होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /

मुजफ्फरनगर: देशभक्ति के रंग में सराबोर होकर सैकड़ों मुस्लिम छात्राओं ने निकाली तिरंगा यात्रा

मुजफ्फरनगर: देशभक्ति के रंग में सराबोर होकर सैकड़ों मुस्लिम छात्राओं ने निकाली तिरंगा यात्रा

मुजफ्फरनगर में मदरसे की सैकड़ों छात्राओं ने निकाली तिरंगा यात्रा

मुजफ्फरनगर में मदरसे की सैकड़ों छात्राओं ने निकाली तिरंगा यात्रा

Independence Day2022: अबमाद हुसैन नदवी ने कहा कि इस्लाम में बताया गया है कि वह मुसलमान नहीं हो सकता जो पहले इंसान न हो. हमारे यहां इंसानियत का संदेश है, भाईचारे का संदेश है. सबका साथ सबका विकास के साथ ही आगे बढ़ा जाए और हिंदुस्तान को आगे ले कर जाया जाना चाहिए. उन्होंने कहा कि आज 3 मदरसों की सैकड़ों छात्राओं ने हाथों में तिरंगा झंडा लेकर तिरंगा यात्रा निकाली.

अधिक पढ़ें ...

हाइलाइट्स

मुजफ्फरनगर में निकली गई तिरंगा यात्रा
सैकडों मुस्लिम छात्राएं हुईं शामिल

मुजफ्फरनगर: देश में कल 75वें स्वतंत्रता दिवस को बड़े ही हर्षोल्लास के साथ मनाया गया था. देश भर में तरह तरह के सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया गया. उत्तर प्रदेश के जनपद मुजफ्फरनगर में भी आजादी के अमृत महोत्सव को देखते हुए विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया गया. इसी कड़ी में मंगलवार को कई मदरसों की सैकड़ों छात्राओं ने हाथों में तिरंगा झंडा लेकर नगर में तिरंगा यात्रा निकाली. बुर्का पहने मदरसों कि यह छात्राएं जब हिंदुस्तान जिंदाबाद के नारे लगा रही थी तो देश भक्ति का एक अलग ही माहौल दिखने को मिल रहा था.

इसी दौरान एक छात्रा के हाथों में उल्टा झंडा भी नजर आ रहा था, जो यात्रा के दौरान चर्चा का विषय बना रहा. दरअसल कल 15 अगस्त को आजादी के 75वर्ष पूर्ण हुए हैं. जिसके कारण प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वान पर पूरे देश में आजादी का अमृत महोत्सव मनाया गया. आज यानी मंगलवार को उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर जनपद में भी मदरसों ने भी आजादी के अमृत महोत्सव को धूमधाम से मनाया. यहां के तीन मदरसों की सैकड़ों छात्राओं ने हाथों में तिरंगा झंडा लेकर तिरंगा यात्रा निकाली. मुस्लिम छात्राओं की ये तिरंगा यात्रा नगर के मुख्य मार्गों से होती हुई मदरसा जामिया फातिमा लील बनात पर जाकर समाप्त हुई.

भाईचारे का दिया सन्देश
तिरंगा यात्रा के दौरान मदरसे की इन छात्राओं ने हिंदुस्तान जिंदाबाद ,भारत माता की जय के जमकर नारे लगाए. इस दौरान देशभक्ति का माहौल देखते ही बन रहा था. लेकिन यात्रा के दौरान एक छात्रा के हाथों में उल्टा तिरंगा भी, तिरंगा यात्रा में चर्चा का विषय बना रहा. बहराल बताया जा रहा कि यह झंडा भूल से उल्टा हो गया था. इस दौरान एक मदरसे के टीचर अबमाद हुसैन नदवी ने बताया कि आजादी के 75 साल पूरे होने पर केंद्र सरकार के आव्हान पर देश में अमृत महोत्सव और हर घर तिरंगा अभियान चलाया जा रहा है. उसी कड़ी में आज यह तिरंगा यात्रा भी निकाली गई थी.

news18

तिरंगा यात्रा में जमकर लगे देशभक्ति के नारे.

जो पहले इंसान न हो, वो मुसलमान नहीं हो सकता
अबमाद हुसैन नदवी ने कहा कि इस्लाम में बताया गया है कि वह मुसलमान नहीं हो सकता जो पहले इंसान न हो. हमारे यहां इंसानियत का संदेश है, भाईचारे का संदेश है. सबका साथ सबका विकास के साथ ही आगे बढ़ा जाए और हिंदुस्तान को आगे ले कर जाया जाना चाहिए. उन्होंने कहा कि आज 3 मदरसों की सैकड़ों छात्राओं ने हाथों में तिरंगा झंडा लेकर तिरंगा यात्रा निकाली. बच्ची द्वारा झंडा उल्टा पकड़े जाने को लेकर उन्होंने कहा कि हो सकता है कि वह गलती से या ज्यादा दूर चलने की वजह से हो गया हो. बच्चे हैं बच्चों से गलती हो जाती है.

झंडे को कभी झुकने नहीं देंगे
इस दौरान मदरसे की एक छात्रा सानिया ने बताया कि हमने आज रैली निकाली है. हम यह संदेश देना चाहते हैं कि हिंदू, मुस्लिम, सिख, इसाई आपस में एक साथ बहुत खुशी से रहते हैं. हमें किसी से कोई आपत्ति नहीं है. हमें देश की आन, बान, शान के लिए हर वक्त तैयार रहना होगा. छात्रा ने कहा कि इस झंडे को कभी झुकने नहीं देना होगा. कल 15 अगस्त को भी हमारे मदरसों में बहुत अच्छे प्रोग्राम हुए हैं, जिसमें हम लोगों ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया.

Tags: Azadi Ka Amrit Mahotsav, Chief Minister Yogi Adityanath, CM Yogi Aditya Nath, Muzaffarnagar news, Narendra modi, Uttarpradesh news

अगली ख़बर