Home /News /uttar-pradesh /

एक घंटे की हो जाएगी मेरठ से जेवर एयरपोर्ट की दूरी, जानिए प्लान

एक घंटे की हो जाएगी मेरठ से जेवर एयरपोर्ट की दूरी, जानिए प्लान

गौतम बुद्ध नगर जल्द ही रेडीमेड गारमेंट का हब बनने जा रहा है. (file photo)

गौतम बुद्ध नगर जल्द ही रेडीमेड गारमेंट का हब बनने जा रहा है. (file photo)

मेरठ (Meerut) और जेवर एयरपोर्ट (Jewar Airport) के बीच सफर का वक्त कम होते ही यहां के कारोबार को भी रफ्तार मिल जाएगी. वेस्ट यूपी के ज्यादातर बड़े शहर गंगा एक्सप्रेसवे, ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेसवे, यमुना एक्सप्रेसवे (Yamuna Expressway), दिल्ली-मुम्बई एक्सप्रेसवे, ईस्टर्न-वेस्टर्न डेडीकेटेड फ्रेट कॉरिडोर, दिल्ली-वाराणासी बुलैट ट्रेन और ग्रेटर नोएडा (Greater Noida) के बोड़ाकी में बनने वाले लॉजिस्टिक एंड वेयर हाउस हब से जुड़ जाएंगे और माल की आवाजाही में लगने वाला घंटों का वक्त सिमटकर कुछ ही घंटे का रह जाएगा. 

अधिक पढ़ें ...

    नोएडा. देश के सबसे बड़े बनने वाले जेवर एयरपोर्ट (Jewar Airport) को खासतौर पर वेस्ट यूपी से जोड़ने की हर मुमकिन कोशिश हो रही है. इसी के चलते मेरठ और जेवर एयरपोर्ट के बीच लगने वाले वक्त को कम करने पर काम चल रहा है. सिग्नल फ्री रूट तैयार करने की योजना बनाई जा रही है. कोशिश है कि इस रूट से वेस्ट यूपी (West UP) के ज्यादातर शहर जेवर एयरपोर्ट से जुड़ जाएं और उन्हें फ्लाइट लेने के लिए आईजीआई, दिल्ली (IGI Delhi) की ओर न जाना पड़े. सांसद महेश शर्मा इसकी घोषणा भी कर चुके हैं. यह पूरा रूट 93 किमी का होगा. अच्छी बात यह है कि ऐसा होने के बाद मेरठ (Meerut) ही नहीं उससे सटे दूसरे शहर अन्य एक्सप्रेस-वे और डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर (dedicated freight corridor) से जुड़ जाएंगे और कारोबार को रफ्तार मिल जाएगी.

    मेरठ से एक घंटे में ऐसे पहुंच सकेंगे जेवर एयरपोर्ट

    मेरठ से जेवर एयरपोर्ट तक की दूरी करीब 93 किमी की है. इस दूरी में लगने वाले वक्त को कम करने के लिए सरकार ने योजना तैयार की है. जानकारों की मानें तो दिल्ली से मेरठ एक्सप्रेसवे का काम पूरा हो चुका है. मेरठ एक्सप्रेसवे को ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेसवे से भी जोड़ने का काम कर दिया गया है. इस तरह से जब दोनों एक्सप्रेसवे जुड़ जाएंगे तो मेरठ से सीधे सिकंदराबाद के रास्ते सिरसा कट से यमुना एक्सप्रेसवे को जोड़ दिया जाएगा.

    इस तरह से यमुना एक्सप्रेसवे होते हुए मेरठ से आने वाले वाहन जेवर एयरपोर्ट जा सकेंगे. और खास बात यह है कि इस पूरे रूट पर कोई सिग्नल नहीं होगा, यानि वाहनों को रुकना नहीं पड़ेगा. वहीं इस पूरे रूट को इंडस्ट्रियल कॉरिडोर के रूप में भी इस्तेमाल किया जा सकेगा.

    ग्रेटर नोएडा वेस्ट से कालिंदी कुंज तक अब बिना रुके भरें फर्राटा, जानिए कैसे

    मयूर विहार-महामाया फ्लाईओवर तक बनेगा एलिवेटेड रोड

    दिल्ली-एनसीआर से जेवर एयरपोर्ट की ओर जाने वाली हर सड़क को भी रफ्तार देने की कोशिश चल रही है. नोएडा और नोएडा से सटे दिल्ली के इलाकों में रहने वाले लोग भी बिना ज्यादा वक्त खराब किए जेवर एयरपोर्ट तक पहुंच जाएं, इसके लिए मयूर विहार और महामाया फ्लाईओवर तक एलिवेटेड रोड की योजना पर भी काम चल रहा है.

    वैसे तो नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेसवे है, लेकिन इसके बाद भी खासतौर से मयूर विहार से लेकर महामाया फ्लाई ओवर तक सुबह-शाम के अलावा दिन में भी जाम के हालात रहते हैं. इसी के चलते इस रूट पर करीब 850 करोड़ की लागत से एलिवेटेड रोड बनाने का काम चल रहा है. इस रूट के बनते ही चंद सेकेंड में मयूर विहार से महामाया फ्लाईओवर तक आराम से पहुंचा जा सकेगा.

    Tags: Jewar airport, Noida news, Yamuna Expressway

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर