होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /

Mirzapur News: नमकीन का बिजनेस बढ़ाने के लिए कारोबारी बन गए चोर, पुलिस ने पकड़ी चोरी की बुलेरो

Mirzapur News: नमकीन का बिजनेस बढ़ाने के लिए कारोबारी बन गए चोर, पुलिस ने पकड़ी चोरी की बुलेरो

पुलिस लाइन में आयोजित पत्रकार वार्ता में पुलिस ने बताया कि अपने नमकीन के कारोबार को आगे बढ़ाने के लिए वाराणसी से बुलेरो चोरी की घटना को अंजाम दिया गया.

पुलिस लाइन में आयोजित पत्रकार वार्ता में पुलिस ने बताया कि अपने नमकीन के कारोबार को आगे बढ़ाने के लिए वाराणसी से बुलेरो चोरी की घटना को अंजाम दिया गया.

अपर पुलिस अधीक्षक संजय कुमार का कहना है कि इसके पास पहले से ही एक गाड़ी थी, जिससे ये लोग गांव और शहर में थोक और रिटेल में नमकीन की सप्लाई करने का काम करते थे. मगर ज्यादा सप्लाई के लिए जब वाहन की जरूरत पड़ी तो इन लोगों ने बुलेरो चोरी कर लिया.

अधिक पढ़ें ...

मिर्जापुर. उत्तर प्रदेश के मिर्ज़ापुर में पुलिस ने व्यापार बढ़ाने के लिए बुलेरो चोरी करने का चौंकाने वाले मामले का खुलासा किया है. पुलिस लाइन में आयोजित पत्रकार वार्ता में पुलिस ने बताया कि अपने नमकीन के कारोबार को आगे बढ़ाने के लिए वाराणसी से बुलेरो चोरी की घटना को अंजाम दिया गया.

अपर पुलिस अधीक्षक संजय कुमार ने बताया कि चिल्ह थाना क्षेत्र के हनुमान मन्दिर टेडवा में मुखबिर की सूचना के बाद एक सफेद रंग की बोलेरो और उसके साथ चल रही एक मोटर साइकिल को पकड़ा और दो व्यक्तियों को हिरासत में लिया. पूछताछ में दोनों ने अपना नाम दीपेंद्र श्रीवास्तव और पुनित त्रिपाठी बताया. दोनों कानपुर के रहने वाले है. मगर पिछले 10 वर्षों से वाराणसी में रहकर नमकीन का बिजनेस करते थे.

ये भी पढ़ें- स्कूल बस में बैठे बच्चे ने उल्टी के लिए बाहर निकाला सिर, टक्कर से हो गई मौत

पुलिस के मुताबिक नमकीन के बिजनेस को आगे बढ़ाने के लिए एक गाड़ी की जरूरत थी तो इन लोगों ने वाराणसी में बाबतपुर हवाई अड्डे के पास से बुलेरो की चोरी कर ली. अपर पुलिस अधीक्षक संजय कुमार का कहना है कि इसके पास पहले से ही एक गाड़ी थी, जिससे ये लोग गांव और शहर में थोक और रिटेल में नमकीन की सप्लाई करने का काम करते थे. मगर ज्यादा सप्लाई के लिए जब वाहन की जरूरत पड़ी तो इन लोगों ने बुलेरो चोरी कर लिया. पुलिस ने चोरी की गईं बुलेरी और मोटरसाकिल, अवैध तमंचे व कारतूस के साथ गिरफ्तार कर जेल भेज दिया.

Tags: Mirzapur news, UP police

अगली ख़बर