लाइव टीवी

दूसरी सर्जिकल स्ट्राइक? राजनाथ सिंह ने कहा, 2-3 दिन पहले सीमा पार कुछ ठीक-ठाक हुआ है

binesh | News18 Uttar Pradesh
Updated: September 29, 2018, 9:59 AM IST

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए राजनाथ सिंह 2016 में 28 सितंबर को भारत द्वारा किए गए सर्जिकल स्ट्राइक को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की दृढ इच्छाशक्ति का परिचायक बताया.

  • Share this:
पिछले दिनों बीएसएफ जवान नरेंद्र शर्मा के साथ हुई बर्बरता का बदला पाकिस्तान से ले लिया गया है. इसका इशारा शुक्रवार को गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने दिया. शहीद भगत सिंह की जयंती पर मुजफ्फरनगर के तीर्थनगरी शुक्रताल पहुंचे राजनाथ सिंह ने कहा कि दो-तीन दिन पहले भारत ने सीमा पार कुछ ठीक-ठाक और बड़ा किया है. हालांकि, उन्होंने इससे आगे और कुछ भी कहने से इनकार कर दिया.

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए राजनाथ सिंह 2016 में 29 सितंबर को भारत द्वारा किए गए सर्जिकल स्ट्राइक को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की दृढ इच्छाशक्ति का परिचायक बताया. उन्होंने कहा कि पीएम मोदी की दृढ इच्छाशक्ति की वजह से भारतीय सेना ने करिश्मा कर दिखाया.पाकिस्तान की धरती पर उनका सफाया करने में हमारे जवानों ने कामयाबी हासिल की. जिसे सर्जिकल स्ट्राइक कहते हैं.

उन्होंने कहा, "लेकिन फिर भी पाकिस्तान अपनी नापाक हरकतों से बाज नही आ रहा है. हमारे बीएसफ जवान के साथ बदतमीजी हुई थी. जवाब में दो दिनों पहले भी हमारी तरफ से ठीक-ठाक हुआ. मैने बीएसएफ के अपने जवानों को कहा हैं कि पड़ोसी हैं, पहली गोली मत चलाना और अगर उधर से एक गोली भी चले तो फिर अपनी गोली मत गिनना."

राजनाथ सिंह के इस इशारे के बाद डीजी बीएसएफ केके शर्मा ने भी शुक्रवार शाम को कहा कि बैट की बर्बरता का बदला ले लिया गया है. इसमें पाक को भारी नुकसान पहुंचा है. उन्होंने कहा कि पाक सेना व रेंजर्स के खिलाफ जल्द ही और कार्रवाई की जा सकती है. उन्होंने कहा कि जवान के साथ बर्बरता के बाद पाक रेंजर्स जवाबी कार्रवाई के डर से अपनी सीमा के पांच किमी का इलाका खाली कर दिया था. इसी वजह से जवाबी कार्रवाई तुरंत नहीं की गई.

वहीं, इंडो-चाईना बॉडर पर चीन को चेताते हुए राजनाथ सिंह ने कहा कि मेने जवानों से पूछा कि बॉडर पर क्या होता है? उन्होंने बताया कि उधर से लोग आते हैं ओर फेस अप होता है. वो लोग भी हथियार नही निकालते है और हम लोग भी हथियार नहीं निकालते. फिर एक दूसरे को धक्का मुक्की करते हैं और फिर वो वापस चले जाते हैं. आप कल्पना करिए कि ये वो ही चीन है, जिसने भारत के ऊपर हमला किया था. आज भारत चाईना के बॉडर पर सिर्फ धक्का मुक्की होती है ओर एक दूसरे को थैंक्यू बोलकर चले जाते है. इसका मतलब ये होता है कि भारत अब एक कमजोर देश नही रहा है. बल्कि अब भारत भी दुनिया का एक ताकतवर देश बन गया है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मुजफ्फरनगर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 29, 2018, 9:06 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...