Home /News /uttar-pradesh /

UP में BJP को एक और झटका, अब अवतार सिंह भड़ाना हुए अलग, थामा रालोद का हाथ

UP में BJP को एक और झटका, अब अवतार सिंह भड़ाना हुए अलग, थामा रालोद का हाथ

भाजपा छोड़ रालोद में शामिल हुए अवतार सिंह भड़ाना

भाजपा छोड़ रालोद में शामिल हुए अवतार सिंह भड़ाना

Avtar Singh Bhadana Joins RLD: स्वामी प्रसाद मौर्य (Swami Prasad Maurya News) के इस्तीफे के बाद भाजपा (BJP News) को एक और बड़ा झटका लगा है. भारतीय जनता पार्टी के एक और सीनियर नेता और मौजूदा विधायक ने पार्टी छोड़ दी है. पूर्व सांसद व वरिष्ठ नेता अवतार सिंह भड़ाना (Avtar Singh Bhadana) जयंत चौधरी की पार्टी राष्ट्रीय लोकदल यानी रालोद में शामिल हो गए हैं.

अधिक पढ़ें ...

लखनऊ: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव (UP Election) से पहले भारतीय जनता पार्टी को झटका लगने का सिलसिला जारी है. स्वामी प्रसाद मौर्य (Swami Prasad Maurya News) के इस्तीफे के बाद भाजपा (BJP News) को एक और बड़ा झटका लगा है. भारतीय जनता पार्टी के एक और सीनियर नेता और मौजूदा विधायक ने पार्टी छोड़ दी है. पूर्व सांसद व वरिष्ठ नेता अवतार सिंह भड़ाना (Avtar Singh Bhadana) जयंत चौधरी की पार्टी राष्ट्रीय लोकदल यानी रालोद में शामिल हो गए हैं.

खुद रालोद के मुखिया जयंत चौधरी (Jayant Chaudhary) ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है. बुधवार सुबह रालोद मुखिया जयंत चौधरी ने अवतार सिंह भड़ाना (Avtar Singh Bhadana News) का पार्टी में स्वागत किया. अवतार सिंह भड़ाना मुजफ्फरनगर के मीरपुर से विधायक हैं. 2017 में वह भाजपा के टिकट पर ही चुनाव लड़े थे और विधायक बने थे. मगर 2019 के लोकसभा चुनाव में वह कांग्रेस के टिकट पर लोकसभा चुनाव लड़े थे, जिसमें उन्हें हार मिली थी. हालांकि, उन्होंने विधानसभा से इस्तीफा नहीं दिया था और न ही उनकी सदस्यता रद्द की गई थी.

इस वजह से अवतार सिंह भड़ाना को भाजपा का ही विधायक गिना जाता रहा है. बताया जा रहा है कि 2019 लोकसभा चुनाव के बाद से ही वह पार्टी छोड़ने की तैयारी कर रहे थे. सूत्र यह भी बता रहे हैं कि इस बार विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ने वाले थे, मगर अब यह तय हो गया है कि वह रालोद से ही अपनी किस्मत आजमाएंगे.

अमित सिंह भड़ाना फरीदाबाद से लोकसभा सांसद भी रह चुके हैं. वह रालोद से पहले भाजपा और कांग्रेस में भी रह चुके हैं. वह चार बार सांसद रह चुके हैं और मेरठ से भी वह चुनाव जीत चुके हैं. बता दें कि भाजपा में स्वामी प्रसाद के इस्तीफे के बाद तीन अन्य विधायकों ने कल पार्टी छोड़ी थी. इसके बाद से ही भाजपा डैमेज कंट्रोल में जुटी हुई है.

Tags: Assembly elections, UP chunav

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर