लाइव टीवी

अजित सिंह को मात दे संसद पहुंचे संजीव बालियान दोबारा मोदी मंत्रिमंडल में हुए शामिल

News18 Uttar Pradesh
Updated: May 30, 2019, 8:43 PM IST
अजित सिंह को मात दे संसद पहुंचे संजीव बालियान दोबारा मोदी मंत्रिमंडल में हुए शामिल
बीजेपी सांसद संजीव बालियान की फाइल फोटो

मुजफ्फरनगर लोकसभा सीट से डॉ.संजीव बालियान लगातार दूसरी बार जीतने वाले तीसरे सांसद बन गए हैं. उन्‍होंने दिग्‍गज जाट नेता अजित सिंह को हराया.

  • Share this:
लोकसभा चुनाव 2019 में मुजफ्फरनगर सीट से रालोद अध्यक्ष और गठबंधन प्रत्याशी अजीत सिंह को हराने वाले संजीव बालियान मोदी सरकार में मंत्री बन गए हैं. गुरुवार को उन्होंने पद एवं गोपनीयता की शपत ली. उन्हें पीएमओ की तरफ से शपथ के लिए कॉल की गई है.

जाटलैंड कहे जाने वाले मुजफ्फरनगर संसदीय सीट से वह दोबारा चुनकर संसद पहुंचे हैं. उन्होंने गठबंधन के उम्मीदवार अजित सिंह को 6526 मतों से पराजित किया. मुजफ्फरनगर लोकसभा सीट पर डॉ. संजीव बालियान लगातार दूसरी बार जीतने वाले तीसरे सांसद बन गए हैं. इससे पहले कांग्रेस के सुमत प्रसाद जैन और भाजपा के ही सोहनबीर सिंह लगातार दो बार लोकसभा चुनाव जीते थे.

पश्चिम यूपी के बड़े किसान नेता हैं बालियान

संजीव बालियान पश्चिमी उत्‍तर प्रदेश में बड़े किसान नेता के तौर पर जाने जाते हैं. उनका जन्‍म 23 जून 1972 को मुजफ्फरनगर जिले के कुटबी गांव में हुआ था. इनके पिता का नाम सुरेंद्र पाल सिंह है. उनका एक छोटा भाई भी है, जिनका नाम विवेक बालियान है, जबकि इनकी पत्‍नी का नाम सुनीता बालियान है. डॉ. संजीव बालियान ने हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय से पशु चिकित्सा विज्ञान में डॉक्टरेट की उपाधि हासिल की है. इसके बाद उन्होंने सहायक प्रोफेसर और हरियाणा सरकार के साथ एक पशु चिकित्सा सर्जन के रूप में सेवाएं दी हैं.



राजनीतिक सफर

संजीव बालियान ने साल 2014 के लोकसभा चुनाव में बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) प्रत्याशी कादिर राणा को हराकर पहली बार संसद पहुंचे थे. संजीव बालियान को 6 लाख से ज्यादा वोट हासिल हुए थे. वर्ष 2014 से साल 2017 तक मोदी सरकार में उन्‍होंने कई मंत्रालयों को संभाला था. वर्ष 2014 में उन्हें राष्ट्रीय लोकतांत्रिक गठबंधन सरकार में कृषि और खाद्य प्रसंस्करण राज्य मंत्री के रूप में नियुक्त किया गया था. फिर जुलाई 2016 में उन्हें राज्यमंत्री जल संसाधन, नदी विकास और गंगा कायाकल्प की जिम्मेदारी सौंपी गई, लेकिन सिंतबर 2017 में वह केंद्रीय कैबिनेट से बाहर कर दिए गए.
Loading...

जब दंगों की आग में झुलसा था 'जाटलैंड'

वर्ष 2013 में हुए मुजफ्फरनगर दंगे में संजीव बालियान आरोपी रहे हैं. पश्चिमी यूपी के बड़े जाट नेता बालियान पर दंगों के दौरान भड़काऊ भाषण देने का आरोप था. 'जाटलैंड' नाम से मशहूर मुजफ्फरनगर साल 2013 में हुए सांप्रदायिक दंगों को लेकर चर्चा में रहा था.

ये भी पढ़ें:

यूपी कोटे से इन 11 चेहरों को मिल सकती है मोदी कैबिनेट में जगह

कांग्रेस को साथ लेकर भी क्या गठबंधन 2022 में बीजेपी को दे पाएगा चुनौती?

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मुजफ्फरनगर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 30, 2019, 1:13 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...