Home /News /uttar-pradesh /

UP Election 2022 : जयंत चौधरी की भाजपा को दो टूक- मैं कोई चवन्नी नहीं, जो पलट जाऊं

UP Election 2022 : जयंत चौधरी की भाजपा को दो टूक- मैं कोई चवन्नी नहीं, जो पलट जाऊं

जयंत चौधरी की आरएलडी का सपा प्रमुख अखिलेश यादव के साथ गठबंधन है.

जयंत चौधरी की आरएलडी का सपा प्रमुख अखिलेश यादव के साथ गठबंधन है.

UP Elections: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के दौरान केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह (Amit shah) द्वारा राष्ट्रीय लोक दल (रालोद) के अध्यक्ष जयंत चौधरी (Jayant Chaudhary) को दिए गये ऑफर से सियासी पारा चढ़ा हुआ है. भाजपा नेता ने कहा था कि जयंत ने गलत घर चुन लिया है. इसके बाद रालोद प्रमुख ने आज मुजफ्फरनगर में पलटवार करते हुए कहा कि मैं कोई चवन्नी नहीं, जो पलट जाऊं. विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी और रालोद साथ-साथ चुनाव लड़ रहे हैं. रालोद को समाजवादी पार्टी ने गठबंधन के तहत 40 सीटें दी हैं और से सभी सीटें पश्चिमी यूपी की हैं, जहां पहले और दूसरे चरण में मतदान होना है.

अधिक पढ़ें ...

मुजफ्फरनगर/लखनऊ. उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव (UP Assembly Election 2022) के दौरान बयानबाजी और जोड़तोड़ का दौर जारी है. इस बीच यूपी के पहले चरण के मतदान से पहले केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह (Amit shah) के राष्ट्रीय लोक दल (रालोद) के अध्यक्ष जयंत चौधरी (Jayant Chaudhary) को दिए गये ऑफर से सियासी पारा चढ़ा हुआ है. दरअसल भाजपा नेता ने कहा था कि जयंत चौधरी ने गलत घर चुन लिया है. इसके बाद भाजपा के ऑफर को ठुकराते हुए जयंत चौधरी ने कहा कि उनके साथ जाने को लेकर किसी से कोई बातचीत नहीं हुई है. वहीं, मुजफ्फरनगर में सपा-आरएलडी की संयुक्‍त वार्ता में कहा कि मैं कोई चवन्नी नहीं, जो पलट जाऊं.

इसके अलावा राष्ट्रीय लोक दल (रालोद) के अध्यक्ष जयंत चौधरी ने कहा कि भाजपा पहले उन 700 किसानों से बात करे जिनका घर उजाड़ा है. साथ ही कहा कि उनकी मेरी तरफ नजर नहीं है, बल्कि उन्‍हें जनता से डर सता रहा है. मैं कोई चवन्नी नहीं, जो पलट जाऊंगा. इसके साथ जयंत ने चुनाव के बाद भाजपा में जाने के सवाल पर कहा कि मैं तो अपने घर में ही बैठा हूं. साथ ही कहा कि यूपी की जनता ने जिस उम्‍मीद के साथ भाजपा को पिछली बार जिताया था, लेकिन उन्‍होंने जनता के साथ न्‍याय नहीं किया. इसके साथ उन्‍होंने यूपी में सपा-आरएलडी गठबंधन की सरकार बनने का दावा किया है.

बता दें कि यूपी विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी और राष्ट्रीय लोकदल साथ-साथ चुनाव लड़ रहे हैं. राष्ट्रीय लोकदल को समाजवादी पार्टी ने गठबंधन के तहत 40 सीटें दी हैं और से सभी सीटें पश्चिमी यूपी की हैं, जहां पहले और दूसरे चरण में मतदान होना है. पहले चरण में 10 फरवरी को 11 जिलों की 58 सीटों और दूसरे चरण में 14 फरवरी को 9 जिलों की 55 सीटों पर मतदान होगा. जबकि पश्चिमी यूपी में काफी सीटें जाट बाहुल्‍य हैं.

उत्तर प्रदेश में कब-कब है वोटिंग
यूपी में इस बार सात चरणों में मतदान होना है. इसकी शुरुआत 10 फरवरी को पश्चिमी यूपी के 11 जिलों की 58 सीटों पर मतदान के साथ होगी. इसके बाद दूसरे चरण में राज्य की 55 सीटों पर मतदान होगा. वहीं, तीसरे चरण में 59, चौथे चरण में 60, पांचवें चरण में 60 सीटों, छठे चरण में 57 और सातवें चरण में 54 सीटों पर मतदान होगा. 10 फरवरी को पहले चरण के मतदान के बाद 14 फरवरी को दूसरे चरण, 20 फरवरी को तीसरे चरण, 23 फरवरी को चौथे चरण, 27 फरवरी को पांचवें चरण, 3 मार्च को छठे चरण और 7 मार्च को सातवें चरण के लिए मतदान होगा. वहीं, यूपी चुनाव के नतीजे 10 मार्च को आएंगे.

पिछले विधानसभा चुनाव के ऐसे थे नतीजे
यूपी विधानसभा चुनाव 2017 में भाजपा ने 403 में से 325 सीटों पर जीत दर्ज की थी. सपा और कांग्रेस ने साथ मिलकर चुनाव लड़ा था. सपा ने 47 और कांग्रेस ने 7 सीटें ही जीती थीं. मायावती की बसपा 19 सीटें जीतने में कामयाब रही थी. वहीं, 4 सीटों पर अन्य का कब्जा हुआ था.

Tags: Akhilesh yadav, Amit shah, Jayant Chaudhary, Uttar Pradesh Assembly Elections, Uttar Pradesh Elections

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर