लाइव टीवी

प्रदूषण फैलाने को लेकर उद्योगों और किसानों पर 2 लाख रुपए का जुर्माना

भाषा
Updated: November 17, 2019, 11:42 PM IST
प्रदूषण फैलाने को लेकर उद्योगों और किसानों पर 2 लाख रुपए का जुर्माना
स्थानीय प्रशासन ने प्रदूषण फैलाने पर उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर और शामली जिले तथा हरियाणा के जिंद जिले में कार्रवाई की है. (प्रतीकात्मक चित्र)

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुजफ्फरनगर (Muzaffarnagar) और शामली (Shamli) जिलों में प्रदूषण के खिलाफ अभियान चलाकर उद्योगों पर जुर्माना लगाया गया तो हरियाणा (Haryana) के जिंद (Jind) जिले में पराली जलाने पर दो किसानों पर केस दर्ज किया गया है.

  • भाषा
  • Last Updated: November 17, 2019, 11:42 PM IST
  • Share this:
मुजफ्फरनगर/ जिंद (हरियाणा). प्रदूषण (Pollution) को लेकर बढ़ती चिंता के बीच उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुजफ्फरनगर (Muzaffarnagar) और शामली (Shamli) जिलों में प्रदूषण के खिलाफ अभियान चलाया गया. दूसरी तरफ हरियाणा (Haryana) के जिंद (Jind) जिले में आदेश का उल्लंघन कर पराली जलाने को लेकर जिला प्रशासन ने दो किसानों के खिलाफ मामला दर्ज किया है.

मुजफ्फरनगर और शामली जिलों के प्रशासन ने प्रदूषण फैलाने वाले उद्योगों और फसल अवशेष जलाने वाले किसानों के खिलाफ अभियान चलाकर उन पर जुर्माना लगाया. इन पर कुल मिलाकर 2 लाख रुपए से अधिक का जुर्माना लगाया गया है. अधिकारियों ने रविवार को यह जानकारी दी.

चीनी मिल, इस्पात कारखाना और एग्रो इंडस्ट्रीज पर डीएम ने लगाया जुर्माना
शामली जिलाधिकारी अखिलेश ने कहा कि शनिवार को निरीक्षण के दौरान प्रशासन ने प्रदूषण फैलाने को लेकर चीनी मिल पर 6,000 रुपये, इस्पात कारखाने पर 7,500 रुपये तथा जे एस जैन एग्रो इंडस्ट्रीज पर 87,500 रुपये का जुर्माना लगाया गया.

35 किसानों पर लगाया गया 2,500-2,500 रुपए का जुर्माना
अखिलेश ने रविवार को यहां संवाददाताओं को बताया कि खेतों में फसल के अवशेष जलाने पर 35 किसानों पर भी 2,500-2,500 रुपए का जुर्माना लगाया गया. इसके अलावा पड़ोसी जिला मुजफ्फरनगर में भी प्लास्टिक जलाने को लेकर एक विनिर्माण इकाई पर 50,000 रुपए का जुर्माना लगाया गया और 12 इकाइयों को नोटिस जारी किए गए. अधिकारियों के अनुसार प्रदूषण फैलाने वालों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

पराली जलाने पर दो किसानों के खिलाफ मामला दर्ज
Loading...

हरियाणा के जिंद जिले में आदेश का उल्लंघन कर पराली जलाने को लेकर जिला प्रशासन ने दो किसानों के खिलाफ मामला दर्ज किया है. कृषि विभाग के मेजर सिंह ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि प्रदूषण स्तर को देखते हुए जिलाधिकारी ने पराली जलाने पर प्रतिबंध लगाया हुआ है. बावजूद इसके शामदो गांव निवासी सुरेंद्र ने सात कनाल पराली जलाई.

किसान ने जलाई 16 कनाल पराली
वहीं कृषि विभाग के हेमंत ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि गांव बराड़ खेड़ा निवासी गुगन राम ने आदेशों की अवहेलना कर 16 कनाल पराली जला डाला. संबंधित थाना पुलिस ने कृषि विभाग के अधिकारियों की शिकायत पर दोनों किसानों के खिलाफ आदेशों की आवमाना करने का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.

ये भी पढ़ें - 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चंडीगढ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 17, 2019, 11:42 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...