Home /News /uttar-pradesh /

500 policemen will deployed on day of supertech twin tower demolition case blast noida explosive jio fiber dlnh

सुपरटेक Twin Tower की सुरक्षा के लिए लगाए जाएंगे 500 पुलिसकर्मी, जानें प्लान

सुपरटेक के ट्विन टावर को गिराने के लिए तारीख पर आखिरी मुहर लग चुकी है. बिल्डिंग में विस्फोटक लगाने के अलावा बाकी के सभी काम लगभग पूरे हो चुके हैं.

सुपरटेक के ट्विन टावर को गिराने के लिए तारीख पर आखिरी मुहर लग चुकी है. बिल्डिंग में विस्फोटक लगाने के अलावा बाकी के सभी काम लगभग पूरे हो चुके हैं.

21 अगस्त को ब्लास्ट कर ट्विन टावर (Twin Tower) को गिरा दिया जाएगा. लेकिन इससे पहले 20 अगस्त को रिर्हसल किया जाएगा. इस रिर्हसल में 500 पुलिसकर्मी (Policemen) भी शामिल होंगे. आसपास के टावर को ट्विन टावर के मलबे से बचाने के लिए कंटेनर लगाकर लोहे की दीवार खड़ी की जा रही है. दोनों टावर गिराने के लिए करीब 4 हजार किलो विस्फोटक (Explosive) का इस्तेमाल किए जाने की चर्चा है.

अधिक पढ़ें ...

नोएडा. सुपरटेक के ट्विन टावर (Twin Tower) को गिराने के लिए तारीख पर आखिरी मुहर लग चुकी है. बिल्डिंग में विस्फोटक (Building Explosion) लगाने के अलावा बाकी के सभी काम लगभग पूरे हो चुके हैं. ट्विन टावर में ब्लास्ट का प्लान भी तैयार हो चुका है. जल्द ही टावर गिराने का काम कर रही एडिफिस कंपनी आखिरी ब्लास्ट (Blast) का प्लान नोएडा अथॉरिटी (Noida Authority) को सौंप देगी. लेकिन विस्फोटक का काम शुरू करने से पहले कंपनी ने टावर की सुरक्षा के लिए पुलिसकर्मियों की मांग की है. जानकारों की मानें तो विस्फोटक लगाने से लेकर ब्लास्ट वाले दिन 500 पुलिसकर्मियों (Policemenn) की डयूटी लगाई जाएगी.

पिलर और बीम में वी शेप के 10 हजार होल कर भरा जाएगा विस्फोटक

जानकारों की मानें तो ट्विन टावर में विस्फोटक लगाने का काम एक अगस्त से शुरू हो जाएगा. 21 अगस्त को ब्लास्ट कर ट्विन टावर गिरा दिए जाएंगे. टावर के पिलर और बीम में विस्फोटक भरा जाएगा. इसके लिए पिलर और बीम में करीब 10 हजार होल किए जाएंगे. वी शेप के होल कर विस्फोटक भरा जाएगा. इतना ही नहीं पिलर में विस्फोटक भरने के बाद लोहे की जाली भी पिलर से बांधी जाएगी. पिलर को जियो फाइबर टैक्सटाइल से करीब 6 बार लपेटा जाएगा. जिससे की ब्लास्ट के दौरान मलबा इधर-उधर न गिरे. बेसमेंट में जमीन के नीचे गैस पाइप लाइन को सुराक्षित करने के लिए बेसमेंट में लोहे की जाली बिछाने के बाद मलबा भरा जा रहा है.

विस्फोटक ग्राउंड फ्लोर से लेकर 1 और 2 फ्लोर तक तो लगातार विस्फोटक रखा जाता है. लेकिन उसके बाद 4-4 फ्लोर का गैप देकर जैसे दूसरे के बाद 6 पर और 6 क बाद 10, 14, 18 और 22वें जानकारों की मानें तो किसी भी हाईराइज बिल्डिंग को गिराने के लिए उसके कॉलम और बीम में फ्लोर पर विस्फोटक भरा जाएगा.

चार्जिंग स्टेशन के लिए जगह छोड़ने पर ही होगा नक्शा पास, जाने प्लान

आसपास की बिल्डिंग को नुकसान हुआ तो मिलेगा 102 करोड़ का बीमा

नोएडा अथॉरिटी से जुड़े जानकारों की मानें तो ट्विन टावर से सटकर बने टावर्स को मुआवजे की कैटेगिरी में रखा गया है. यह दायरा बीमा करने वाली कंपनी के मानकों के हिसाब से तय किया गया है. कंपनी अपने मानकों के हिसाब से आईआईटी चैन्नई की एक टीम के विस्फोट वाले दिन मौके पर मौजूद रखेगी. आखिरी विस्फोट होने पर आईआईटी की यह टीम कंपन को मापेगी. कंपन का मापन ही तय करेगा कि किसी भी फ्लैट में हुआ नुकसान विस्फोट की वजह से हुआ है या किसी ओर वजह से. सूत्रों की मानें तो एक प्राइवेट इंश्योरेंस कंपनी से 102 करोड़ रुपये का बीमा कराया गया है.

10 सेकेंड में ऐसे गिराए जाएंगे ट्विन टावर

टावर को गिराने का ठेका लेने वाली अमेरिका की कंपनी इससे पहले भारत में ही मुम्बई और कोच्चि में भी मल्टी स्टोरी बिल्डिंग गिराने का काम कर चुकी है. कंपनी ने नोएडा अथॉरिटी में अपना प्रस्ताव पेश करते हुए बताया है कि वो ट्वीन टावर को वॉटरफाल का तरीका अपनाकर तोड़ेगी. इसके लिए टावर के कॉलम, बीम और दिवारों में कई जगह छेद कर वी शेप में एक्सप्लोसिव लगाया जाएगा. इस तरीके से टावर का मलबा एक झरने से गिरने वाले पानी की तरह से नीचे आएगा. खास बात यह है कि मलबा टावर के अंदर की ओर गिरेगा.

Tags: Blast, Explosion, Noida Authority, Noida Police, Supertech Twin Tower case

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर