लाइव टीवी

UPSSSC पेपर लीक: लोअर PCS परीक्षा में नकल गिरोह का खुलासा, 5 सॉल्वर गिरफ्तार

News18 Uttar Pradesh
Updated: October 2, 2019, 4:16 PM IST
UPSSSC पेपर लीक: लोअर PCS परीक्षा में नकल गिरोह का खुलासा, 5 सॉल्वर गिरफ्तार
उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग की लोअर पीसीएस परीक्षा में पेपर लीक मामले में मुजफ्फरनगर पुलिस ने नकल गिरोह पकड़ा है. (सांकेतिक तस्वीर)

मुजफ्फरनगर (Muzaffarnagar) के नई मंडी कोतवाली क्षेत्र स्थित परीक्षा केंद्र एसडी गर्ल्स कॉलिज से ये गिरफ्तारी हुई है. पता चला कि परीक्षार्थी के फोटो से सॉल्वर के फोटो एडिट कराकर ये परीक्षा देते थे. हर प्रतियोगी को पास कराने का ये करीब 8 से 15 लाख रुपये में ठेका लेते थे.

  • Share this:
मुज़फ्फरनगर. उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग (UPSSSC) की परीक्षाओं में गड़बड़ियों का दौर जारी है. इस बार आयोग की अवर अधीनस्थ सेवा (Lower PCS) परीक्षा में पेपर लीक (Paper Leak) होने का मामला सामने आया है. मामले में आयोग की तरफ से मुजफ्फरनगर में एक एफआईआर दर्ज कराई गई. इसके बाद मुजफ्फरनगर पुलिस ने मामले में एक नकल गिरोह पकड़ा है. इसमें 5 सॉल्वर गिरफ्तार किए गए हैं. नई मंडी कोतवाली क्षेत्र स्थित परीक्षा केंद्र एसडी गर्ल्स कॉलिज से ये गिरफ्तारी हुई है. पता चला कि परीक्षार्थी के फोटो से सॉल्वर के फोटो एडिट कराकर ये परीक्षा देते थे. पास कराने का ये करीब 8 से 15 लाख रुपये का ठेका लेते थे. बता दें पेपर लीक की बात सामने आने के बाद यूपीएसएसएससी के अध्यक्ष अरुण सिन्हा ने संज्ञान लिया और मुजफ्फरनगर में एक अभ्यथी, कक्ष निरीक्षक और अन्य पर एफआईआर दर्ज कराई गई.

परीक्षा के दौरान पेपर की खींची गई तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल
बता दें कि अवर अधीनस्थ सेवा की ये परीक्षा 30 सितंबर को हुई थी. इस दौरान पहली पाली की परीक्षा के प्रश्नपत्र (पेपर) का फोटो वायरल हो गया था. पता चला कि मुजफ्फरनगर के डीएवी इंटर कॉलेज से पेपर आउट हुआ. परीक्षा के दौरान फोटो खींचकर पेपर को सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया गया. मामले की जानकारी आयोग के अध्यक्ष अरुण सिन्हा को हुई तो उन्होंने कार्रवाई के आदेश दिए. इसके बाद आयोग अध्यक्ष के निर्देश पर मुजफ्फरनगर के सिविल लाइंस थाने में अभ्यर्थी, कक्ष निरीक्षक और अन्य पर एक अक्टूबर को मुकदमा दर्ज किया गया है.

अंडर गारमेंट में छिपाए मोबाइल से खींची फोटो

मामले में डीएवी इंटर कॉलेज के प्रधानाचार्य (प्रिंसिपल) शिव कुमार यादव ने शिकायत दर्ज कराई है. उन्होंने अभ्यर्थी (कैंडिडेट) प्रशांत कुमार सिंह के खिलाफ लिखा है कि परीक्षा की पहली पाली में कॉलेज के कमरा नंबर 13 में प्रशांत अवैध रुप से अंडर गारमेंट में मोबाइल छिपाकर लाया और उसने पेपर का फोटो खींचकर किसी व्यक्ति के पास भेजे. प्रशांत गौतमबुद्धनगर जिले के खताना का रहने वाला है. प्रधानाचार्य के अनुसार परीक्षा केंद्र पर कक्ष निरीक्षक मुकेश चंद्रा, सहायक अध्यापक, डीएवी इंटर कॉलेज और सीमा जैन, अध्यापक, एसडी पब्लिक स्कूल, मुजफ्फरनगर की ड्यूटी थी. प्रथम दृष्टया इनकी लापरवाही प्रतीत होती है.

रिपोर्ट: बिनेश पवार

ये भी पढ़ें:UPSSSC की लोअर पीसीएस परीक्षा का पेपर लीक, मुजफ्फरनगर में FIR दर्ज

गांधी जयंती पर पदयात्रा: प्रियंका गांधी बोलीं- सत्य के मार्ग पर चले बीजेपी फिर करे गांधी जी की बात

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मुजफ्फरनगर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 2, 2019, 4:13 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर