यूपी: जय श्रीराम का नारा न लगाने पर मौलाना को पीटा, दाढ़ी कटा लेने की धमकी दी

आरोप है कि युवकों ने मौलाना से कहा कि, ‘अगर भारत में रहना होगा, जय श्रीराम कहना होगा’. जय श्रीराम नहीं कहने पर युवकों ने मौलाना की पिटाई की. पीड़ित मौलाना का नाम इमलाकुर्रहमान है, जो सरधना से अपने घर जा रहे थे.

News18 Uttar Pradesh
Updated: July 14, 2019, 6:50 PM IST
यूपी: जय श्रीराम का नारा न लगाने पर मौलाना को पीटा, दाढ़ी कटा लेने की धमकी दी
यूपी में जय श्रीराम का नारा न लगाने पर मौलाना इमलाकुर्रहमान की पिटाई.
News18 Uttar Pradesh
Updated: July 14, 2019, 6:50 PM IST
यूपी के बागपत जिले के दोघट इलाके में जय श्रीराम न बोलने पर एक मौलाना की पिटाई का मामला सामने आया है. आरोप है कि मौलाना मेरठ-मुजफ्फरनगर हाइवे से मौलाना अपने घर जा रहे थे तभी लड़कों के एक समूह ने उन्हें घेर लिया और उनके साथ बदसलूकी की.

मौलाना ने बताया कि वह दोघट क्षेत्र के सरोरा मंदिर और कुटी पुलिस चौकी के बीचे पहुंचे तो हाइवे पर खड़े लगभग 10 लड़कों के समूह ने उन्हें रोक लिया और उनके साथ मारपीट की. आरोप है कि युवकों ने मौलाना से कहा कि, ‘अगर भारत में रहना होगा, जय श्रीराम कहना होगा’.



जय श्रीराम नहीं कहने पर युवकों ने मौलाना की जमकर पिटाई की. पीड़ित मौलाना का नाम इमलाकुर्रहमान है, जो सरधना से पढ़ाकर वापस अपने घर जा रहे थे. मौलाना मुजफ्फरनगर के बुढ़ाना थाना क्षेत्र के जौला गांव के रहने वाले हैं. पुलिस ने इस मामले में मुकदमा दर्ज कर लिया है.

इन धाराओं में पुलिस ने दर्ज किया मुकदमा

पुलिस ने धारा 147 बवाल करने के उद्देश्य से किया गया अपराध, धारा 341 जान बूझकर चोट पहुंचाना, धारा 295 किसी धर्म का अपमान करना, धारा 323 मारपीट करना, धारा 504 धमकी देना और शांति भंग करने के आरोप में धारा 506 के तहत इस मामले में मुकदमा दर्ज कर लिया है.



दाढ़ी और टोपी भी खींच ली
Loading...

आरोप है कि पिटाई करते हुए युवकों ने मौलाना की दाढ़ी को खींचा और उनकी टोपी को उतारकर फेंक दिया. आरोपी युवकों ने पिटाई करते हुए मौलाना से जय श्रीराम के नारे लगाने को कहा. मौलाना ने विरोध किया और जय श्रीराम के नारे नहीं लगाए. मौलाना ने नारे नहीं लगाये तो युवकों ने दाढ़ी खींचकर उनकी बेतहाशा पिटाई की और अगली बार दाढ़ी कटवाकर हाइवे से गुजरने को कहा. मौलाना ने जान बचाने के लिए शोर मचा दिया. मौलाना की आवाज सुनकर रास्ते से गुजर रहे राहगीर मौके पर पहुंचे और उनकी जान बचाई.

मौलाना ने दोघट थाने में अज्ञात युवकों के खिलाफ तहरीर दी है. अभी तक आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं की गई है. हमारे संवाददाता ने इस मामले में बात करने के लिए पुलिस अधीक्षक बागपत को फोन किया तो उन्होंने फोन नहीं उठाया. एएसपी और सीओ ने भी मामले में बोलने से इनकार कर दिया.

रिपोर्ट - शहजाद राव

ये भी पढ़ें -
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...