नोएडा के इस इंस्पेक्टर को मिली HC से बड़ी राहत, ये रही वजह

कोर्ट ने अपने फैसले में कहा है कि नियुक्ति प्राधिकारी नहीं होने की वजह से किसी भी एसएसपी को पुलिस इंस्पेक्टरों को निलंबित करने का अधिकार नहीं है.

News18 Uttar Pradesh
Updated: August 4, 2019, 12:25 PM IST
नोएडा के इस इंस्पेक्टर को मिली HC से बड़ी राहत, ये रही वजह
नोएडा के इस चर्चित दरोगा को मिली हाईकोर्ट से बड़ी राहत
News18 Uttar Pradesh
Updated: August 4, 2019, 12:25 PM IST
नोएडा के सेक्टर-20 थाने के इंचार्ज रहे पुलिस इंस्पेक्टर मनोज कुमार पंत को इलाहाबाद हाईकोर्ट से बड़ी राहत मिली है. हाईकोर्ट ने इंस्पेक्टर मनोज पंत के निलंबन पर रोक लगाते हुए उन्हें पद पर बनाए रखने का आदेश दिया है. बता दें कि रिश्वत लेने के आरोप में उन्हें जेल भी भेजा गया था. फिलहाल वह जमानत पर हैं और गौतम बुद्ध नगर की पुलिस लाइन में तैनात हैं. जस्टिस अश्विनी कुमार मिश्र की बेंच ने अपने आदेश में उनके निलंबन आदेश पर रोक लगाते हुए उन्हें पद पर बहाल किये जाने व वेतन दिए जाने के आदेश दिए.

 एसएसपी ने किया था निलंबित

इस मामले की सुनवाई कर रही हाईकोर्ट की बेंच ने उनके निलंबन आदेश को तकनीकी आधार पर गलत मानते उसके अमल होने पर रोक लगा दी है. कोर्ट ने अपने फैसले में कहा है कि नियुक्ति प्राधिकारी नहीं होने की वजह से किसी भी एसएसपी को पुलिस इंस्पेक्टरों को निलंबित करने का अधिकार नहीं है.

 रिश्वत लेने का आरोप 

दरअसल इंस्पेक्टर मनोज कुमार पंत जनवरी महीने में नोएडा के सेक्टर-20 थाने में इंचार्ज के पद पर तैनात थे. उन पर आरोप था कि गलत तरीके से चल रहे एक काल सेंटर के खिलाफ की गई कार्रवाई में आरोपियों का नाम निकालने के लिए उन्होंने रिश्वत ली थी. उनके साथ तीन मीडियाकर्मियों व एक अन्य शख्स के खिलाफ 30 जनवरी को केस दर्ज कर गिरफ्तार किया गया था. जेल जाने के बाद इंस्पेक्टर पंत को एसएसपी वैभव कृष्ण ने निलंबित कर दिया था. उन्होंने निलंबन के खिलाफ हाईकोर्ट में अर्जी दाखिल की थी.

(रिपोर्ट: कुणाल जायसवाल)

ये भी पढ़ें:
Loading...

उन्नाव केस: पीड़िता की हालत नाज़ुक, डॉक्टरों ने वकील पर से हटाया वेंटीलेटर

अयोध्या को जिस हक से वंचित किया गया, वो हक मिलना चाहिए: CM योगी

BMW से जा रहे प्रॉपर्टी डीलर को बदमाशों ने मारी 6 गोली, हालत गंभीर
First published: August 3, 2019, 3:17 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...