होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /VIDEO: हिंदू रक्षा सेना के प्रबोधानन्द गिरी बोले- हिंदुस्तान में रहना है तो अपनाना होगा हिन्दू धर्म

VIDEO: हिंदू रक्षा सेना के प्रबोधानन्द गिरी बोले- हिंदुस्तान में रहना है तो अपनाना होगा हिन्दू धर्म

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ राम जन्मभूमि आंदोलन में एक साथ रह चुके महा मण्डलेश्वर प्रबोधानन्द गिरी महाराज ...अधिक पढ़ें

    यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ राम जन्मभूमि आंदोलन में एक साथ रह चुके महा मण्डलेश्वर प्रबोधानन्द गिरी महाराज ने विवादित बयान दिया है.

    स्वामी प्रबोधानन्द ने शामली में एक सभा को संबोधित करते हुए एक वर्ग विशेष पर जमकर निशाना साधा है.  स्वामी का साफतौर पर कहना है कि मुस्लिम ही हिन्दू लड़कियों के साथ रेप करता है. लड़कियों को लव जेहाद के नाम पर फंसाया जाता है.

    इतना ही नहीं गिरी का कहना है कि अगर मुसलमानों को हिंदुस्तान में रहना है तो हिन्दू धर्म अपनाना होगा. अगर वो ऐसा नही करते है तो उन्हें धक्के मारकर पाकिस्तान भेज दिया जाएगा. वहीं उन्होंने बीजेपी में भी सेक्युलर नेताओं का होना भी बताया है.

    दरअसल शामली में हिंदू रक्षा सेना की एक सभा आयोजित की गई थी. जिसमें हिंदू रक्षा सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष स्वामी महामंडलेश्वर प्रबोधानन्द गिरी जी महाराज पहुंचे थे. उन्होंने कहा कि सन् 1947 में हिंदुस्तान हिंदुओं के लिए सुरक्षित हुआ था. अगर मुसलमानों को हिंदुस्तान में रहना है तो हिन्दू जैसे रीति रिवाज अपनाने होंगे.

    बेटियों की सुरक्षा पर उन्होंने कहा कि हिंदू बेटियों के साथ मुसलमान ही रेप करता है. वह योजना के तहत उनका अपहरण करता है और गैंग रेप जैसी घटनाओं को अंजाम देता है. ये हिंदू महिलाओं के अस्तित्व को ठेस पहुंचाते हैं.

    उनको लव जेहाद में फंसाया जाता है. इतना ही नहीं भारत को पाकिस्तान बनाने के लिए लैंड जेहाद आ गया है. हिंदुओ को डराकर, धमकाकर उनकी संपत्ति को कम पैसे में लिया जा रहा है. सेक्युलर नेता उनकी मदद करते हैं.

    उन्होंने कहा कि अगर किसी जिले में हिन्दू-मुस्लिम दंगा में होता है तो मुसलमान करता है. हिन्दू ना तो आतंकवादी है ना ही दंगा करता है. जो हिन्दुओं के खिलाफ काम करते हैं, सभी सेक्युलर नेता हैं. बीजेपी पार्टी में बहुत से लोग हिन्दू मुखौटा ओढ़कर आ गए हैं. आज भी बीजेपी में कुछ सेक्युलर नेता हैं, जो हिंदुओ को डरा, धमकाकर उनकी संपत्ति को कम पैसों में खरीदने वालों का साथ देते हैं.

    (रिपोर्ट: शहनवाज राणा)

    Tags: मुजफ्फरनगर

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें