मुजफ्फरनगर में बोले CM योगी आदित्यनाथ- विपक्ष ने कोरोना को लेकर लोगों में फैलाया पैनिक, लेकिन स्थिति नियंत्रण में

सीएम योगी आदित्यनाथ आज मुजफ्फरनगर दौरे पर आए हैं. (File Photo)

सीएम योगी आदित्यनाथ आज मुजफ्फरनगर दौरे पर आए हैं. (File Photo)

CM Yogi Adityanath in Muzaffarnagar: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि इस महामारी के दौर में कुछ लोगों ने जब जनता का मनोबल को बढ़ाना चाहिए था, तब उसे भड़काने की कोशिश की. इस वजह से जनता ऑक्सीजन के लिए दौड़ पड़ी.

  • Share this:

मुजफ्फरनगर. कोरोना प्रबंधन (COVID-19) की जिलेवार समीक्षा के लिए ताबड़तोड़ दौरे कर रहे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) सोमवार को मुजफ्फरनगर (Muzaffarnagar) पहुंचे. उन्होंने कोविड कण्ट्रोल को लेकर स्वास्थ्य विभाग द्वारा किए गए इंतजामों का जायजा लिया. उसके बाद मीडिया से मुखातिब होते हुए मुख्यमंत्री ने विपक्ष पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने विपक्ष पर लोगों को भड़काने का आरोप लगाते हुए कहा कि जिस वक्त जनता को धैर्य और सहस बढ़ाने की जरुरत थी, उस वक्त विपक्ष ने लोगों में पैनिक क्रिएट करने का काम किया.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि इस महामारी के दौर में कुछ लोगों ने जब जनता के मनोबल को बढ़ाना चाहिए था, उस समय उन्हें भड़काने की कोशिश की. जिससे जनता ऑक्सीजन के लिए दौड़ पड़ी. जनता पैनिक हो गई. उन्होंने कहा कि प्रदेश में हम लोग 300 ऑक्सीजन प्लांट लगाने का काम कर रहे हैं. मुज़फ्फरनगर में भी 6 ऑक्सीजन के प्लांट लगाने जा रहे है. चार प्लांट यहां पहले से ही हैं.

थर्ड वेव को लेकर तैयारी पूरी

मुख्यमंत्री ने कहा कि एक्सपर्ट्स थर्ड वेव की बात कर रहे हैं. हमने थर्ड वेव को भी लेकर तैयारी शुरू कर दी है. कहा जा रहा है कि कोरोना की तीसरी लहर में बच्चे  प्रभावित हो सकते हैं, लेकिन धैर्य रखने की जरुरत है. थर्ड वेव के लिए तैयारियां हमने कर ली हैं.
यूपी में हुए सर्वाधिक कोरोना टेस्ट

मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तर  प्रदेश देश में सबसे ज्यादा कोरोना टेस्ट करने वाला राज्य है. अब तक हमने करीब साढ़े चार करोड़ टेस्ट किए हैं. गांवों में भी ट्रेस, टेस्ट और ट्रीट के फॉर्मूले पर काम चल रहा है. टीकाकरण को भी तेजी से किया जा रहा है. अब तक डेढ़ करोड़ लोगों को टीका लगाया जा चुका है. प्रदेश में तेजी से संक्रमण के मामले कम हो रहे हैं. मुख्यमंत्री ने कहा कि जरूरतमंदों के लिए कम्युनिटी किचन का  संचालन किया जा रहा है. साथ ही सभी गरीब परिवारों को फ्री में राशन की व्यवस्था व रेहड़ी पटरी वाले कामगारों को एक हजार रूपये महीने सहायता दी जा रही है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज