होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /

'गालीबाज' श्रीकांत त्यागी को कोर्ट से नहीं मिली राहत, जमानत पर अब कल होगा फैसला

'गालीबाज' श्रीकांत त्यागी को कोर्ट से नहीं मिली राहत, जमानत पर अब कल होगा फैसला

कोर्ट ने श्रीकांत की बेल एप्लीकेशन पर फैसला सुरक्षित रख लिया है. (फाइल फोटो)

कोर्ट ने श्रीकांत की बेल एप्लीकेशन पर फैसला सुरक्षित रख लिया है. (फाइल फोटो)

Noida News : श्रीकांत त्यागी, नकुल त्यागी, राहुल और संजय की बेल एप्लीकेशन पर कोर्ट ने फैसला सुरक्षित रखा है. श्रीकांत के खिलाफ लगाई गई धारा 419 और 420 के खिलाफ कांटेस्ट किया है. ग्रैंड ओमेक्स सोसाइटी नोएडा में रहने वाले श्रीकांत त्यागी का शुक्रवार को पौधे लगाने को लेकर विवाद हुआ था.

अधिक पढ़ें ...

हाइलाइट्स

बेल एप्लीकेशन पर बुधवार को कोर्ट ने फैसला सुरक्षित रखा.
श्रीकांत के खिलाफ लगाई गई धारा 419 और 420 के खिलाफ कांटेस्ट.

नोएडा. श्रीकांत त्यागी की मुश्किलें कम होती नजर नहीं आ रही हैं. महिला के साथ अभद्रता मामले के बाद उसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया था. इसे लेकर श्रीकांत ने कोर्ट में बेल एप्लीकेशन दी थी लेकिन कोर्ट ने श्रीकांत की बेल एप्लीकेशन पर फैसला सुरक्षित रख लिया है. श्रीकांत त्यागी, नकुल त्यागी, राहुल और संजय की बेल एप्लीकेशन पर बुधवार को कोर्ट ने फैसला सुरक्षित रखा है. श्रीकांत के खिलाफ लगाई गई धारा 419 और 420 के खिलाफ कांटेस्ट किया है. जज ने IO (इन्वेस्टिगेशन ऑफिसर) से रिपोर्ट तलब की है. अब इस मामले में गुरुवार को सुनवाई होगी.

बता दें कि ग्रैंड ओमेक्स सोसाइटी नोएडा में रहने वाले श्रीकांत त्यागी का शुक्रवार को पौधे लगाने को लेकर विवाद हुआ था. इस दौरान महिलाओं का आरोप था कि वह पौधे लगाकर जमीन पर कब्जा कर रहे हैं. इस पर श्रीकांत ने एक महिला से अभद्रता की और गालियां देकर धमकाया. यह पूरी घटना वीडियो में कैद हो गई, जिसके बाद गालीबाज श्रीकांत पर मुकदमा दर्ज कर दिया गया था.

कई जगह छुपा फिर हुई गिरफ्तारी
गौरतलब है कि गिरफ्तारी के बाद त्यागी को सूरजपुर स्थित जिला न्यायालय लाया गया था. इसके बाद न्यायालय के आदेश पर उसे 14 दिन की न्यायिक हिरासत में लुकसर स्थित जिला कारागार में भेज दिया गया था. घटना के बाद गालीबाज श्रीकांत त्यागी सबसे पहले एयरपोर्ट की तरफ भागा था लेकिन तब तक घटना का वीडियो काफी वायरल हो गया था. ऐसे में श्रीकांत मेरठ चला गया और फिर गिरफ्तारी के डर से शनिवार को हरिद्वार भाग गया.

रविवार को वापस उत्तर प्रदेश आ गया. रविवार शाम को मेरठ, मुजफ्फरनगर और आसपास के इलाकों में श्रीकांत की सक्रियता का पता चला था. श्रीकांत ने कई बार पुलिस को चकमा देने की कोशिश की लेकिन अंततः पकड़ा गया.

स्वामी प्रसाद मौर्य ने लगाया आरोप
उधर, श्रीकांत त्यागी ने दावा किया था कि उसे स्वामी प्रसाद मौर्य ने पास जारी किया था. इस पर स्वामी प्रसाद मौर्य का कहना था कि भाजपा पूरे देश में झूठ फैला रही है और भ्रमजाल में फंसा रही है. भाजपा ने जो गलत काम किए हैं अब उसका ठीकरा वो मेरे सिर फोड़ना चाहती है. मैं लंबे समय से श्रीकांत से नहीं मिला हूं लेकिन फिर भी मेरा नाम उछाला जा रहा है.

Tags: Noida news, Uttar pradesh latest news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर