक कराने और लाखों रुपये हड़पने का आरोप लगाया गया है. पुलिस (Police) ने मां-बाप के खिलाफ केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.

जानकारी के मुताबिक, पांच साल पहले मेरठ निवासी युवती की शादी मेरठ के ही सरफराज से हुई थी. उसके दो बच्चे भी हैं, लेकिन अब महिला ने नौचंदी पुलिस थाने में अपने ही मां-बाप के खिलाफ तीन तलाक का केस दर्ज कराया है. महिला का आरोप है कि पति से थोड़ी सी कहासुनी के बाद वह मायके आ गई थी, लेकिन मां-बाप ने धोखे से उससे दस्‍तावेज पर साइन करा लिए. इसमें तीन अलग-अलग तारीखों में तलाक देने का जिक्र किया गया है.

पीड़ि‍ता बोली- पिता देने लगे धमकी

मां-बाप के खिलाफ तीन तलाक का केस दर्ज कराने वाली महिला का आरोप है कि जब उसे जानकारी हुई की धोखे से उसका तीन तलाक करा दिया गया है तो उसने इसका विरोध करना शुरू कर दिया. ससुराल जाने की बात कही, लेकिन इतना सुनते ही उसके पिता ने धमकी दी कि अगर वह ससुराल गई तो वह उनकी मां को तलाक दे देंगे और उन्‍हें भी घर से निकाल दिया जाएगा.

युवती का आरोप- मां-बाप को मिले 21 लाख रुपये

थाने में केस दर्ज कराने वाली महिला का कहना है कि उसका तलाक कराए जाने की साजिश में उसकी मां भी शामिल है. उसके मां-बाप ने उसके ससुराल वालों से तीन तलाक के बाद 21 लाख रुपये लिए हैं. रुपये हाथ में आते ही उसे घर से निकाल दिया गया.

तलाक की गवाह बनी पंचायत के खिलाफ भी मुकदमा
Loading...

पीड़िता ने पंचायत के उन सदस्यों को भी आरोपी बनाया है, जिन्होंने एक राय होकर उसका तीन तलाक कराया. इस संबंध में एसएचओ तपेश्वर सागर का कहना है कि युवती ने अपने मां-बाप और अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है. केस दर्ज कराने के बाद अब जांच की जा रही है. युवती ने मारपीट किए जाने का आरोप भी लगाया है.

ये भी पढ़ें- 

Modi Government Plan: ग्रेजुएट होंगी, तो शादी के ल‍िये सरकार देगी 50,000 रुपये

कभी घी के डिब्बे में पिस्टल तो कभी सीएनजी के सिलेंडर में हथियारों का जखीरा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मेरठ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 30, 2019, 8:10 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...