मारपीट के बाद AMITY UNIVERSITY में छात्रों का शक्ति प्रदर्शन, तोड़े ट्रैफिक नियम

यूनिवर्सिटी प्रशासन ने जांच के लिए कमेटी गठित कर 11 स्टूडेंट्स को निलंबित किया है. जिसको लेकर छात्रों के एक गुट ने शक्ति प्रदर्शन करते हुए यूनिवर्सिटी के सामने पहुंचकर जोरदार प्रदर्शन किया.

News18 Uttar Pradesh
Updated: September 5, 2019, 10:08 PM IST
मारपीट के बाद AMITY UNIVERSITY में छात्रों का शक्ति प्रदर्शन, तोड़े ट्रैफिक नियम
यूनिवर्सिटी प्रशासन ने जांच के लिए कमेटी गठित कर 11 स्टूडेंट्स को निलंबित किया है. जिसको लेकर छात्रों के एक गुट ने शक्ति प्रदर्शन करते हुए यूनिवर्सिटी के सामने पहुंचकर जोरदार प्रदर्शन किया.
News18 Uttar Pradesh
Updated: September 5, 2019, 10:08 PM IST
नोएडा. नोएडा (Noida) के सेक्टर 125 स्थित एमिटी यूनिवर्सिटी (Amity University) में कार हटाने को लेकर शुरू हुआ विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है. इस मामले में छात्रों के दोनों गुटों की तरफ से एक दूसरे के खिलाफ एफआईआर (FIR) थाना 39 में दर्ज़ कराई गई है. पुलिस ने 3 छात्रों को मारपीट, जानलेवा हमला करना और अन्य आरोप में गिरफ्तार किया है. वहीं यूनिवर्सिटी प्रशासन ने जांच के लिए कमेटी गठित कर 11 स्टूडेंट्स को निलंबित किया है. जिसको लेकर छात्रों के एक गुट ने शक्ति प्रदर्शन करते हुए यूनिवर्सिटी के सामने पहुंचकर जोरदार प्रदर्शन किया.

मामले में पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए गए मयंक तोमर, चेतन और शिवकुमार तीनों ही एमिटी यूनिवर्सिटी के छात्र हैं. इनकी गिरफ्तारी, पीड़ित छात्रों की तरफ से पहले दर्ज कराई गई एफ़आईआर पर हुई. जबकि छात्रा की तरफ से दर्ज कराई रिपोर्ट पर पुलिस का कहना है कि मामले की जांच के आधार पर कार्रवाई होगी. वहीं यूनिवर्सिटी प्रशासन ने जांच के लिए कमेटी गठित कर 11 स्टूडेंट्स को निलंबित किया है. जिसको लेकर छात्रों के एक गुट ने शक्ति प्रदर्शन करते हुए यूनिवर्सिटी के सामने पहुंचकर जोरदार प्रदर्शन किया. इसमें 150 से ज्यादा लोगों ने कार रैली निकाली.

सोशल मीडिया पर ट्रेंड
दोपहर करीब एक बजे से शुरू हुई रैली में जमकर हंगामा हुआ. लड़कों ने मारपीट करने वालों को गिरफ्तार करने की मांग करते हुए नारेबाजी की. रैली में शामिल छात्र ट्रैफिक नियमों की धज्जियां उड़ाते रहे और मौके पर मौजूद पुलिस मूकदर्शक बनी रही. यह प्रदर्शन हर्ष और माधव को इंसाफ दिलाने के लिए किया गया. इसके अलावा सोशल मीडिया पर भी ये लड़ाई लड़ी जा रही है. मंगलवार को ट्विटर पर #JusticeforHarsh और #JusticeforMadhav ट्रेंड करता रहा.

क्या है मामला
ये पूरा विवाद पार्किंग से शुरू हुआ और फिर मारपीट में बदल गया. 28 अगस्त को एमिटी यूनिवर्सिटी के दोनों छात्र दोपहर करीब ढाई बजे i20 कार से यूनिवर्सिटी आ रहे थे. वो जिस यूनिवर्सिटी गेट से एंट्री कर रहे थे वहीं पर एक एंडेवर गाड़ी लगी हुई थी. उस गाड़ी में दो लड़कियां बैठी हुई थीं. दोनों लड़कों ने गार्ड से गुजारिश की वो एंडेवर गाड़ी को हटवा दें लेकिन लड़कियों ने गाड़ी नहीं हटाई. इसके बाद दोनों पक्षों में बहस हुई. दोनों लड़के इसके बाद यूनिवर्सिटी कैंपस में चले गए.

हर्ष और माधव को आईं गंभीर चोटें
Loading...

इसके करीब घंटे भर बाद वो लड़कियां क्लासरूम में 25 लड़के लेकर पहुंच गईं. इसके बाद लड़कियों के साथ आए लड़कों ने हर्ष और माधव की बुरी तरह पिटाई करना शुरू कर दिया. इस दौरान कुर्सियां उठाकर भी फेंकी गईं. जानकारी के मुताबिक इसमें कुछ शिक्षकों को भी चोट आईं. मारपीट के बाद लड़के भाग गए. इसके बाद हर्ष और माधव यह देखने बाहर आ गए कि पुलिस आई है या नहीं. और उन्हें फिर लड़कों के झुंड ने घेर लिया. उन्हें रॉड और पत्थरों से पीटा गया. दोनों बेहद गंभीर चोटें लगी हैं. माधव आईसीयू में भर्ती है. जबकि हर्ष के सिर में 7 टांके लगे हैं. मामले में FIR लिखा दी गई है.

ये भी पढ़ें:

सपा नेता आजम खान को बड़ा झटका, वापस करनी होगी 17 एकड़ जमीन

टीचर करता था भद्दे इशारे, शिकायत पर छात्रा को नम्बर कम देने की दी धमकी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए नोएडा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 5, 2019, 9:16 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...