Home /News /uttar-pradesh /

नोएडा में यहां दिव्यांग और बेसहारा बच्चों को मिलती है मां के ममता की छांव

नोएडा में यहां दिव्यांग और बेसहारा बच्चों को मिलती है मां के ममता की छांव

X

शहर के बीचों बीच एक जगह है सेक्टर 12, सड़क किनारे ही साई कृपा नाम का एक घर पड़ता है, जिसे नोएडा में रहने वाले कई लोगों ने देखा होगा लेकिन बहुत कम लोगों को पता है कि यह घर बेहद खास है.यहां उन मासूम बच्चों को मां की ममता की छांव मिलती है जिनका दुनिया में कोई नहीं है, जो अनाथ है अथवा दुष्कर्म पीड़िता के बच्चे हैं.

अधिक पढ़ें ...

    नोएडा:- शहर के बीचों बीच एक जगह है सेक्टर 12, सड़क किनारे ही साई कृपा नाम का एक घर पड़ता है, जिसे नोएडा में रहने वाले कई लोगों ने देखा होगा लेकिन बहुत कम लोगों को पता है कि यह घर बेहद खास है.यहां उन मासूम बच्चों को मां की ममता की छांव मिलती है जिनका दुनिया में कोई नहीं है, जो अनाथ है अथवा दुष्कर्म पीड़िता के बच्चे हैं.लेकिन लोकलाज के कारण उनके जानने वालों ने अपने साथ रखना सही नहीं समझा.

    साई कृपा चलाने के लिए जीवन न्योछावर कर दिया
    अंजना राजगोपाल नोएडा में ही रहती हैं, अनाथालय के बच्चे उनको मां ही बुलाते हैं, क्योंकि बच्चों ने जब से आंखे खोली थी तब से अंजना ही उनको मां का प्यार देकर पाल रही हैं.वो बताती है जब मैं स्कूल में थी तो उस वक्त मैं देखती थी कि कुछ लोग हर महीने गाना बजाकर हमारे घरों में पैसे मांगने आते थे वो असल में अनाथ बच्चे होते थे जो अपना पेट पालने के लिए चंदा मांगने आते थे. मुझे बड़ा दुख होता था,जब बड़ी हुई तो उन्हीं बच्चों के लिए मैंने सबकुछ दांव पर लगा दिया.मैंने शादी नहीं की और साई कृपा नाम से बेसहारा बच्चों की देखभाल करने के लिएअपने पैसे से होम्स चलाने लगी.

    साई बाबा के नाम पर पड़ा नाम
    अंजना बताती है कि मैं साई बाबा की भक्त हूं तो उन्ही के नाम पर मैने साई कृपा इस होम्स का नाम रखा है.वो कहती है कि कई बच्चे यहां आते हैं जिनके अपने उनको बेसहारा छोड़ देते हैं.उनको यहीं पढ़ा लिखाकर स्वावलंबी बनाकर मुझे बहुत खुशी मिलती है.

    (रिपोर्ट:- आदित्य कुमार)

    Tags: Noida news

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर