Noida news

नोएडा

अपना जिला चुनें

नोएडा: दृष्टिहीन कलाकारों ने बहुत ही खूबसूरती से बनाई फिल्म, देखिए कैसे?

नोएडा:दृष्टिहीन कलाकारों ने बहुत ही खूबसूरती से बनाई फिल्म, देखिए कैसे?

देश के अलग अलग हिस्सों में हमने कई वर्षो तक ऑडिशन लिए हजारों लोग सिलेक्ट भी किए हमने लेकिन सबसे बड़ी समस्या थी, दृष्टिहीन लोगों को शूटिंग लोकेशन पर लेकर जाना.

SHARE THIS:

नोएडा: नेत्र दान जैसे गंभीर विषय पर बनी फिल्म दृष्टांत छः साल पहले बनना शुरू हुई थी,जो अब साल 2021 में आकर पूरी हुई है. यह कहना है फिल्म के प्रोड्यूसर तन्मय तैलंग का. तन्मय बताते है कि इस फिल्म को 90 प्रतिशत कलाकार चाहे वह एक्टर हो या वीडियो एडिटर सब दृष्टिहीन है.

देश के अलग अलग हिस्सों में हमने कई वर्षो तक ऑडिशन लिए हजारों लोग सिलेक्ट भी किए हमने लेकिन सबसे बड़ी समस्या थी, दृष्टिहीन लोगों को शूटिंग लोकेशन पर लेकर जाना. कलाकारों के परिजन हमारे साथ भेजने को तैयार नहीं थे,उनका कहना था कि कैसे वो लोग रहेंगे कैसे वो काम करेंगे इन सबको देखते हुए कलाकारों के परिजन हमारे साथ नहीं भेजना चाहते थे. कई लोगों ने तो अपने बच्चों तक के नाम ही वापस ले लिए. लेकिन हमने हिम्मत नहीं हारी और दुबारा ऑडिशन लिए.

तन्मय का कहना है कि फिल्म के लिए हमने सभी चयनित कलाकारों को पहले मराठी बोलना सिखाया क्योंकि यह फिल्म मराठी में ही थी, कलाकार देश के अलग अलग हिस्सों से आए थे जिस कारण उनकी भाषा काफी अलग थी, लेकिन जब वो सीख गए मराठी में बात करना तब हमने फिल्म की शूटिंग शुरू की थी. फिल्म में समुद्र तट के शॉट्स भी थे जिसे दृष्टिहीन कलाकारों ने बिना डरे ही निभाया था.वो बताते है कि फिल्म दृष्टांत हमने कई अवॉर्ड शो में भेजे है, कई अवार्ड भी इस फिल्म ने जीते हैं.इतना ही नही इन कलाकार ने इतनी खूबसूरती से फिल्म में किरदार निभाया है कि मूवी देखने के काफी देर बात आपको पता चलेगा कि फिल्म के कलाकार देख नहीं सकते है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

ग्रेटर नोएडा में गुर्जरों ने फाड़े सीएम योगी आदित्यनाथ के पोस्टर, जानें नाराजगी की वजह

ग्रेटर नोएडा में पोस्टर फाड़कर अपनी नाराजगी जताता गुर्जर समाज का एक शख्स.

viral video : गुर्जर समाज के कुछ लोग इस बात से नाराज हैं कि मिहिर भोज के नाम के आगे गुर्जर सम्राट मिहिर भोज क्यों नहीं लिखा गया. स्थिति इतनी बिगड़ गई कि शनिवार को गुर्जर समाज के कुछ लोगों ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पोस्टर फाड़े डाले.

SHARE THIS:

नोएडा. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ 21 सितंबर और 22 सितंबर को ग्रेटर नोएडा में रहेंगे. 22 सितंबर को वे मिहिर भोज की मूर्ति का अनावरण करेंगे. लेकिन अनावरण से पहले ही ग्रेटर नोएडा में राजनीति तेज हो गई है. जहां एक तरफ गुर्जर समाज मिहिर भोज को अपना बता रहा है, वहीं दूसरी तरफ राजपूत समाज भी मिहिर भोज को अपना वंशज बताने में जुट गया है.

अनावरण समारोह के लिए ग्रेटर नोएडा के दादरी विधानसभा क्षेत्र में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पोस्टर लगाए गए थे. ये पोस्टर दादरी विधायक तेजपाल नागर ने पूरी विधानसभा में लगवाए हैं. लेकिन गुर्जर समाज के कुछ लोग इस बात से नाराज हैं कि मिहिर भोज के नाम के आगे गुर्जर सम्राट मिहिर भोज क्यों नहीं लिखा गया. स्थिति इतनी बिगड़ गई कि शनिवार को गुर्जर समाज के कुछ लोगों ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पोस्टर फाड़े डाले. गुर्जर समाज से जुड़े कुछ लोगों ने वीडियो मेसेज जारी करते हुए इस मुद्दे पर नाराजगी भी जताई और कहा कि पोस्टर में कहीं भी मिहिर भोज के नाम के आगे गुर्जर नहीं लिखा गया है. ऐसे में वे इसका विरोध करते हैं और पोस्टर फाड़ने के वीडियो जारी किए गए. जिसके बाद से दादरी विधानसभा में माहौल गर्म हो चला है. हालांकि अभी पुलिस इस पूरे मामले पर कुछ भी बोलने से बच रही है.

22 मिहिर भोज पीजी कॉलेज में सीएम का कार्यक्रम

22 सितंबर को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ 10 बजे मिहिर भोज पीजी कॉलेज पहुंचेंगे और वहां पर 12 फीट ऊंची मिहिर भोज की विशालकाय मूर्ति का अनावरण करेंगे. इस मूर्ति को प्रसिद्ध मूर्तिकार राम सुतार ने बनाया है. गुर्जर समाज सम्राट मिहिर भोज को अपना महाराजा बताते हैं और ऐसे में जब गुर्जर समाज के ही कुछ लोगों ने इस चीज का विरोध करना शुरू किया तो सभी ने चुप्पी साध रखी है.

पुलिस को कार्रवाई का आदेश

मामला संज्ञान में आने के बाद उच्च अधिकारियों ने वायरल हुए वीडियो का संज्ञान लेते हुए दादरी एसएचओ प्रदीप त्रिपाठी को मामले में जांच कर कार्रवाई के लिए आदेशित किया है.

Noida News: मानसिक तनाव से परेशान 4 लोगों ने की खुदकुशी, जांच में जुटी पुलिस

उन्होंने बताया कि थाना फेस-2 क्षेत्र में रहने वाली 19 वर्षीय युवती ने मानसिक तनाव के चलते पंखे से फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली.(सांकेतिक तस्वीर: Shutterstock)

प्रवक्ता ने बताया कि थाना बिसरख क्षेत्र (Bisrakh Police Station) की एक सोसायटी में रहने वाले संदीप रावत (30) ने मानसिक तनाव के चलते अपने घर पर पंखे से फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली. पुलिस मामले की जांच कर रही है.

  • News18Hindi
  • LAST UPDATED : September 18, 2021, 17:02 IST
SHARE THIS:

नोएडा. गौतमबुद्ध नगर (Gautam Buddha Nagar) जिले में कथित तौर पर विभिन्न घटनाओं में दो महिलाओं समेत चार लोगों ने आत्महत्या कर ली. पुलिस के प्रवक्ता ने बताया कि थाना फेस-3 क्षेत्र में रहने वाली प्रभा (28) ने मानसिक तनाव के चलते अपने घर पर पंखे से फंदा लगाकर आत्महत्या (Suicide) कर ली. उन्होंने बताया कि घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस मामले की जांच कर रही है. प्रवक्ता ने बताया कि थाना बिसरख क्षेत्र (Bisrakh Police Station) की एक सोसायटी में रहने वाले संदीप रावत (30) ने मानसिक तनाव के चलते अपने घर पर पंखे से फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली. पुलिस मामले की जांच कर रही है.

उन्होंने बताया कि थाना फेस-2 क्षेत्र में रहने वाली 19 वर्षीय युवती ने मानसिक तनाव के चलते पंखे से फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली. पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. प्रवक्ता ने बताया कि दिल्ली के रहने वाले रिंकू (30) ने अज्ञात कारणों के चलते तेजाब पी लिया. अत्यंत गंभीर हालत में उसे नोएडा के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया. जहां पर उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई. उन्होंने बताया कि थाना सेक्टर 24 पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है.

अस्पतालों में टेक्निशियन का काम कर रहा था
बता दें कि बीते मार्च महीने में गौतमबुद्ध नगर जिले के सेक्टर-24 थाना क्षेत्र के एक होटल में करीब एक सप्ताह से रुके केरल निवासी टेक्निशियन ने पंखे से फंदा लगाकर कथित रूप से आत्महत्या कर ली थी. पुलिस आयुक्त आलोक सिंह के मीडिया प्रभारी ने बताया था कि सेक्टर-24 थाना पुलिस को होटल मालिक ने शुक्रवार को सूचना दी कि उनके होटल में रूके केरल निवासी एल्डोस वी वी (40) ने कमरे में पंखे से फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली है. उन्होंने बताया था कि घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची फील्ड यूनिट ने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भिजवा दिया था. उन्होंने बताया था कि मृतक मूल रूप से केरल के एर्नाकुलम जिले के बलिया करोथा गांव का रहने वाला था. वह लंबे समय से दिल्ली-एनसीआर में रहकर अस्पतालों में टेक्निशियन का काम कर रहा था.

(इनपुट- भाषा)

Noida: होटल में रुके लड़का-लड़की से मारपीट करने, 70 हजार रिश्वत लेने के आरोप में 3 सिपाही सस्पेंड

नोएडा लड़का-लड़की से मारपीट और रिश्वत लेने के आरोप में तीन पुलिस कर्मियों को सस्पेंड किया है. (File)

Noida News: अपर उपायुक्त विशाल पांडे ने बताया कि चौकी में युवक और युवती के परिजन को भी बुलाया गया. उन्हें छोड़ने के एवज में परिजन तथा होटल संचालक से 70 हजार रुपए रिश्वत के तौर पर ले लिये गये.

  • News18Hindi
  • LAST UPDATED : September 18, 2021, 15:46 IST
SHARE THIS:

नोएडा. नोएडा थाना बीटा-2 क्षेत्र में स्थित एक होटल में ठहरे लड़का-लड़की के साथ मारपीट करने, उनसे और होटल संचालक से रिश्वत लेने के आरोप में पुलिस आयुक्त आलोक सिंह ने तीन पुलिसकर्मियों को शनिवार को निलंबित कर दिया. अपर पुलिस उपायुक्त (जोन तृतीय) विशाल पांडे ने बताया कि थाना बीटा-दो क्षेत्र के एक होटल में बुधवार को एक लड़का-लड़की आकर ठहरे थे.

उन्होंने बताया कि इसी बीच एक पुलिसकर्मी वहां पर पहुंच गया. उसने होटल में लड़का-लड़की के रुके होने की जानकारी ली और चला गया. इसके बाद उसने अपने अन्य पुलिसकर्मी साथियों को फोन करके मौके पर बुला लिया. उन लोगों ने जबरदस्ती करते हुए होटल संचालक और लड़का-लड़की को परी चौक पुलिस चौकी लेकर आ गये.

अपर उपायुक्त विशाल पांडे ने बताया कि चौकी में युवक और युवती के परिजन को भी बुलाया गया. उन्हें छोड़ने के एवज में परिजन तथा होटल संचालक से 70 हजार रुपए रिश्वत के तौर पर ले लिये गये. उन्होंने बताया कि सोशल मीडिया पर घटना का वीडियो वायरल होने के बाद इसकी जांच सहायक पुलिस आयुक्त प्रवीण कुमार को सौंपी गई है. अपर उपायुक्त ने बताया कि जांच अधिकारी प्रवीण कुमार की रिपोर्ट के आधार पर पुलिस आयुक्त ने इस मामले में सख्त कार्रवाई करते हुए हेड कांस्टेबल राजेंद्र सिंह, कांस्टेबल सचिन बालियान व कांस्टेबल अंकित कुमार को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है. इनके खिलाफ विभागीय कार्रवाई भी की जा रही है.

नोएडा में साइबर ठगी का अजीबोगरीब मामला, ऐप डाउनलोड करते ही खाते से उड़ गए 71 हजार

थाना प्रभारी ने बताया कि घटना की रिपोर्ट दर्ज कर पुलिस मामले की जांच कर रही है. (सांकेतिक फोटो)

थाना सेक्टर 49 के प्रभारी निरीक्षक विनोद कुमार सिंह (Inspector Vinod Kumar Singh) ने बताया कि सेक्टर 74 में रहने वाले हरीश सचान ने रिपोर्ट दर्ज कराई है कि उनकी बेटी के फोन पर एक संदेश आया, जिसमें केवाईसी अद्यतन कराने के लिए कहा गया था.

  • News18Hindi
  • LAST UPDATED : September 18, 2021, 15:34 IST
SHARE THIS:

नोएडा. नोएडा (Noida) थाना सेक्टर 49 में एक व्यक्ति ने साइबर ठगों (Cyber Thugs) के खिलाफ धोड़ाधड़ी करके उसके खाते से 71,000 रुपए निकालने का मामला दर्ज कराया है. थाना सेक्टर 49 के प्रभारी निरीक्षक विनोद कुमार सिंह (Inspector Vinod Kumar Singh) ने बताया कि सेक्टर 74 में रहने वाले हरीश सचान ने रिपोर्ट दर्ज कराई है कि उनकी बेटी के फोन पर एक संदेश आया, जिसमें केवाईसी अद्यतन कराने के लिए कहा गया था. सिंह ने बताया कि शिकायत में कहा गया कि इस दौरान जैसे ही उन्होंने एक ऐप डाउनलोड किया उनके खाते से करीब 71 हजार रुपये निकल गए. थाना प्रभारी ने बताया कि घटना की रिपोर्ट दर्ज कर पुलिस मामले की जांच कर रही है.

इसी प्रकार का एक और मामला सेक्टर 21 में सामने आया है. थाना सेक्टर 20 में एक महिला ने साइबर ठगों के खिलाफ केवाईसी अद्यतन करने के नाम पर उनके खाते से 1,45,000 रुपए निकालने का मामला दर्ज कराया है. थाना सेक्टर 20 के प्रभारी निरीक्षक मनीष प्रताप सिंह चौहान ने बताया कि घटना की रिपोर्ट दर्ज कर पुलिस मामले की जांच कर रही है.

 विक्रांत कुमार चौधरी को गिरफ्तार किया है
वहीं, पिछले 12 सितंबर को खबर सामने आई थी कि  पश्चिमी उत्तर प्रदेश विशेष कार्य बल (STF) की नोएडा इकाई ने भारतीय स्टेट बैंक (SBI) के पूर्व सहायक प्रबंधक सहित दो लोगों को 40 लाख रुपए से अधिक की ठगी की 12 घटनाओं के मामले में गिरफ्तार किया है. पश्चिमी उप्र एसटीएफ के पुलिस अधीक्षक कुलदीप नारायण (Kuldeep Narayan) ने बताया था कि बल की नोएडा इकाई ने एसबीआई कार्ड से लाखों रुपए की धोखाधड़ी के मामले में एसबीआई कार्ड के पूर्व सहायक प्रबंधक अभिषेक चंद्रा और विक्रांत कुमार चौधरी को गिरफ्तार किया है. दोनों दिल्ली निवासी हैं.

धोखाधड़ी का मामला दर्ज कराया गया था
उन्होंने बताया कि पिछले कुछ समय से ठगी के कई मामले सामने आ रहे थे. एसबीआई कार्ड की तरफ से इस संबंध में लखनऊ स्थित एसटीएफ के मुख्यालय में शिकायत की गई, जिसके बाद नोएडा एसटीएफ के क्षेत्रीय इकाई प्रमुख अक्षय त्यागी ने जांच शुरू की. जांच के दौरान चंद्रा और चौधरी को गिरफ्तार कर लिया गया. जांच में सामने आया है कि एसबीआई कार्ड की तरफ से इस संबंध में गाजियाबाद के थाना कविनगर में भी धोखाधड़ी का मामला दर्ज कराया गया था.

(इनपुट- भाषा)

ग्रेटर नोएडा में मॉल, होटल या ऑफिस कॉम्प्लेक्स के लिए प्लॉट खरीदने का सुनहरा मौका, अथॉरिटी ने लॉन्‍च की 9 स्‍कीम

ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी ने 9 स्‍कीम के तहत प्‍लॉट्स का रिवर्ज प्राइस 139 करोड़ से अधिक रखा है.

Greater Noida News: ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी (Greater Noida Authority) ने मॉल, होटल और ऑफिस कॉम्प्लेक्स (Office Complex) बनाने के लिए 9 कमर्शियल प्लॉट की स्कीम (9 Commercial Plots Scheme) लॉन्‍च की हैं. इसके लिए 25 अक्टूबर को ऑक्शन होगा.

  • News18Hindi
  • LAST UPDATED : September 18, 2021, 11:58 IST
SHARE THIS:

ग्रेटर नोएडा. उत्तर प्रदेश के गौतम बुद्ध नगर के ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी (Greater Noida Authority) में मॉल (Mall), होटल और ऑफिस कॉम्प्लेक्स (Office Complex) बनाने का एक और मौका दिया है. दरअसल अथॉरिटी ने गुरुवार को 9 कमर्शियल प्लॉट की स्कीम (9 Commercial Plots Scheme) लॉन्‍च की हैं. इसके लिए इच्छुक लोग 8 अक्टूबर तक अथॉरिटी की वेबसाइट से आवेदन डाउनलोड कर सकते हैं. वहीं, आवेदन भरने के बाद इसे 12 अक्टूबर सबमिट किया जा सकेगा. ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी ने ऑक्शन की डेट 25 अक्टूबर तय की है. बता दें कि अथॉरिटी 31,328 वर्ग मीटर जमीन का आवंटन करेगी और करीब 139 करोड़ से अधिक का निवेश होगा.

इस बारे में ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी के सीईओ नरेंद्र भूषण ने बताया कि शहर में मॉल, होटल और ऑफिस कॉम्प्लेक्स आदि की योजना लॉन्च की गई है. वहीं, इच्छुक लोग 12 अक्‍टूबर तक अपने फार्म जमा कर सकते हैं. उन्‍होंने बताया कि सेक्टर डेल्टा टू, सेक्टर-36, गामा टू, ईटा वन, पी-4 में दो और पाई वन में तीन कमर्शियल प्लॉट हैं. साथ ही बताया कि फ्लोर एरिया रेश्यो वाले इन प्‍लॉट्स के लिए रिजर्व प्राइस 44,250 रुपये प्रति वर्ग मीटर से लेकर 46,190 रुपये प्रति वर्ग मीटर तक है. जबकि प्लॉट साइज 1200 वर्ग मीटर से लेकर 7455 वर्ग मीटर तक हैं.

ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी को मिलेंगे 139 करोड़ से अधिक
बता दें कि ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी के इन प्‍लॉट्स की कीमत रिवर्ज प्राइस के आधार पर 139 करोड़ रुपये से अधिक है. हालांकि ऑक्शन में रिजर्व प्राइस से अधिक कीमत लगानी होती है. इस वजह से अथॉरिटी को तय कीमत से अधिक की आमदनी होनी तय है. जबकि प्‍लॉट्स की की कीमत 5.54 करोड़ से लेकर 32.99 करोड़ रुपये तक रखी गयी है.

नितिन गडकरी ने जेवर एयरपोर्ट को दी 2100 करोड़ की सौगात, Delhi-NCR को चमकाने के लिए उठाया ये कदम

जानें कहां कितनी है कीमत
>>सी-02, सेक्टर-ईटा वन 7455 44,250 32.99 करोड़
>>सी-2-सेक्टर -पाई वन 4374 44,250 19.35 करोड़
>>सी-3-सेक्टर पाई वन 4376 44,250 19.36 करोड़
>>एलएस-1, सेक्टर-पी-4 3132 44,250 13.85 करोड़
>>एलएस-2, सेक्टर-पी-4 3153 44,250 13.95 करोड़
>>सीएस-16, सेक्टर-गामा टू 2782 46,190 12.85 करोड़
>>सी-1, सेक्टर-पाई वन 2500 44,250 11.06 करोड़
>>एलएस-9, सेक्टर-36 2356 44250 10.42 करोड़
>> सीएस-23, सेक्टर-डेल्टा टू 1200 46,190 5.54 करोड़

Noida कभी कुश्ती का गढ़ हुआ करता था,जानिए क्यों समय के साथ ढहता गया कुश्ती का किला 

नोएडा के अखाड़े के पहलवान बिना सरकार के मदद के तैयारी करते हैं.

देवेंद्र कहते हैं खेल की भावना कई साल पहले ही खत्म हो गई, खेल की बागडोर कुछ गलत हाथों में चली गई थी.

SHARE THIS:

नोएडा: ओलिंपिक 2020 में जापान के टोक्यो में जब रवि दहिया ने कुश्ती में अपना अंतिम दाव खेला और सिल्वर मेडल जीतकर देश का नाम रोशन किया था.उसके बाद देश के कई कुश्ती खिलाड़ी रवि दहिया को अपना रोल मॉडल मान कर पूरे जोश के साथ तैयारी करते थे.इसमें नोएडा स्थित सरफाबाद गांव के छोटे छोटे खिलाड़ी भी शामिल थे जो ओलंपिक में स्वर्ण पदक जीतने का सपना लिए प्रैक्टिस करने लगे. लेकिन सही गाइडेंस और ट्रेनिंग की कमी के कारण उनका सपना कोसो दूर ही रहा. पश्चिमी उत्तर प्रदेश का जिला गौतमबुद्ध नगर (नोएडा) कभी कुश्ती का गढ़ हुआ करता था और बड़े दंगल आयोजित कराए जाते थे, लेकिन पिछले कुछ सालों में यहां से कुश्ती प्रतियोगिता लगभग बंद हो गई थी.लेकिन जब से देश के पहलवान कुश्ती में जीत दर्ज कर देश का मान बढ़ा रहे हैं तो फिर से अब कुश्ती की तरफ लोग दुबारा मुड़ रहे है. लेकिन प्रश्न उठता है कि ऐसा क्या हुआ कि नोएडा समेत पूरे पश्चिमी उत्तर प्रदेश से कुश्ती, दंगल का आयोजन लगभग बंद हो गए थे?

कुछ हमारी अनदेखी रही कुछ सरकार ने ध्यान नहीं दिया
नोएडा सेक्टर 73 स्थित सरफाबाद गांव में मूलक पहलवान की अकादमी बच्चों को कुश्ती सीखा रही है, इस अखाड़े के संचालक कहते हैं कि जिस समय नोएडा में कुश्ती प्रतियोगिता आयोजित की जाती थी साथ ही बड़े बड़े दंगल आयोजित कराए जाते थे. उस वक्त लोग कुश्ती के महत्व को समझते थे लेकिन समय के साथ सबकुछ बदलता चला गया. लोगों ने खेल पर से ध्यान हटाना शुरू कर दिया, वो बताते हैं मैने 18 साल फौज में सेवा दी है, मैं फौज में कुश्ती के वजह से ही गया था लेकिन लोग इस बात को नहीं समझते हैं कि खेल आपको क्या क्या दे सकता है. इसके बाद सरकार की भी रवैया ठीक नहीं था, खेल की भावना को किसी सरकार ने समझा ही नहीं है.

अखाड़े के नाम पर गुंडे पालने लगे थे कुछ लोग
सराफाबाद गांव के निवासी देवेंद्र कुमार कहते हैं कि खेल की भावना तो कई साल पहले ही खत्म हो गई थी, क्योंकि खेल की बागडोर कुछ गलत हाथों में चली गई थी. अखाड़े में लड़कों को तैयार करके अखाड़ा संचालक पहलवानों का गलत प्रयोग करते थे. पहलवानों के माता पिता उनको सीखने के लिए भेजते थे लेकिन अखाड़ा संचालक उन्हें लड़ाई, प्रदर्शन, धरना, बाहुबल में इस्तेमाल करने लगे.जिस कारण कुश्ती और अखाड़ा बदनाम होता चला गया. देवेंद्र कहते हैं कि आप हरियाणा को देखिए वहां जनता और सरकार दोनों खेल के लिए समर्पित है, वहां किसी की भी सरकार आ जाए खेल के लिए भावना वही रहती है लेकिन उत्तर प्रदेश में इसका ठीक उल्टा है.

ढाई लीटर दूध पीते है, तब करते है तैयारी
अखाड़े में छोटा पहलवान आकाश प्रैक्टिस के बाद शरीर से मिट्टी झाड़ते हुए कहते हैं कि मेरी प्रैक्टिस रोज सुबह चारा बजे से आठ बजे तक होती है, मेरे घर में भैंस है तो मुझे दूध पीने में समस्या नहीं होती मैं डेली ढाई लीटर दूध बादाम के साथ खाता हूं. तब प्रैक्टिस करता हूं. आकाश कहते हैं कि मुझे ओलंपिक गोल्ड मेडल जीतकर इतिहास बनाना है. सरकार या जिला प्रशासन क्या मदद कर रही है इसके जवाब में वो कहते है कि सरकार के भरोसे रहते तो मेडल आ जाता क्या? हम अपनी ताकत पर भरोसा करते हैं.

(रिपोर्ट- आदित्य कुमार)

Noida news bulletin: देखिए नोएडा की बड़ी खबरें एक साथ.

Noida gate.

नोएडा न्यूज: जल्द ही सेक्टर 71का अंडर पास बनकर तैयार हो जाएगा, इसके बाद लाखों लोगों को हो रही परेशानी दूर होगी.

SHARE THIS:

1. नोएडा में शुक्रवार को ममुरा और बिसरख प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर मेगा वैक्सीनेशन कार्यक्रम चलाया जाएगा. यहां पर corona Vaccine पहली और दूसरी दोनो डोज लगाई जाएगी. मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ सुनील शर्मा ने गुरुवार को बताया कि जिले में वैक्सीनेशन पूरे प्रदेश में सबसे लगाया गया है, लोगों को सहूलियत के लिए नोएडा के अस्पतालो के अलावा बिसरख और ममूरा के पीएचसी में भी वैक्सीन लगाई जाएगी उसके लिए लोगों को आधार कार्ड लाना होगा.

2. नोएडा सेक्टर 33 स्थित आरटीओ कार्यालय में घुस कर कर्मचारियों को धमकाने वाले मामले में सेक्टर 24 पुलिस ने दो नामजद समेत सात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है. एडीसीपी रणविजय सिंह ने गुरुवार को बताया कि मामला संज्ञान में आने के बाद आरटीओ कार्यालय से मिली शिकायत के अनुसार अनूप उपाध्याय,नीरज शुक्ला नामजद समेत पांच अन्य अज्ञात पर मुकदमा दर्ज किया गया है. वहीं अनूप उपाध्याय और नीरज शुक्ला ने गुरुवार को प्रेस कांफ्रेंस कर आरटीओ कार्यालय में भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए कहा कि वहां पर भ्रष्टाचार का विरोध करने पर लड़ाई हुई थी.

3. नोएडा के सेक्टर 71 अंडरपास का काम एक हफ्ते में पूरा कर लिया जाएगा. जिसके बाद लाखों लोगों को नोएडा से ग्रेटर नोएडा और नोएडा के अन्य क्षेत्रों में आने जाने में आसानी होगी. नोएडा प्राधिकरण के वरिष्ठ प्रबंधक राजीव त्यागी ने गुरुवार को बताया कि बारिश के कारण काम धीमा हो गया था एक हफ्ते में काम पूरा कर लिया जाएगा.उसके बाद लोगों को जो तीन चार किलोमीटर ज्यादा चलना पड़ता है उस से छुटकारा मिल जाएगा.

(रिपोर्ट – आदित्य कुमार)

Noida News Bulletin: ई- साईकल के लिए अभी भी नोएडा के लोगों करना होगा इंतजार

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का जन्मदिन मनाते लोग.

ई-साईकल के लिए लोगों को और इंतजार करना पड़ेगा. दूसरा निविदा जल्द निकाला जाएगा.

SHARE THIS:

1. गौतमबुद्ध नगर के नोएडा में रहने वाले लोगों को ई – साइकिल की सवारी के लिए अभी कुछ दिन और इंतजार करना होगा, अक्टूबर माह तक ही ईसाइकिल सुचारू रूप से लोगों के लिए उपलब्ध होगी. नोएडा प्राधिकरण के सीईओ ऋतु माहेश्वरी ने शुक्रवार को बताया कि नोएडा में 62 जगहों पर ई – साइकिल स्टैंड बनाया गया है. इस परियोजना को चलाने वाले एजेंसी के रूप में एक कंपनी का चयन कर लिया गया है. इसके बाद अक्टूबर तक ही लोग ई- साइकिल का लाभ ले पाएंगे.

2. देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का जन्मदिन आज नोएडा में भी धूमधाम से मनाया गया. इस अवसर पर मिशन मोदी अगेन ट्रस्ट के कार्यकर्ताओं ने प्रधानमंत्री का जन्मदिन बड़े जोश के साथ मनाया, जीएनआईओटी कॉलेज में सैकड़ों की संख्या में कार्यकर्ताओं ने जन्मदिन के कार्यक्रम में हिस्सा लिया. ट्रस्ट के जिला संयोजक धर्मेंद्र कुमार उपाध्याय ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश के सबसे लोकप्रिय प्रधानमंत्री में से एक है, उनका देश के लिए समर्पण अतुलनीय है.

3. बीते दिनों नोएडा सेक्टर 33 स्थित आरटीओ कार्यालय में कुछ लोग घुसकर आरटीओ कार्यालय के कर्मचारियों को धमकाने वाले सात आरोपितों में से दो को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. एसीपी रजनीश वर्मा ने बताया कि नीरज शुक्ला और एक उसके साथी को गंगा शॉपिंग कॉम्प्लेक्स के बाहर से गिरफ्तार किया गया है.

(रिपोर्ट-आदित्य कुमार)

नोएडा से मॉर्निंग वॉक के दौरान अगवा छात्रा को पुलिस ने 24 घंटे में ढूंढा, आरोपी गिरफ्तार

नोएडा में अगवा की गई एक छात्रा को पुलिस ने गोंडा से ढूंढ लिया है.

Noida Crime News: नोएडा में मार्निंग वॉक करते समय छात्रा का हुआ था अपहरण, छात्रा गोंडा से हुई बरामद. 24 घंटे के अंदर पुलिस ने छात्रा को ढूंढ निकाला और आरोपी गिरफ्तार हो गया है. यूपी के गृह विभाग ने गोंडा और नोएडा पुलिस को 1-1 लाख रुपये का दिया इनाम.

SHARE THIS:

नोएडा. यूपी पुलिस की कामयाबी की खबर गोंडा जिले से है, जहां नोएडा के बादलपुर थाना क्षेत्र से अगवा की गई छात्रा को गोंडा पुलिस ने 24 घंटे के अंदर बरामद कर लिया है. आरोपी युवक अनिमेष तिवारी को भी गिरफ्तार कर लिया है. छात्रा के अपहरण मामले में 24 घंटे में कार्रवाई हुई है. यूपी शासन के गृह विभाग ने इस कामयाबी पर खुश होकर नोएडा पुलिस के अलावा गोंडा पुलिस टीम को 1-1 लाख रुपये इनाम दिया है.

दरअसल गुरुवार को सुबह बादलपुर के दादरी से छात्रा का मॉर्निंग वाक करते समय अपहरण हुआ था और आज गोंडा में पुलिस ने नोएडा पुलिस की मदद से छात्रा को बरामद कर लिया. वहीं आरोपी युवक को भी अरेस्ट कर लिया गया है. एसीएस अवनीश अवस्थी ने नोएडा और गोंडा पुलिस को 1-1 लाख रुपये इनाम देने की घोषणा की है.

छात्रा प्रेमी के साथ थी और अगवा होने की झठी साजिश रची थी

वहीं नोएडा पुलिस ने इस कहानी में नया मोड़ लाते हुए खुलासा किया है की छात्रा अनिमेष से प्रेम करती थी और बदनामी के डर से खुद के अपहरण की साजिश रच डाली थी. फिलहाल दोनों सकुशल बरामद कर लिए गए है और पुलिस विधिक कार्रवाई में जुटी हुई है. वहीं ग्रेटर नोएडा के सादौपुर गांव से गुरुवार यानी कल सुबह कथित तौर अगवा हुई छात्रा के मामले में नया मोड़ आ गया है. पुलिस का कहना है कि छात्रा का अपहरण नहीं हुआ था बल्कि वह अपने प्रेमी के साथ चली गई थी. प्रेमी और छात्रा को पुलिस ने उत्तर प्रदेश के गोंडा से सकुशल बरामद कर लिया है. इज्जत बचाने के चक्कर में घरवालों ने इसे अपहरण का रूप दे दिया था.

NEET की तैयारी कर रही है छात्रा 

कोतवाली बादलपुर के अंतर्गत आने वाले सादौपुर गांव की बीएससी फाइनल ईयर में पढ़ रही छात्रा इस समय नीट की तैयारी कर रही है. छात्रा के परिजनों का आरोप था गुरुवार को छात्रा अपने भाई-बहनों के साथ की सुबह टहलने के लिए निकली थी तभी कार सवार बदमाशों ने उनकी बेटी का अपहरण कर लिया था. आज गोंडा और नोएडा पुलिस ने छात्रा को उसके प्रेमी अनिमेष तिवारी के साथ जनपद गोंडा से बरामद कर लिया है. पुलिस अधीक्षक संतोष मिश्रा ने न्यूज 18 से बताया की छात्रा को पुलिस ने बरामद कर लिया है.

ई-नीलामी में नोएडा के DM सुहास के बैडमिंटन रैकेट की कीमत 10 करोड़ रुपये पहुंची

इसी रैकेट से टोक्यो पैरालंपिक 2020 में डीएम सुहास ने जीता था सिल्वर मेडल.

e-auction : केंद्र सरकार की वेबसाइट पीएम मेमेंटोज पर चल रही ई-नीलामी में गौतमबुद्ध नगर के डीएम सुहास यतिराज का वह बैडमिंटन रैकेट भी है, जिससे उन्होंने टोक्यो पैरालंपिक 2020 में सिल्वर मेडल जीता था. फिलहाल इस रैकेट की कीमत 10 करोड़ रुपये हो चुकी है. इससे हुई आय का उपयोग नमामि गंगे प्रोजेक्ट में होगा.

SHARE THIS:

नोएडा. गौतमबुद्ध नगर के DM सुहास यतिराज ने जिस बैडमिंटन रैकेट से टोक्यो पैरालंपिक 2020 में इतिहास रचा, उसे ई-ऑक्शन में रखा गया है. यह ई-ऑक्शन केंद्र सरकार करा रही है. डीएम सुहास के इस रैकेट पर अब तक 4 बिडर्स ने बोली लगाई है. आज यानी 17 सितंबर से शुरू हुए इस ई-ऑक्शन में रैकेट की बेस प्राइस 50 लाख रुपये रखी गई थी, जो अब 10 करोड़ रुपये हो चुकी है. इसी बैडमिंटन रैकेट से डीएम सुहास ने टोक्यो पैरालंपिक में सिल्वर मेडल जीता था. 7 अक्टूबर की शाम 5 बजे तक ई-ऑक्शन की खुला है, जो भी चाहे वह बोली लगा सकता है.

बोली लगाने के लिए आपको वेबसाइट पीएम मेमेंटोज पर जाना होगा. यहां आपको नीरज चोपड़ा के उस जेबलिन की बोली लगते हुए भी दिख जाएगी जिससे नीरज चोपड़ा ने टोक्यो ओलंपिक 2020 में गोल्ड मेडल जीता था. इसके अलावा पीएम नरेंद्र मोदी को अलग-अलग अवसरों पर मिले गिफ्ट आइटमों की भी ई-नीलामी में शामिल होने का अवसर केंद्र सरकार की इस वेबसाइट पर मिलेगा. संस्कृति मंत्रालय की ओर से आयोजित इस ई-ऑक्शन से आए पैसों का इस्तेमाल नमामि गंगे में किया जाएगा.

इसे भी पढ़ें : Tokyo Paralympics में नोएडा के डीएम सुहास यतिराज ने सिल्वर जीतकर रचा था इतिहास

जाने सुहास यतिराज को

टोक्यो पैरालंपिक 2020 के एसएल4 क्लास फाइनल में सुहास यतिराज फ्रांस के लुकास माजूर से हारकर गोल्ड मेडल से चूक गए थे. माजूर ने सुहास को 15-21, 21-17, 21-15 से हराया था. टोक्यो पैरालंपिक में बैडमिंटन में यह भारत का तीसरा पदक है. गौतम बुद्ध नगर (नोएडा) के 38 वर्षीय जिलाधिकारी (डीएम) सुहास पैरालंपिक खेलों में पदक जीतने वाले पहले आईएएस अधिकारी हैं. कर्नाटक के 38 वर्ष के सुहास के टखनों में विकार है. कोर्ट के भीतर और बाहर कई उपलब्धियां हासिल कर चुके सुहास कम्प्यूटर इंजीनियर है और 2007 बैच के आईएसएस अधिकारी भी. वह 2020 से नोएडा के जिलाधिकारी हैं.

UP Elections : कांग्रेस ने स्क्रीनिंग कमेटी का गठन किया, जितेंद्र सिंह अध्यक्ष बनाए गए

केसी वेणुगोपाल ने यूपी चुनाव के लिए कांग्रेस की स्क्रिनिंग कमिटी का गठन किया.

कांग्रेस मुख्‍यालय के मुताबिक, चुनाव लड़ने के इच्छुक पार्टी कार्यकर्ताओं से आवेदन मांगे हैं. कांग्रेस की प्रदेश इकाई के प्रवक्‍ता उमाशंकर पांडेय ने बताया कि प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कहा है कि चुनाव लड़ने के इच्छुक कार्यकर्ता अपना आवेदन प्रदेश या जिला मुख्यालय पर 26 सितंबर, 2021 तक जमा कर सकते हैं.

  • News18Hindi
  • LAST UPDATED : September 17, 2021, 16:40 IST
SHARE THIS:

नोएडा. यूपी विधानसभा चुनाव 2022 के मद्देनजर तमाम पार्टियों की गतिविधियां बढ़ चुकी हैं. शुक्रवार को कांग्रेस ने भी यूपी चुनाव के लिए स्क्रीनिंग कमेटी का गठन कर दिया गया है. कांग्रेस के महासचिव केसी वेणुगोपाल की ओर से जारी प्रेस विज्ञप्ति में इस बात की जानकारी दी गई है.

केसी वेणुगोपाल ने बताया कि कांग्रेस ने आनेवाले यूपी चुनावों के लिए स्क्रीनिंग कमेटी का गठन किया जिसमें जितेंद्र सिंह अध्यक्ष, दीपेंद्र एस हुड्डा और वर्षा गायकवाड़ सदस्य के रूप में हैं. इनके अलावा महासचिव प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा, पार्टी के यूपी प्रमुख अजय लल्लू, सीएलपी नेता आराधना मिश्रा मोना पदेन सदस्य होंगे.

इस बीच, कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव और प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी यूपी में लगातार सक्रिय हैं और दौरा कर रही हैं. इस दौरान वे अपने पार्टी कार्यकर्ताओं का मनोबल भी बढ़ा रही हैं और पार्टी के भीतर चुनावी माहौल तैयार कर रही हैं. प्रियंका गांधी ने अपने दौरों में संगठन निर्माण पर जोर दिया है.

UP Assembly Elections यूपी विधानसभा चुनाव, Congress Party कांग्रेस पार्टी, Screening Committee स्क्रीनिंग कमेटी, General Secretary KC Venugopal महासचिव केसी वेणुगोपाल, Priyanka Gandhi प्रियंका गांधी, Deependra S Hooda दीपेंद्र एस हुड्डा, Varsha Gaikwad वर्षा गायकवाड़, UP Chief Ajay Lallu यूपी प्रमुख अजय लल्लू, Aradhana Mishra Mona आराधना मिश्रा मोना, Congress politics कांग्रेस की राजनीति, electoral strategy चुनावी रणनीति

स्क्रीनिंग कमिटी की घोषणा.

कांग्रेस मुख्‍यालय के मुताबिक, उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव, 2022 की तैयारियों में जुटी कांग्रेस ने चुनाव लड़ने के इच्छुक पार्टी कार्यकर्ताओं से आवेदन मांगे हैं. कांग्रेस की प्रदेश इकाई के प्रवक्‍ता उमाशंकर पांडेय ने बताया कि प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कहा है कि चुनाव लड़ने के इच्छुक कार्यकर्ता अपना आवेदन प्रदेश या जिला मुख्यालय पर 26 सितंबर, 2021 तक जमा कर सकते हैं. प्रियंका गांधी ने एक समीक्षा बैठक में कहा था कि टिकट बंटवारे में संगठन और पदाधिकारियों की राय महत्‍वपूर्ण होगी. उन्होंने कहा कि सिर्फ कांग्रेस के लिए ही नहीं वरन राष्ट्र निर्माण के लिए भी एक मजबूत संगठन की जरूरत है.

UP News Live Updates: ग्रेटर नोएडा में फर्जी निकला छात्रा का अपहरण, प्रेमी संग हुई थी फरार

ग्रेटर नोएडा में फर्जी निकला छात्रा का अपहरण (File photo)

Uttar Pradesh News Live: उत्तर प्रदेश के गृह विभाग ने गौतमबुद्ध नगर पुलिस कमिश्नरेट को घटना का जल्‍दी खुलासा करने के लिए 1 लाख रुपये का ईनाम देने की घोषण की है.

  • News18Hindi
  • LAST UPDATED : September 17, 2021, 14:26 IST
SHARE THIS:

UP News Live Updates 17 September 2021: यूपी के ग्रेटर नोएडा के बादलपुर थाना क्षेत्र में मॉर्निंग वॉक (Morning Walk) पर निकली छात्रा के अपहरण की कहानी फर्जी निकली (Fake Kidnapping Story) है. दरअसल छात्रा के अपहरण की कहानी परिवारजनों ने ही रची थी, क्‍योंकि वह एक दिन पहले प्रेमी के साथ घर से फरार हो गई थी. वहीं, परिवार ने अपनी इज्जत बचाने के चक्कर में अपहरण की साजिश रच डाली. यही नहीं, उत्तर प्रदेश के गृह विभाग ने गौतमबुद्ध नगर पुलिस कमिश्नरेट को घटना का जल्‍दी खुलासा करने के लिए 1 लाख रुपये का ईनाम देने की घोषण की है.

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के ज्यादातर इलाकों में हो रही मूसलाधार बारिश (Incessant Rain) ने आम जनजीवन अस्त-व्यस्त कर दिया है. शुक्रवार सुबह से प्रदेश के कई जिलों में तेज बारिश का सिलसिला जारी है. सूत्रों के मुताबिक अलग-अलग जगहों पर मकान ढहने और दीवार गिरने की वजह से अब तक 22 लोगों की जान जा चुकी हैं, जबकि कई घायल हैं, जिनका इलाज चल रहा है. फिलहाल सरकार की तरफ से कोई अधिकारिक आंकड़ा सामने नहीं आया है.

यूपी में भारी बारिश को देखते हुए योगी सरकार ने दो दिन यानी की 17 और 18 सितंबर को प्रदेश के सभी स्कूल-कॉलेज को बंद रखने का ऐलान कर दिया है. वहीं समाजवादी पार्टी ने कहा, उत्तर प्रदेश में भारी बारिश के चलते 50 लोगों की मृत्यु, हृदय विदारक घटना! मृतकों की आत्माओं को शांति दे भगवान. शोक संतप्त परिजनों के प्रति गहरी संवेदना. पीड़ित परिवारों को उचित मुआवज़ा प्रदान करे सरकार.

कई जिलों के लिए ऑरेंज अलर्ट
विभाग की ओर से कई जिलों के लिए ऑरेंज अलर्ट भी जारी किया गया है. बारिश के साथ साथ 87 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा के तेज झोंके भी चलेंगे. जिन जिलों में बारिश जारी रहेगी, वह जिले हैं- अमेठी, अयोध्या, बाराबंकी, बहराइच, सीतापुर, लखीमपुर खीरी, हरदोई, लखनऊ, उन्नाव, रायबरेली, कानपुर नगर, कानपुर देहात, औरैया, इटावा, कन्नौज, मैनपुरी, फर्रुखाबाद, शाहजहांपुर, बरेली, पीलीभीत, बदायूं, कासगंज, एटा, मथुरा, अलीगढ़, बुलंदशहर और नोएडा.

OMG! फर्जी निकला 20 साल की छात्रा का अपहरण, इज्जत बचाने के लिए परिवार ने रची कहानी, युवती प्रेमी संग हुई थी फरार

मॉर्निंग वॉक पर निकली 20 साल की छात्रा ज्‍याति के अपहरण की सूचना से हड़कंप मच गया था.

UP Crime News: यूपी के गौतम बुद्ध नगर के ग्रेटर नोएडा में गुरुवार को 20 साल की छात्रा के अपहरण (Kidnapping) से हड़कंप मच गया था. परिवार के मुताबिक, 20 साल की ज्‍योति अपने तीन छोटे भाई-बहनों के साथ मॉर्निंग वॉक (Morning Walk) निकली थी. इसी दौरान वैन में सवार लोगों ने उसका अपहरण कर लिया. हालांकि ग्रेटर नोएडा पुलिस (Greater Noida Police) ने इस मामले का 24 घंटे में खुलासा करते हुए परिवार की फर्जी अपहरण की कहानी की पोल खोल दी है.

SHARE THIS:

हिमांशु शुक्‍ला

ग्रेटर नोएडा. यूपी के ग्रेटर नोएडा के बादलपुर थाना क्षेत्र में मॉर्निंग वॉक (Morning Walk) पर निकली छात्रा के अपहरण की कहानी फर्जी निकली (Fake Kidnapping Story) है. दरअसल छात्रा के अपहरण की कहानी परिवारजनों ने ही रची थी, क्‍योंकि वह एक दिन पहले प्रेमी के साथ घर से फरार हो गई थी. वहीं, परिवार ने अपनी इज्जत बचाने के चक्कर में अपहरण की साजिश रच डाली. यही नहीं, ग्रेटर नोएडा पुलिस (Greater Noida Police) ने ताबड़तोड़ कार्रवाई करते हुए छात्रा को उसके प्रेमी के साथ यूपी के गोंडा के जानकी नगर से बरामद कर लिया है. यही नहीं, उत्तर प्रदेश के गृह विभाग ने गौतमबुद्ध नगर पुलिस कमिश्नरेट को घटना का जल्‍दी खुलासा करने के लिए 1 लाख रुपये का ईनाम देने की घोषण की है.

बता दें कि परिजनों ने गुरुवार को आरोप लगाया था कि पहले तो छात्रा के साथ छेड़छाड़ की गई और फिर बदमाश उसको कार में डालकर ले गए. यही नहीं, जब तक लड़की के साथ मॉर्निंग वॉक पर गए भाई-बहनों ने शोर मचाया, तब तक बदमाश गाड़ी लेकर फरार हो चुके थे. लड़की अपने तीन भाई-बहनों के साथ वॉक पर निकली थी. इस घटना के बाद लोगों ने नेशनल हाइवे 91 (National Highway) जाम कर दिया था.

24 घंटे में खोला मामला
ग्रेटर नोएडा में अपहरण (Kidnapping) का मामला सामने के साथ इलाके में सनसनी फैल गई थी. जबकि पुलिस ने इस मामले की जांच करने के लिए 5 टीम का गठन किया था. हालांकि इस मामले के खुलासे के बाद पुलिस हैरान है, क्‍योंकि परिवार के द्वारा झूठी कहानी बनाई गई ताकि समाज में इज्जत बनी रहे. यही नहीं, इस घटना को सही साबित करने के लिए जीटी रोड पर जाम लगाने के बाद थाने का भी घेराव किया गया था, लेकिन मामले का खुलासा होने से परिवार बेनकाब हो गया है. 24 घंटे के भीतर अपहरण के मामले को पुलिस ने खोल दिया है.

नितिन गडकरी ने जेवर एयरपोर्ट को दी 2100 करोड़ की सौगात, Delhi-NCR को चमकाने के लिए उठाया ये कदम

क्या थी झूठी कहानी?
ग्रेटर नोएडा के बादलपुर थाना क्षेत्र में गुरुवार को सुबह 5 बजे मॉर्निंग वॉक पर निकली छात्रा के अपहरण की बात सामने आई. अपहरणकर्ता छात्रा को कार में बैठा कर फरार हो गए. शुरू में परिवार द्वारा बताया गया कि अपहरणकर्ता छात्रा अपनी एक बहन और दो भाइयों के साथ मॉर्निंग पर निकली थी, लेकिन वापस नहीं पहुंची. शुरुआत से ही पुलिस को भ्रमित किया गया. पुलिस भी प्रेशर में आकर जांच अपहरण की दिशा में जांच करने लगी, लेकिन पूछताछ में मामला स्पष्ट नहीं होने पर पुलिस अन्य एंगल पर भी जांच कर रही थी. जिसके लिए डीसीपी ने 5 टीमें भी गठित की थीं. परिवार ने पुलिस पर जबरन प्रेशर बनाने के लिए जीटी रोड पर जाम लगाने के साथ थाने का घेराव भी किया था. हालांकि अपहरण शुरू से संदेह के घेरे में था, क्योंकि जब युवती स्‍वाति के परिवार से पुलिस ने पूछताछ की तो कोई भी सदस्य स्पष्ट जवाब नहीं दे पाया था. इसके अलावा पुलिस के मुताबिक, सुबह 4.30 बजे कंट्रोल रूम को इस मामले की जानकारी दी गयी थी. जबकि पीड़ित परिजनों ने कहा था कि अपहरण सुबह 6 बजे के आसपास हुआ है.

Encounter in Noida: नोएडा पुलिस को मिली बड़ी सफलता, कैब ड्राइवरों को लूटने वाले 4 बदमाश गिरफ्तार

सवारी बनकर कैब लूटने वाले चार बदमाश पुलिस मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार. (सांकेतिक फोटो)

Noida Crime News: उत्‍तर प्रदेश के गौतमबुद्ध नगर के ईकोटेक 3 थाना पुलिस (Ecotech 3 Station Police) ने एक मुठभेड़ में ओला और उबेर टैक्सी (Ola and Uber Cab) को बुक करके उनके ड्राइवर से लूटपाट करने वाले चार बदमाशों (Miscreants) को मुठभेड़ के बाद दबोच लिया है. हालांकि इस दौरान एक बदमाश फरार होने में सफल रहा.

SHARE THIS:

नोएडा. यूपी के गौतमबुद्ध नगर के ईकोटेक 3 थाना पुलिस (Ecotech 3 Station Police) ने एक मुठभेड़ के बाद 4 बदमाशों (Miscreants) को गिरफ्तार किया है. हालांकि इस दौरान एक बदमाश अंधेरे का फायदा उठाकर फरार हो गया. पुलिस के मुताबिक, ये गैंग ओला और उबेर टैक्सी (Ola and Uber Cab) को बुक कराकर उनके ड्राइवर से लूटपाट की एक दर्जन से ज्यादा वारदातों को अंजाम दे चुका है.

दरअसल बीती रात ईकोटेक 3 थाना पुलिस ने खेड़ा चौगानपुर पर चेकिंग पॉइंट लगाया हुआ था. उसी दौरान दो बाइक पर सवार पांच बदमाश वहां से निकले, जिन्हें पुलिस ने रुकने का इशारा किया गया. वहीं, उन्होंने रुकने के बजाय पुलिस पार्टी पर फायरिंग कर दी. जबकि पुलिस की जवाबी फायरिंग में 4 बदमाशों के पैर में गोली लगी और सभी घायल होकर पुलिस के हाथ लग गए. हालांकि एक बदमाश मौके से फरार हो गया. पुलिस ने इन आरोपियों के कब्जे से तीन अवैध तमंचे, छह जिंदा कारतूस, दो बाइक और 6 मोबाइल भी बरामद किए हैं.

ऐसे करते थे लूटपाट
इस गैंग ने 28 अगस्त को उबेर कैब बुक करके उसके चालक को चाकू मारकर लूटपाट की थी. पुलिस के मुताबिक, यह सभी सवारी बनकर ओला उबर टैक्सियों को बुक करते थे और उसके बाद ड्राइवरों के साथ लूटपाट करते थे.

नितिन गडकरी ने जेवर एयरपोर्ट को दी 2100 करोड़ की सौगात, Delhi-NCR को चमकाने के लिए उठाया ये कदम

अब तक ये गैंग इस तरह की लूटपाट की एक दर्जन वारदातों को अंजाम दे चुका है. इन बदमाशों के नाम रिंकू, अमित, सोनवीर और सचिन हैं. जबकि यह सभी यूपी के गाजियाबाद के रहने वाले हैं.

नितिन गडकरी ने जेवर एयरपोर्ट को दी 2100 करोड़ की सौगात, Delhi-NCR को चमकाने के लिए उठाया ये कदम

जेवर एयरपोर्ट को दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेस-वे से जोड़ने पर 2100 करोड़ की लागत आएगी.

Jewar International Airport: केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) ने जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट को एक बड़ी सौगात देते हुए इसे दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेस-वे (Delhi-Mumbai Expressway) से जोड़ने का ऐलान किया है. इस पर 2100 करोड़ रुपये की लागत आएगी. इसके अलावा दिल्‍ली-एनसीआर (Delhi-NCR) को लेकर भी 53,000 करोड़ की योजनाएं चल रही हैं.

  • News18Hindi
  • LAST UPDATED : September 17, 2021, 06:59 IST
SHARE THIS:

ग्रेटर नोएडा. केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) ने उत्‍तर प्रदेश सरकार के ड्रीम प्रोजेक्‍ट जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट (Jewar International Airport) को एक बड़ी सौगात दी है. केंद्रीय मंत्री ने हरियाणा के गुरुग्राम जिले के सोहना में कहा कि जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट को दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेस-वे (Delhi-Mumbai Expressway) से जोड़ा जाएगा. इसके साथ उन्‍होंने कहा कि करीब 2,100 करोड़ रुपये की लागत से 31 किलोमीटर 6 लेन ग्रीनफील्ड मार्ग जेवर एयरपोर्ट के लिए बना रहे हैं.

इसके अलावा नितिन गडकरी ने कहा कि हमने ईस्टर्न पेरीफेरल रोड़ बनाकर दिल्ली में प्रदूषण कम किया है. इसे और कम करने के लिए दिल्ली-एनसीआर में हम करीब 53,000 करोड़ रुपये की 15 योजनाएं लाए हैं और 14 पर काम शुरू हो गया. दिल्ली के लोगों को ट्रैफिक और प्रदूषण से राहत मिलेगी. बता दें कि आठ लेन का दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेस-वे दिल्ली, हरियाणा, राजस्थान, मध्य प्रदेश और गुजरात से होकर गुजरेगा.

वहीं, नितिन गडकरी ने कहा कि हरियाणा में 6 जगहों पर सड़क किनारे जन-सुविधाएं मिलेंगी जिससे स्थानीय उत्पादकों को प्राथमिकता दी जाएगी. इसमें हेलीकॉप्टर एंबुलेंस की सेवाएं भी दी जाएंगी. हम इसमें ड्रोन का उपयोग भी करेंगे जो उद्योग और व्यवसाय के लिए उपयोगी होगा. गडकरी ने कहा कि एक्सप्रेस-वे पर वाहनों की न्यूनतम गति सीमा 100 किलोमीटर प्रति घंटा होगी. सड़क मंत्रालय इसे बढ़ाकर 120 किलोमीटर प्रति घंटा करने पर विचार कर रहा है. दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे के मार्च 2023 तक पूरा होने की संभावना है. इसे भारतमाला परियोजना के पहले चरण के हिस्से के रूप में बनाया जा रहा है.

जेवर एयरपोर्ट का काम शुरू
बता दें कि जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट के पहले चरण का काम शुरू हो चुका है. पहले चरण में जमीन को समतल करने और बाउंड्रीवाल बनाने का काम होना है. इस बीच जेवर के रोही गांव में 70 साल पुरानी और 20 फीट ऊंची हनुमानजी की मूर्ति को धार्मिक रीति-रिवाज से हटा दिया गया. गौरतलब रहे साल 2024 तक जेवर एयरपोर्ट से पहली हवाई उड़ान सेवा शुरू हो जाएगी. वैसे पहले चरण में 1334 हेक्टेयर जमीन पर जेवर एयरपोर्ट का निर्माण होगा. कुल 30 हजार करोड़ रुपए एयरपोर्ट पर लागत आएगी. पहले चरण में 9 हजार करोड़ से निर्माण कार्य किया जाएगा. जेवर एयरपोर्ट की क्षमता की बात करें तो पहले वर्ष से 1.2 करोड़ यात्रियों की क्षमता से लैस होगा जेवर एयरपोर्ट और अपने आखिरी चरण यानी चौथे चरण में 7 करोड़ की क्षमता से लैस हो जाएगा.

Weather Update: Delhi-NCR में आज भी होगी मूसलाधार बारिश, IMD ने जारी किया ऑरेंज अलर्ट

जेवर एयरपोर्ट पर मिलेगा न्यूयॉर्क जैसा फील
यही नहीं, जेवर एयरपोर्ट वर्ल्ड क्लास हो इसके लिए तमाम तैयारियां की जा रही हैं. इसके लिए बेहतर कनेक्टिविटी से लेकर मनोरंजन साधनों तक का खास ध्यान रखा जायेगा. यहां सफर करने वालों को हांगकांग और न्यूयॉर्क जैसा फील हो इस पर जार दिया जा रहा है. उम्मीद है नवरात्रि में इसके भूमिपूजन का कार्य हो जाएगा.

Noida news Bulletin: नोएडा सेक्टर 18 में बिजली के खुले पैनल से लोग परेशान, बिजली विभाग को की शिकायत.

Noida gate.

सेक्टर 18 मार्केट एसोसिएशन के अध्यक्ष सुशील कुमार जैन ने बताया कि हमने इस मामले में बिजली विभाग को शिकायत की है.

SHARE THIS:

1. नोएडा के सेक्टर 18 में बिजली विभाग की लापरवाही की वजह से लोग परेशान है. पूरे सेक्टर में बिजली सप्लाई की जाने वाले पैनल खुले हुए हैं. लोगों का कहना है कि यह वहां रहने वाले लोगों के लिए जान को खतरा है. सेक्टर 18 मार्केट एसोसिएशन के अध्यक्ष सुशील कुमार जैन ने बताया कि हमने इस मामले में बिजली विभाग को शिकायत की है, उस क्षेत्र में हजारों दुकानें है बिजली विभाग की लापरवाही के कारण हम सबको कभी भी भारी कीमत चुकानी पड़ सकती है.

2.  ग्रेटर नोएडा बादलपुर थाना क्षेत्र में गुरुवार की सुबह एक युवती का अपहरण कर लिया गया. डीसीपी ग्रेटर नोएडा हरीश चंद्र ने बताया कि गुरुवार की सुबह कंट्रोल रूम में सूचना मिली थी कि एक 20 वर्षीय युवती का अपहरण कर लिया गया है. मामले की जानकारी के बाद पांच टीमों को जांच में लगाया गया है जल्द ही युवती को खोज लिया जाएगा. उन्होंने बताया कि युवती अपनी दो भाई और दो बहनों के साथ घूमने निकली थी.

3. नोएडा में गुरुवार को हुई बारिश ने कई जगह पर जलजमाव की स्थिति पैदा हो गई. जिस से कई जगहों पर ट्रैफिक जाम रहा. कई सेक्टरों में बिजली की कटौती के कारण लोग खासा परेशान रहे.
(रिपोर्ट – आदित्य कुमार)

UP Flood: पहली बार नहीं डूब रहा Lucknow, 1960 की बाढ़ ने बढ़ा दी थी सबकी धड़कन

लखनऊ में दो दिन से हो रही लगातार बारिश से सड़कें लबालब हो गई हैं.

flood in Lucknow : 1960 की बाढ़ में पुराना लखनऊ, हजरतगंज, कैसरबाग, इमामबाड़ा, विश्वविद्यालय, हुसैनाबाद, नक्खास सब डूब चुके थे. बाढ़ के पानी से बचने के लिए छत पर चढ़े लोगों की मदद में रात करीब 2 बजे सरकारी नाव चलती दिखाई पड़ी थी.

SHARE THIS:

नोएडा. उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ और आसपास के जिलों में बुधवार से हो रही लगातार बारिश ने लखनऊ में तबाही ला दी है. गुरुवार सुबह 8:30 बजे से लेकर शाम को 5:30 बजे तक 115 मिलीमीटर बारिश लखनऊ में दर्ज की गई है. लखनऊ की सड़कों पर पानी बुरी तरह भर चुका है. लबालब भरे गड्ढे में डूबने से दो बच्चों की मौत हो गई है. ये बच्चे सुबह 11 बजे से घर से गायब थे. काफी देर तक घर न लौटने पर परिजनों ने बच्चों की तलाश शुरू की. पुलिस की मदद से मिले बच्चों के शव. यह हादसा मड़ियांव थाना क्षेत्र के मोहिबुल्लापुर स्टेशन के पास का है. लखनऊ में हो रही झमाझम बरसात और सड़कों पर बाढ़ की स्थिति ने यहां के लोगों को 1960 की याद दिला दी. लखनऊ में रहने वाले बूढ़े-बुजुर्ग 1960 की बाढ़ को याद कर रहे हैं.

वेबसाइट पर चल रही इस चर्चा में काले बाबा के नाम से मशहूर योगेश प्रवीण बताते हैं कि 1960 वे तकरीबन 15 साल के थे. वे बताते हैं कि लखनऊ में सबसे पहली बाढ़ 1923 में आई थी, लेकिन 1960 की बाढ़ ज्यादा भयानक थी. वे बताते हैं कि तब वे जामा मस्जि‍द के पास की गली में रहते थे. जुलाई के आखिरी हफ्ते में बारिश जो शुरू हुई तो अगले कई दिनों तक होती रही. उस दिन शाम के 7 बजे होंगे तभी देखा कि बहुत तेजी से पानी सड़कों से होता हुआ घरों में घुसने लगा. जब तक मैं भागकर घर के अंदर आता, घर में घुटने तक पानी भर गया. हमसब भागकर छत पर चले गए. अगले 30 मिनट में पूरा घर डूब गया.

इन्हें भी पढ़ें :
लखनऊ में पिछले 32 घण्टों में 222 मिलीमीटर बारिश, टूट सकता है 1985 का रिकॉर्ड
Social Media पर ट्रेंड हुआ Lucknow Rains, वीडियो-फोटो पोस्ट कर लोग बता रहे हालात

वेबसाइट के मुताबिक, योगेश प्रवीण बताते हैं कि पुराना लखनऊ, हजरतगंज, कैसरबाग, इमामबाड़ा, विश्वविद्यालय, हुसैनाबाद, नक्खास सब डूब चुके थे. रात करीब 2 बजे सरकारी नाव चलती दिखाई पड़ी, वो हमारे छत के पास आई और हम उसपर बैठकर बड़े इमामबाड़े की छत पर चले गए. बाद में स्थि‍ति इतनी खराब हो गई कि पुराने लखनऊ में सभी के घर डूब चुके थे.

Good News: नोएडा अथॉरिटी प्रॉपर्टी ट्रांसफर चार्जेज में कर सकती है कटौती, जानें किसे होगा फायदा

नोएडा अथॉरिटी में प्रॉपर्टी ट्रांसफर चार्जेज को लेकर मंथन चल रहा है. (सांकेतिक फोटो)

Noida Authority News: नोएडा अथॉरिटी इस वक्‍त प्रॉपर्टी के ट्रांसफर चार्जेज (Property Transfer Charges) कम करने पर मंथन कर रही है. जबकि इस पर 24 सितंबर को होने वाली मीटिंग में फैसला लिया जा सकता है. इससे पहले ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी (Greater Noida Authority) ने जून 2021 में प्रॉपर्टी के ट्रांसफर चार्जेज कम कर दिये थे.

