Home /News /uttar-pradesh /

UP Chunav 2022: चुनाव संहिता-कोविड प्रोटोकॉल तोड़ने के आरोप में BJP MLA समेत 27 समर्थकों पर FIR

UP Chunav 2022: चुनाव संहिता-कोविड प्रोटोकॉल तोड़ने के आरोप में BJP MLA समेत 27 समर्थकों पर FIR

चुनाव आचार संहिता और कोविड प्रोटोकॉल तोड़ने पर भाजपा विधायक के खिलाफ मामला दर्ज. (सांकेतिक फोटो)

चुनाव आचार संहिता और कोविड प्रोटोकॉल तोड़ने पर भाजपा विधायक के खिलाफ मामला दर्ज. (सांकेतिक फोटो)

Uttar Pradesh Assembly Elections: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के पहले चरण की नामांकन प्रक्रिया चल रही है. वहीं, चुनाव आचार संहिता के साथ कोविड प्रोटोकॉल को लेकर खासी सख्‍ती बरती जा रही है. इस बीच मुजफ्फरनगर की पुरकाजी विधानसभा सीट से भारतीय जनता पार्टी के विधायक प्रमोद उतवल (BJP MLA Pramod Utwal) और उनके 27 समर्थकों के खिलाफ चुनाव आचार संहिता और कोविड संबंधी नियमों का उल्लंघन करने का मामला दर्ज किया गया है. पुलिस ने यह कार्रवाई सोशल मीडिया पर वायरल हुए वीडियो के सामने आने के बाद की है.

अधिक पढ़ें ...

मुजफ्फरनगर. उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों (UP Elections 2022) का ऐलान हो चुका है और यह सात चरण में पूरे होंगे. वहीं, इस वक्‍त राज्‍य में चुनाव आचार संहिता (Election Code of Conduct) के साथ कोविड प्रोटोकॉल को लेकर खासी सख्‍ती बरती जा रही है. इस बीच उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर की पुरकाजी विधानसभा सीट से भारतीय जनता पार्टी के विधायक प्रमोद उतवल (BJP MLA Pramod Utwal) और उनके 27 समर्थकों के खिलाफ चुनाव आचार संहिता और कोविड संबंधी नियमों का उल्लंघन करने का मामला दर्ज किया गया है. पुलिस अधिकारियों ने रविवार को यह जानकारी दी.

पुलिस में दर्ज प्राथमिकी के मुताबिक, यह कार्रवाई सोशल मीडिया पर एक वीडियो सामने आने के बाद की गई जिसमें मेघना चंदन गांव में कथित तौर पर उनकी जनसभा के दौरान ‘खिचड़ी’ वितरण होता दिख रहा है. इस बाबत पुरकाजी पुलिस थाने के उप-निरीक्षक लोकेश सिंह ने कहा कि विधायक और उनके समर्थकों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता (भादंसं), आपदा प्रबंधन अधिनियम और महामारी रोग अधिनियम की संबंधित धाराओं के तहत शनिवार शाम को मामला दर्ज किया गया है.

10 मार्च को होगी मतगणना
उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव 10 फरवरी से 7 मार्च के बीच सात चरणों में होंगे. वहीं, मतों की गिनती 10 मार्च को होगी. जबकि निर्वाचन आयोग ने चुनाव प्रचार के डिजिटल और ऑनलाइन तरीकों पर जोर देते हुए पांच राज्यों में चुनावों की घोषणा करते हुए कोविड चिंताओं के मद्देनजर भौतिक रैलियों और रोड शो पर 22 जनवरी तक प्रतिबंध लगा रखा है. हालांकि शनिवार को राजनीतिक दलों को थोड़ी राहत देते हुए चुनाव आयोग ने इनडोर सभाओं वाली जगहों पर अधिकतम 300 या कुल क्षमता के 50 फीसदी लोगों के साथ मीटिंग आयोजित करने की अनुमति दे दी है. इस दौरान कोविड प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन करने के साथ आदर्श चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन नहीं करने की हिदायत दी गयी है.

इससे पहले 8 जनवरी को चुनाव आयोग ने अपनी 16 सूत्रीय गाइडलाइन के तहत सार्वजनिक रोड और गोल चक्कर पर नुक्कड़ सभा पर प्रतिबंध लगा दिया गया था. इसके साथ घर-घर जाकर प्रचार करने के लिए लोगों की संख्या पांच सीमित (प्रत्याशी समेत) दी थी. वहीं, मतगणना के बाद विजय जुलूसों पर रोक लगाने का ऐलान किया था.

Tags: CM Yogi Adityanath, Covid Protocol, Uttar Pradesh Assembly Elections, Uttar Pradesh Elections

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर