लाइव टीवी

सोलानी नदी में जहरीला पानी आने से हजारों मछलियों की मौत

News18 Uttarakhand
Updated: October 2, 2018, 10:23 PM IST

ऐतिहासिक तीर्थ स्थली के नाम से विख्यात शुक्रताल की सोलानी नदी में अचानक जहरीला पानी आ जाने के कारण हजारों मछलियों सहित पानी में रहने वाले अन्य जीव- जंतुओं की मौत हो गई. घटना की जानकारी मिलते ही क्षेत्र के लोगों में रोष व्याप्त हो गया.

  • Share this:
मुजफ्फरनगर से एक बड़ी खबर सामने आई है. तीर्थ नगरी शुक्रताल स्थित सोलानी नदी में जहरीला पानी आने से हजारों मछलियों की मौत हो गई. इस घटना के बाद क्षेत्र के लोगों में भारी रोष है. क्योंकि इसी जहरीले पानी से गंगा घाट पर लोग स्नान करते हैं. कहा जा रहा है कि इससे पहले भी कई बार इस नदी में जहरीला पानी आने से मछलियों और पशुओं की मौत हो चुकी है. लेकिन जिला प्रशासन ने जहरीले पानी को रोकने के लिए अभी तक कोई भी उपाय नहीं किया.

दरअसल, मामला थाना भोपा क्षेत्र के तीर्थ नगरी शुक्रताल का है. ऐतिहासिक तीर्थ स्थली के नाम से विख्यात शुक्रताल की सोलानी नदी में अचानक जहरीला पानी आ जाने के कारण हजारों मछलियों सहित पानी में रहने वाले अन्य जीव- जंतुओं की मौत हो गई. घटना की जानकारी मिलते ही क्षेत्र के लोगों में रोष व्याप्त हो गया. जानकारी के मुताबिक, तीर्थ नगरी शुक्रताल में बहने वाली सोलानी नदी गंगा की धारा है, उसमें अक्सर उत्तराखंड की दर्जनों फैक्ट्रियां समय-समय पर जहरीला पानी छोड़ देती हैं. इसके चलते आए दिन मछलियों की मौत हो जाती है.

ये भी पढ़ें- गृहमंत्री राजनाथ सिंह से हुई किसानों की बैठक, नौ में से सात मांगों पर बनी सहमति

इससे पहले भी कई बार फैक्ट्रियों का जहरीला पानी गंगा नदी में आने से लाखों मछलियों की मौत हो चुकी है. इसके अलावा दूरदराज से तीर्थ नगरी शुक्रताल में आने वाले श्रद्धालुओं को भी गंगा घाट पर इसी जहरीले पानी में स्नान करना पड़ता है. बता दें कि जिस तरह गंगा की इस सहायक सोलानी नदी का पानी जहरीला होने की वजह से पानी में रहने वाले जीव दम तोड़ रहे हैं. इस मामले में नमामि गंगे के संयोजक डॉक्टर वीरपाल निरवाल से बात की गई तो उनका कहना है कि आरोपियों के खिलाफ जल्द कार्रवाई की जाएगी.

ये भी पढ़ें- VIDEO: गांधी जयंती पर SSB के जवानों ने किया रक्तदान, चलाया स्वच्छता अभियान

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मुजफ्फरनगर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 2, 2018, 10:17 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...