मुजफ्फरनगरः मुस्लिम युवती को पुलिस अधिकारियों को राखी बांधना पड़ा महंगा

गत 26 अगस्त को सना थानवी ने नई मंडी कोतवाली पहुंचकर पुलिस अधिकारियों को राखी बांधी थी और तोहफे में एसएसपी अनन्त देव तिवारी ने उसे नई मंडी कोतवाली की एक दिन की प्रभारी बना दिया था

News18 Uttar Pradesh
Updated: August 28, 2018, 11:43 PM IST
News18 Uttar Pradesh
Updated: August 28, 2018, 11:43 PM IST
मुज़फ्फरनगर जिले में रक्षाबंधन पर्व पर एक मुस्लिम युवती द्वारा पुलिस अधिकारियों को राखी बांधने को लेकर बवाल मच गया है. मुस्लिम युवती सना थानवी द्वारा पुलिस अधिकारियों को राखी बांधने का देवबंदी उलेमाओं ने विरोध किया है. हालांकि मुस्लिम युवती सना थानवी ने देवबंद के उलेमाओं के विरोध पर एतराज जताते हुए कहा कि मामले को धर्म के चश्मे से न देखा जाए.

यह भी पढ़ें-मुजफ्फरनगर में SSP ने दो छात्राओं को बनाया एक दिन का थानेदार

गौरतलब है गत 26 अगस्त को सना थानवी ने नई मंडी कोतवाली पहुंचकर पुलिस अधिकारियों को राखी बांधी थी और तोहफे में एसएसपी अनन्त देव तिवारी ने उसे नई मंडी कोतवाली की एक दिन की प्रभारी बना दिया था, जिसने कई दिनों तक खूब सुर्खिया भी बंटोरी थी, लेकिन देवबंदी उलेमाओं के विरोध से अब बिगड़ता दिख रहा है.

यह भी पढ़ें-'त्रिनेत्र ऐप' की मदद से वेस्ट यूपी में अपराधियों का खात्मा करेगी योगी सरकार

मीडिया को दिए बयान में सना थानवी व उसके परिवार ने देवबंदी उलेमाओं को बयान पर एतराज जताते हुए कहा कि साल के 365 पुलिस वाले हमारी रक्षा करती है और हमने उनको राखी बांधी है, जिसको धर्म से जोड़कर नहीं देखा जाना चाहिए.

बकौल सना, रक्षाबंधन भाई बहन का त्योहार है, जैसे भाई अपनी बहन की रक्षा करता है, वैसे ही पुलिसवाले भी हमारी रक्षा करते है और हमने उनको राखी बांधी है और जो लोग इसका विरोध जता रहे हैं उनसे यही कहना चाहेंगे कि कृपया इसको धर्म से ना जोड़ें.

(रिपोर्ट-बिनेश पंवार, मुजफ्फरनगर)
Loading...
अपने खाली फ्लैट से करें ये बिजनेस, कमाएं 70 हजार रुपए महीना

दुनिया में इन 10 देशों के पास है सबसे ज्यादा सोना, जानिए भारत के पास कितना

 
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर