लाइव टीवी

महबूबा के बिकनी वाले Tweet पर भड़के उलेमा, बोले- महिलाओं के लिए बुर्का जरूरी

News18 Uttar Pradesh
Updated: June 29, 2019, 8:25 PM IST
महबूबा के बिकनी वाले Tweet पर भड़के उलेमा, बोले- महिलाओं के लिए बुर्का जरूरी
महबूबा मुफ्ती पर भड़के देवबंद के उलेमा (फाइल फोटो)

महबूबा मुफ्ती के ट्वीट पर दारुल उलूम जकरिया के मोहतमिम मौलाना मुफ्ती शरीफ कासमी ने कहा कि यह महबूबा की अपनी सोच है. बिकनी पहनना जायज नहीं है और फिर इसी तरह का कोई और पहनावा पहनने की इस्लाम इजाजत नहीं देता.

  • Share this:
जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती के बिकनी पहनने वाले ट्वीट ने विवाद का रूप ले लिया है. महबूबा के ट्वीट पर अब देवबंद के उलेमा भड़क गए हैं. उनका कहना है कि इस्लाम और शरीयत मुस्लिम महिलाओं को इस तरह के पहनावे की इजाजत नहीं देता.

महबूबा ने किया था ये ट्वीट

दरअसल महबूबा मुफ्ती ने रॉयटर्स का वीडियो पोस्ट किया, जिसका कैप्शन था 'फ्रांस में मुस्लिम महिलाओं का एक समूह बुर्कीनी प्रतिबंध का विरोध करता है' इस वीडियो में कुछ महिलाएं बिकनी में थीं तो कुछ ने बुर्किनी पहनी हुई थी. महबूबा ने इसी ट्वीट को रीट्वीट कर लिखा 'मुस्लिम महिला बिकनी पहने या बुर्किनी यह उसकी मर्जी है. यह उन्हें खुद तय करना होगा.'

मौलाना बोले- महबूबा की अपनी सोच है

महबूबा मुफ्ती के ट्वीट पर दारुल उलूम जकरिया के मोहतमिम मौलाना मुफ्ती शरीफ कासमी ने कहा कि यह महबूबा की अपनी सोच है. लेकिन मुस्लिम महिलाओं के लिए बुर्का जरूरी है. बिकनी या कोई और पहनावे की इस्लाम और शरीयत कतई इजाजत नहीं देता.



'बिकनी पहनना जायज नहीं है'

उन्होंने कहा कि इस्लाम में औरत के लिए लिबास रखा गया है ताकि उससे उसका पूरा शरीर ढका रह सके. बिकनी पहनना जायज नहीं है और फिर इसी तरह का कोई और पहनावा पहनने की इस्लाम इजाजत नहीं देता.

ये भी पढ़ें:

जय श्री राम का नारा नहीं लगाने पर लोगों ने मुस्लिम को पीटा

पलायन पर हिन्दू महासभा- हिन्दुओं को करनी पड़ेगी अपनी सुरक्षा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मुजफ्फरनगर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 29, 2019, 8:16 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...