नोएडाः कैमरे में कैद हुई बिल्डर के गुर्गों की गुंडई, FIR के बाद 6 गार्ड गिरफ्तार

पीड़ित रेजिडेंट्स की पहचान पारस के रूप में हुई है, जो सोसाइटी के टॉवर नम्बर-1 के फ्लैट संख्या 1203 में रहता है. बताया जाता है पीड़ित का कसूर सिर्फ इतना था कि उसकी गाड़ी पर रेजिडेंट्स का स्टीकर नहीं लगा था

News18 Uttar Pradesh
Updated: August 7, 2018, 8:25 PM IST
News18 Uttar Pradesh
Updated: August 7, 2018, 8:25 PM IST
नोएडा के निराला एस्टेट प्रोजेक्ट में मंगलवार को बिल्डर के गुर्गों और सुरक्षा गार्डों द्वारा एक रेजिडेंट्स की पिटाई का मामला सामने आया है. आरोप है बिल्डर के गुर्गों और सुरक्षा गार्डों ने पीड़ित रेजिडेंट्स को बिना स्टीकर घुसने पर जमकर पीट दिया.हालांकि निराला एस्टेट में लगे सीसीटीवी कैमरे में युवक की पिटाई की तस्वीरें कैद हो गई है, लेकिन सुबूत छिपाने के लिए बिल्डर के मैनेजमेंट कर्मचारियों द्वारा उसे डिलीट करने की कोशिश की गई.

यह भी पढ़ें-नोएडा: लोजिक्स बिल्डर के खिलाफ बायर्स का विरोध प्रदर्शन

रिपोर्ट के मुताबिक वारदात ग्रेटर नोएडा वेस्ट में निर्मित हाईराइज बिल्डिंग निराला एस्टेट में हुआ. पीड़ित रेजिडेंट्स के परिजनों की तहरीर पर पुलिस ने निराला एस्टेट में तैनात 6 गार्डों को गिरफ्तार कर लिया है. पीड़ित रेजिडेंट्स की पहचान पारस के रूप में हुई है, जो सोसाइटी के टॉवर नम्बर-1 के फ्लैट संख्या 1203 में रहता है. बताया जाता है पीड़ित का कसूर सिर्फ इतना था कि उसकी गाड़ी पर रेजिडेंट्स का स्टीकर नहीं लगा था.

यह भी पढ़ें-‘बिल्डर को कानून माफ कर सकता है भगवान नहीं’

पीड़ित छात्र के मुताबिक वह पिछले एक वर्ष से निराला एस्टेट सोसाइटी में रह रहा है और अक्सर अपनी गाड़ी से सोसाइटी के अंदर आता-जाता रहा है. निराला एस्टेट के पीड़ित रेजिडेंट्स का कहना है कि हल्की नोक-झोंक के बाद बिल्डर के गुर्गों और बिल्डिंग के सुरक्षा गार्ड ने उसे घेर लिया है और लाठी-डंडे और लोहे की रॉड से उसे बुरी तरह पीट दिया, जिसके बाद बिल्डिंग में रहे रहे रेजिडेंट्स ने बिल्डर के खिलाफ मोर्चा निकाला.

यह भी पढ़ें-बिल्डर ने नोएडा अथॉरिटी के सीईओ पर लगाया फ्री में फ्लैट मांगने का आरोप

रेजिडेंट्स का आरोप है कि बिल्डर के कर्मचारियों ने पूरी घटना की सीसीटीवी फुटेज को ही डिलीट करने की कोशिश की, लेकिन एक रेजिडेंट्स की सक्रियता की वजह से 9 सेकंड का मारपीट वाला सीसीटीवी फुटेज बचा लिया गया. हालांकि पिटाई की तस्वीरें सामने आने के बाद बिल्डिंग मैनजमेंट ने कुछ भी बोलने से इंकार किया है, लेकिन कैमरे में कैद मारपीट की वीडियो के आधार पर पुलिस ने बिल्डिंग में तैनात 6 सुरक्षा गॉर्डों को गिरफ्तार कर मामले की जांच में जुट शुरू कर दी है.

(रिपोर्ट-अमित सिंह, नोएडा)
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर