होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /

भैंस का खूनी आतंक: खेतों में पानी दे रहे किसान को उठाकर पटका, दर्दनाक मौत; गांव पहुंचे केंद्रीय मंत्री

भैंस का खूनी आतंक: खेतों में पानी दे रहे किसान को उठाकर पटका, दर्दनाक मौत; गांव पहुंचे केंद्रीय मंत्री

यूपी के मुजफ्फरनगर के एक गांव में एक खूनी भैंस ने अपना आतंक मचा रखा है. (News18Hindi)

यूपी के मुजफ्फरनगर के एक गांव में एक खूनी भैंस ने अपना आतंक मचा रखा है. (News18Hindi)

Buffalo Terror in UP: उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में स्थित भौराकलां थाना क्षेत्र के एक गांव में इन दिनों एक खूनी भैंस ने अपना आतंक मचा रखा है. खेतों में छुपी इस खूनी भैंस ने गुरुवार को खेत में पानी देने गए एक किसान को जमीन पर पटक-पटककर मौत के घाट उतार दिया, जबकि इस भैस ने कई लोगों को बुरी तरह से जख्मी कर दिया है.

अधिक पढ़ें ...

मुजफ्फरनगर. उत्तर प्रदेश के जनपद मुजफ्फरनगर में स्थित भौराकलां थाना क्षेत्र के गांव मुंडभर में इन दिनों एक खूनी भैंस ने अपना आतंक मचा रखा है, जिसके चलते खेतों में छुपी इस खूनी भैंस ने गुरुवार को खेत मे पानी चलाने गए एक किसान को जमीन पर पटक पटक कर मौत के घाट उतार दिया, जबकि इस भैंस ने कई लोगों को चोट पहुंचाकर घायल भी किया है. जिसको देखते हुए अब पुलिस और वन विभाग की टीमें ग्रामीणों के साथ मिलकर इस भैंस को तलाशने में जुटी है.

सूचना पर गुरुवार को मृतक किसान और घायल व्यक्ति के घर पहुंचकर केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान और बुढ़ाना से पूर्व विधायक उमेश मलिक ने भी पीड़ित परिवारों का हालचाल जाना. दरअसल मामला भौराकलां थाना क्षेत्र का है, जहां गांव अलावलपुर माजरा निवासी रमेश नाम का एक व्यक्ति 4 दिन पूर्व अपनी किसी रिस्तेदारी से 90 हज़ार रुपये में एक भैंस को खरीदकर लाया था. भैंस को लाते समय गांव का ही युवक अंकित भी मौजूद साथ में था. जिसके चलते जैसे ही छोटे हाथी (टैम्पू) से भैंस को उतारा गया तो वह बिदककर भाग खड़ी हुई इस बीच ग्रामीणों ने भैंस को पकड़ने का प्रयास किया मगर वह किसी के कब्जे में नहीं आई.

छुड़ाकर भागी और तीनों को कर दिया गंभीर रूप से घायल
इसी दौरान युवक अंकित भी इस भैंस की चपेट में आ गया, जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया आनन-फानन में जिसे उपचार के लिए अस्पताल में ले जाया गया. वहीं भैंस ने गांव की सड़क का मरम्मत का कार्य कर रहे 2 मजदूरों को टक्कर मार दी, जिससे वह भी गंभीर रूप से घायल बताए जा रहे हैं, जबकि एक ग्रामीण अपने पशुओं के लिए साइकिल के द्वारा चारा लेकर गांव की तरफ आ रहा था.

किसान जयवीर को उठाकर जमीन पर पटका, मौत
उसे भी भैंस ने अपनी चपेट में लेने प्रयास किया मगर उसकी साइकिल टूट गई. गनीमत यह रही कि उसकी जान बच गई ग्रामीणों का कहना है कि जिसके बाद ये भैंस पास के ही गांव मुंड़भर के जंगल में पहुंच गयी. जहां गुरुवार को खेत में काम कर रहे एक किसान जयवीर सिंह को इस खूनी भैंस ने जमीन पर पटकना शुरू कर दिया. इस दौरान जयवीर के चिल्लाना की आवाज सुनकर आसपास के खेत में काम कर रहे. किसान उस ओर दौडे़े, जहां उन्होंने बड़ी मुश्किल से जयवीर को भैंस के चंगुल से छुड़ाया. मगर तब तक किसान जयवीर की दर्दनाक मौत हो चुकी थी.

ग्रामीणों ने भैंस के डर से खेतों में जाना छोड़ा
घटना की जानकारी जैसे ही ग्रामीणों को लगी तो पूरे गांव में शोक की लहर दौड़ गई ग्रामीणों का कहना है कि भैंस के डर की वजह से किसानों ने खेत में भी जाना बंद कर दिया है. पिछले कई दिन से ग्रामीणों के पशुओं के लिए चारे की मुसीबत खड़ी हो गई है. किसानों को डर है कि कहीं चारा लाते समय जंगल में छुपी ये खूनी भैंस उन पर भी हमला ना बोल दे कई बार जरूरत पड़ने पर किसान हथियारों से लैस होकर और झुंड के साथ खेत में जाते है.

केंद्रीय मंत्री संजीव बालयान ने कहा- भैंस को भले मारना पड़े, उससे छुटकारा दिलाएं
घटना की जानकारी होने पर गुरुवार को केंद्रीय पशुपालन डेयरी एवं मत्स्य राज्य मंत्री डॉक्टर संजीव बालियान और बुढाना से पूर्व विधायक उमेश मलिक भी मृतक किसान जयवीर के घर गांव मुंडभर पहुंचे, जहां उन्होंने मृतक किसान के परिवार को सांत्वना दी. साथ ही मंत्री बालियान और विधायक गांव अलावलपुर माजरा पहुंचे, जहां उन्होंने घायल अंकित के घर पहुंचकर पीड़ित परिवार का हालचाल जाना. केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान ने घटना पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए पुलिस और वन विभाग की टीम को निर्देशित किया है कि जल्द से जल्द ग्रामीणों को इस खूनी भैंस से छुटकारा दिलाया जाए चाहे इसके लिए इस भैंस को मारना ही क्यूँ ना पड़े.

मंत्री बोले- वह भैंस पागल हो गई है, ऐसा लगता है
केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान ने बताया की बड़ी ही दुर्भाग्यपूर्ण घटना है, शायद भैंस पागल हो चुकी है. इसमें एक व्यक्ति की बड़ी ही दुर्भाग्यपूर्ण मृत्यु हो चुकी है, एक घायल है. वन विभाग की टीम लगी है और गांव वालों को भी कहा गया है, कि वह खेतों में है तो गांव वाले ज्यादा अच्छी तरह ढूंढ सकते हैं. शायद मुझे लगता है की उसे मार दिया जाये क्यूंकि जिस तरह की अब वो है उसने और पर भी आक्रमण किया है.

Tags: Muzaffarnagar news, UP news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर