लाइव टीवी

मुज़फ्फरनगर से चुनाव लड़ने का नहीं था मेरा मन, लेकिन इस वजह से आया मैदान में: अजीत सिंह

News18 Uttar Pradesh
Updated: March 10, 2019, 3:20 PM IST

'मुझे भी मुज़फ्फरनगर में चुनाव लड़ने के लिए घर की तलाश है. यदि आपने मुझे जिताया तो दिल्ली में परमानेंट घर भी ले लिया जायेगा.'

  • Share this:
रालोद प्रमुख अजीत सिंह ने शनिवार को भाजपा पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने केंद्र की मोदी सरकार को किसान विरोधी सरकार बताते हुए कहा कि मेरा मुज़फ्फरनगर से चुनाव लड़ने का कोई मन नहीं था. लेकिन यहां से चुनाव लड़ने का मुख्य कारण ये है कि साल 2013 में मुज़फ्फरनगर के कवाल काण्ड के बाद हुए सांप्रदायिक दंगों की वजह से भाजपा की सरकार बनी थी. ऐसे में मैं यहां से चुनाव लड़कर भाजपा का सफाया करना चाहता हूं. मंच से बोलते हुए अजीत सिंह ने कार्यकर्ताओं से कहा की मुझे भी मुज़फ्फरनगर में चुनाव लड़ने के लिए घर की तलाश है. यदि आपने मुझे जिताया तो दिल्ली में परमानेंट घर भी ले लिया जायेगा.

मीडिया से बात करते हुए अजीत सिंह ने कहा कि एक जमाने में इस जिले में प्रति व्यक्ति आय सबसे ज्यादा थी. देश भर में यहां पर सबसे ज्यादा ट्रेक्टर और फैक्ट्रियां थीं. लेकिन अब इन सारे रोजगारों को नष्ट कर दिया गया है. उनकी माने तो यही वजह है कि भाजपा ने दंगा कराया और जीत हासिल की. अजित सिंह ने कहा कि बीजेपी अभी भी दंगा ही कराना चाहती है. लेकिन अब सभी को सावधान रहना है.

वहीं, कश्मीर की बात करते हुए रालोद प्रमुख ने कहा कि वहां पिछले दो हफ्ते में जो कुछ हुआ उसके बारे में विश्वास करना मुश्किल है. लेकिन पूरे देश की जनता हमारी जवानों के साथ खड़ी है. उनकी माने तो सेना ने अपना शौर्य दिखा दिया है. ऐसे में किसी को उसका इस्तेमाल नहीं करना चाहिए.

इस दौरान अजीत ने कहा कि साल 1965, 1971 और 1999 में भी पाकिस्तान के साथ भारत का युद्ध हुआ था. लेकिन तब किसी प्रधानमंत्री ने लोगो को बांटने की कोशिश नहीं की थी. बल्कि लोगों को इकठ्ठा किया था. लेकिन मोदी जी घूम-घूम कर कह रहे हैं कि जो इनके साथ है वो देश भक्त हैं. अजीत ने कहा  कि मोदी जी ने अपने 5 साल के शासन में जो किया है उसके आधार पर उनको चुनाव लड़ना चाहिए.

ये भी पढ़ें- 

निबंधन कर्मचारियों का घूस लेते VIDEO वायरल, कहा- ऊपर तक पहुंचाने पड़ते हैं हिस्से


Loading...

सरकार ने नहीं सुनी बात, तो खुद सफाई करने सीवरेज में उतरे सपा विधायक



कुंभ 2019: इस बार बना नया रिकॉर्ड, इतने करोड़ श्रद्धालुओं ने लगाई डुबकी



एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मुजफ्फरनगर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 10, 2019, 2:41 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...