मुस्लिमों के खिलाफ भड़काऊ भाषण देने के मामले में साध्वी प्राची पर केस दर्ज

समुदाय विशेष के खिलाफ खुले मंच से भड़काऊ भाषण देना साध्वी प्राची को भारी पड़ गया. साध्वी पर भावनाए भड़काने, दो समुदायों के बीच नफरत फैलाने और सामूहिक रूप से शांति भंग करने की धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है.

News18 Uttar Pradesh
Updated: July 27, 2019, 11:08 PM IST
मुस्लिमों के खिलाफ भड़काऊ भाषण देने के मामले में साध्वी प्राची पर केस दर्ज
मुस्लिमों के खिलाफ भड़काऊ भाषण देने के मामले में साध्वी प्राची पर केस दर्ज. (फाइल फोटो)
News18 Uttar Pradesh
Updated: July 27, 2019, 11:08 PM IST
विहिप नेता साध्वी प्राची पर बागपत की दोघट पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है. समुदाय विशेष के खिलाफ खुले मंच से भड़काऊ भाषण देना साध्वी प्राची को भारी पड़ गया. उनके विवादित भाषण के आधार पर पुलिस ने उन पर मुकदमा दर्ज किया है. साध्वी पर भावनाए भड़काने, दो समुदायों के बीच नफरत फैलाने और सामूहिक रूप से शांति भंग करने की धाराओं में मुकदमा किया गया है. साध्वी पर धारा 153, 153A, 504 और 188 की धारा में मुकदमा दर्ज किया गया है.

बागपत के दाहा क्षेत्र के एक कांवड़ शिविर में पहुंचीं साध्वी प्राची आर्या ने कैराना से समाजवादी पार्टी के विधायक नाहिद हसन के बयान पर पलटवार करते हुए कहा था कि, “देश में रहना है तो इंसानियत से रहें. आंखें दिखाईं तो बर्दाश्त नहीं करेंगे. कांवड़िए अपने एक हाथ में माला तो दूसरे हाथ में भाला लेकर चलें. अगर कोई आपको आंखें दिखाए तो उठा लो भाला. कांवड़िए, मुस्लिमों द्वारा बनाई जाने वाली कांवड़ न खरीदें और रक्षाबंधन पर मुस्लिमों द्वारा बनाई गई राखी न खरीदें.”

विवादित बयान के वीडियो की जांच के बाद दर्ज किया गया मुकदमा
इसके साथ ही साध्वी प्राची ने हरिद्वार से कावड़ बनाने वाले मुस्लिमों को बाहर निकालने की अपील भी कर दी. साध्वी प्राची ने कहा कि हरिद्वार में जो मुसलमान कांवड़ बनाते हैं उन्हें वहां से बाहर निकाला जाए. बीते तीन दिन पहले साध्वी के दिए इस विवादित बयान के वीडियो की पुलिस ने जांच की. जांच के बाद पुलिस ने उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है. सीओ बड़ौत आरएन कुशवाहा ने कहा कि मामले की जांच के बाद साध्वी की गिरफ्तारी की जा सकती है.

इससे पहले सपा विधायक ने दिया था ये बयान
बता दें, सपा विधायक ने कैराना के लोगों से बीजेपी समर्थक दुकानदारों से सामान न खरीदने की अपील की थी. कैराना की जनता से अपील करते हुए विधायक ने इसका वीडियो भी वायरल किया था. विधायक का मानना है कि अधिकारी और बीजेपी समर्थक व्यापारी कैराना के लोगों का नुकसान कर रहे हैं. इसके साथ ही विधायक ने शामली के प्रशासनिक अधिकारियों को भी बीजेपी माइंडेड बताया था.

रिपोर्ट - शहजाद राव  
Loading...

ये भी पढ़ें - 
First published: July 27, 2019, 10:53 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...