  • News18Hindi
  • LAST UPDATED : September 16, 2021, 15:10 IST
SHARE THIS:

नोएडा. ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी ने जून 2021 में प्रॉपर्टी के ट्रांसफर चार्जेज (Property Transfer Charges) कम कर दिये थे. इस वजह से सिटी में सेकेण्ड्री मार्केट रियलिटी ट्रांसजेक्शन्स को जबरदस्‍त प्रोत्साहन मिला. वहीं, नोएडा अथॉरिटी (Noida Authority) ने भी प्रॉपर्टी के ट्रांसफर चार्जेज कम करने पर मंथन कर रही है. वहीं, नोएडा अथॉरिटी की बोर्ड मीटिंग 24 सितम्बर को हो सकती है, जिसमें प्रॉपर्टी ट्रांसफर शुल्क को कम करने पर विचार किया जा सकता है.

टाइम्स ऑफ इंडिया में प्रकाशित एक रिपोर्ट के अनुसार, नोएडा अथॉरिटी के अधिकारियों का कहना है कि उन्हें अगले सप्ताह बोर्ड की बैठक के लिए तैयार रहने को कहा गया है, लेकिन उन्हें अभी तक प्राधिकरण के चेयरमैन संजीव मित्तल से हरी झंडी नहीं मिली है. उत्तर प्रदेश इंफ्रास्ट्रक्चर एवं इंडस्ट्रियल डेवलपमेंट कमिश्नर की भी भूमिका निभा रहे नोएडा प्राधिकरण चेयरमैन सुपरटेक एमेराल्ड कोर्ट मामले की भी जांच कर रही विशेष टीम का नेतृत्व कर रहे हैं और उन्होंने अपनी रिपोर्ट सरकार को अभी तक नहीं सौंपी है.

इस वजह से कदम उठा रही नोएडा अथॉरिटी
बोर्ड की बैठक में नोएडा अथॉरिटी प्रॉपर्टी ट्रांसफर प्रभार को कम करने पर भी विचार कर सकती है. कारोबारी, आरडब्ल्यूए और फ्लैट मालिक अपनी प्रॉपर्टी बिक्री करते वक्त बहुत अधिक ट्रांसफर शुल्क वसूले जाने की शिकायत सरकार से करते रहे हैं.

इस वर्ष जून में ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी ने प्रॉपर्टी के ट्रांसफर चार्जेज कम कर दिये थे, जिससे सिटी में सेकेण्ड्री मार्केट रियलिटी ट्रांसजेक्शन्स को प्रोत्साहन मिला है. हालांकि नोएडा अथॉरिटी ने शुल्क अभी तक कम नहीं किया है. इंस्टीट्यूशनल और कॉमर्शियल प्लॉट मालिकों को फिलहाल मौजूदा लैंड प्रीमियम का 10 फीसदी ट्रांसफर चार्जेज के तौर पर देना होता है. आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि इसे कम करके पांच प्रतिशत पर लाने का विचार किया जा रहा है.

जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट को केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने दी बड़ी सौगात, Delhi-NCR पर भी जमकर मेहरबानी

5 फीसदी की हो सकती है कटौती
इसी प्रकार नन-फंक्शनल इंडस्ट्रियल प्लॉट पर आवंटी को प्राधिकरण को 10 फीसदी शुल्क देना होता है. जबकि ऑपरेशनल प्लॉट पर यह प्रभार 8 प्रतिशत है. अथॉरिटी इस प्रभार में 50 फीसदी की कटौती करके इसे क्रमश: 5 और 4 फीसदी कर सकती है. बता दें कि फ्लैट और अपार्टमेंट के लिए अथॉरिटी संबंधित सेक्टर में मौजूदा लैंड प्रीमियम के अनुसार 720 रुपये वर्ग मीटर से 1980 वर्ग मीटर तक प्रभार वसूलती है. जबकि 24 सितंबर को होने वाली मीटिंग में इस बारे में निर्णय लिया जाना है.

Noida news: ऑटो और ई रिक्शा चालकों और सवारियों को यह जानकारी ले लेनी चाहिए

Noida gate.

Noida news bulletin: ग्रेटर नोएडा के घरों से कूड़ा उठा के नहीं इसकी जानकारी अब क्यूआर कोड से मिलेगी.

SHARE THIS:

1. नोएडा में ऑटो और ई रिक्शा चालकों के लिए जल्द ही रूट निर्धारण किया जा सकता है. इसकी तैयारी ट्रैफिक पुलिस ने पूरी कर ली है. डीसीपी ट्रैफिक गणेश प्रसाद साहा ने बताया कि ऑटो और ई रिक्शा चालक उन स्थानों पर भी चले जहां उनका जाना प्रतिबंध था, इसकी शिकायत मिल रही थी इसी लिए अब उनका रूट निर्धारण किया जाएगा.

2. ग्रेटर नोएडा के घरों से कूड़ा उठा की नहीं इसकी जानकारी अब क्यूआर कोड से मिलेगी. इसके लिए ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने तैयारी पूरी कर ली, नई कंपनी को ठेका दस साल के लिए दिया गया है. मुख्य कार्यपालक पदाधिकारी नरेंद्र भूषण ने मंगलवार को बताया कि यहां से प्रतिदिन 200 टन कूड़ा निकलता है, सबको सही से निस्तारण किया जा सके किसी तरह की कोई गड़बड़ी न हो इसको ध्यान में रख कर यह फैसला लिया गया है. क्यूआर में स्कैन करने के बाद अगर कूड़े उठाने का डिटेल नहीं मिलता तो संबंधित कर्मचारी पर कार्रवाई की जाएगी.

3. नोएडा में अगर किसी को जानवर पालना है तो उसको पहले पंजीकरण नोएडा प्राधिकरण के ऐप पर करना होगा. इसके लिए बुधवार को नोएडा प्राधिकरण एक ऐप लॉन्च करने वाला है. नोएडा प्राधिकरण के सीईओ रितु माहेश्वरी ने बताया कि इस ऐप पर पालतू जानवरों से संबंधित डाटा अपलोड किया जाएगा ताकि उनके लिए काम किया जा सके.
(रिपोर्ट- आदित्य कुमार)

Noida news bulletin: अथॉरिटी ने किया Pet ऐप लॉन्च, जानवर पालने के लिए देने होगें इतने रुपए.

Ceo noida authority ritu maheshwari.

NOIDA NEWS BULLETIN: बिजली विभाग के मुख्य अभियंता बीएन सिंह ने बताया कि मामले की जांच की जाएगी उसके बाद जो भी उचित कार्रवाई होगी वो की जाएगी.

SHARE THIS:

1. नोएडा में अब पालतू पशुओं को रखने पर आपको कीमत चुकानी पड़ सकती है.नोएडा प्राधिकरण ने इसकी तैयारी पूरी कर ली है और बुधवार को एक ऐप भी लॉन्च कर दिया है. नोएडा प्राधिकरण की सीईओ रितु माहेश्वरी ने बताया कि नोएडा में पालतू जानवरों का रजिस्ट्रेशन  कराने के लिए Noida authority pet registration app  (Napr) बनाया गया है. जिसका एंड्रायड वर्जन बुधवार को लॉन्च कर दिया गया है आईओएस पर भी अगले महीने आ जाएगा. रितु माहेश्वरी ने बताया कि एक जानवर के रजिस्ट्रेशन के लिए एक साल का एक हजार रुपए देने होंगे. इस ऐप में लोगों को शिकायत करने की भी व्यवस्था होगी और इसके बाद पेट ऑनर से जुर्माना भी वसूला जाएगा. पहली बार 100 दूसरी बार 200 और तीसरी बार 500 रुपए वसूले जाएंगे.

2. नोएडा से रुद्रपुर (उत्तराखंड) जाना अब आसान हो जाएगा, इसके लिए नोएडा से बस प्रतिदिन मिलेगी. उत्तर प्रदेश परिवहन विभाग के एआरएम एनपी सिंह ने बुधवार को बताया कि नोएडा के मोरना डिपो से प्रतिदिन सुबह 9 बजे खुलेगी, यह बस मोहन नगर, मुरादाबाद, रामपुर होते हुए रुद्रपुर दोपहर एक बजे पहुंचेगी. इसके बाद वही बस 2:30 बजे वहां से वापस चलेगी, इस रूट का किराया 325 रुपए होंगे.

3. नोएडा के सैंकड़ों किसानो ने बुधवार को सेक्टर 16 स्थित बिजली विभाग के ऑफिस के बाहर धरना प्रदर्शन किया.उनका कहना है कि किसानो के घरों में फर्जी बिल भेजे जा रहे हैं जिसको वसूलने के लिए बिजली विभाग के कर्मचारी जोर जबरदस्ती कर रहे हैं.भारतीय किसान यूनियन के मीडिया प्रभारी सुनील नागर ने बताया कि किसानो पर फर्जी मुकदके भी लिखे गए हैं.जिसे हमने रद्द करने की मांग की है. बिजली विभाग के मुख्य अभियंता बीएन सिंह ने बताया कि मामले की जांच की जाएगी उसके बाद जो भी उचित कार्रवाई होगी वो की जाएगी.

(रिपोर्ट-आदित्य कुमार)

Load More News

More from Other District

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज