Home /News /uttar-pradesh /

DM सुहास एल. वाई पैरालंपिक्स में सिल्वर मेडल जीतने के बाद बनाएंगे यह नया रिकॉर्ड!

DM सुहास एल. वाई पैरालंपिक्स में सिल्वर मेडल जीतने के बाद बनाएंगे यह नया रिकॉर्ड!

गौतमबुद्ध नगर के जिलाधिकारी सुहास एल. वाई देश के पहले आईएएस हैं, जिन्होंने पैरालंपिक्स में सिल्वर मेडल जीता है.(Photo @suhasly007/ Facebook)

गौतमबुद्ध नगर के जिलाधिकारी सुहास एल. वाई देश के पहले आईएएस हैं, जिन्होंने पैरालंपिक्स में सिल्वर मेडल जीता है.(Photo @suhasly007/ Facebook)

पैरालंपिक्स में शानदार प्रदर्शन करने वाले डीएम सुहास एल. वाई (Suhas L Y) के लिए यह बेहद खास होगा. अर्जुन अवार्ड (Arjuna Award) के लिए उनके नाम की सिफारिश कर दी गई है. फिलहाल अभी अंतिम निर्णय होना बाकी है, लेकिन माना जा रहा है कि अगर उन्हें अर्जुन अवार्ड से नवाजा जाता है तो वह देश के पहले आईएएस होंगे जिन्हें इस खिताब से नवाजा जाएगा. गौतमबुद्ध नगर जिलाधिकारी देश के पहले आईएएस हैं, जिन्होंने पैरालंपिक्स में सिल्वर मेडल जीता है. अब उन्हें अर्जुन पुरस्कार मिलेगा, तो यह उनकी उपलब्धियों में 4 चांद लगा देगा. यह खिताब हासिल करने वाले भी वह पहले आईएएस बनेंगे. बताते चलें कि अर्जुन अवॉर्ड्स देश के सर्वोच्च सम्मानित खेल पुरस्कारों में से एक है.

अधिक पढ़ें ...

नोएडा. गौतमबुद्ध नगर (Gautam Buddha Nagar) के जिलाधिकारी सुहास एल. वाई (Suhas L Y) ने टोक्यो पैरालंपिक्स में सिल्वर मेडल जीतकर इतिहास रच दिया था. नेशनल स्पोर्ट्स अवॉर्ड्स कमेटी ने सुहास एल वाई का नाम अर्जुन अवार्ड (Arjuna Award) के लिए प्रस्तावित किया है. अर्जुन अवार्ड के लिए टोक्यो ओलंपिक और पैरालंपिक (Tokyo Paralympics) में मेडल जीतने वाले अन्य खिलाड़ियों का भी नाम शामिल है. लेकिन पैरालंपिक्स में शानदार प्रदर्शन करने वाले डीएम सुहास एल. वाई के लिए यह बेहद खास होगा. अर्जुन अवार्ड के लिए उनके नाम की सिफारिश कर दी गई है.

फिलहाल अभी अंतिम निर्णय होना बाकी है, लेकिन माना जा रहा है कि अगर उन्हें अर्जुन अवार्ड से नवाजा जाता है तो वह देश के पहले आईएएस होंगे जिन्हें इस खिताब से नवाजा जाएगा. गौतमबुद्ध नगर के जिलाधिकारी देश के पहले आईएएस हैं, जिन्होंने पैरालंपिक्स में सिल्वर मेडल जीता है. अब उन्हें अर्जुन पुरस्कार मिलेगा, तो यह उनकी उपलब्धियों में 4 चांद लगा देगा. यह खिताब हासिल करने वाले भी वह पहले आईएएस बनेंगे.

बताते चलें कि अर्जुन अवॉर्ड्स देश के सर्वोच्च सम्मानित खेल पुरस्कारों में से एक है. शानदार प्रदर्शन कर दुनिया में भारत का परचम लहराने वाले और खेल प्रतिभा को प्रोत्साहन देने वाली खेल विभूतियों को यह अवार्ड दिया जाता है. सिल्वर मेडल जीतने के बाद गौतम बुद्धनगर के जिला अधिकारी सुहास एल. वाई ने देशवासियों का धन्यवाद भी किया था और साथ ही देश के दिव्यांग जनों से अपील करते हुए कहा था कि लक्ष्य निर्धारित करें और उसे हासिल करने लिए जी तोड़ मेहनत करें.

सुहास ने अपने बचपन की याद को ताजा करते हुए कहा था कि, शुरू में उन्हें भी लगता था कि वह अब कुछ नहीं कर सकेंगे, लेकिन उन्होंने मन में कुछ कर दिखाने की ठानी और उसे एक दिन कर दिखाया. हालांकि इसके पीछे लक्ष्य के प्रति उनकी ईमानदारी और निष्ठा भी थी.

Tags: Arjuna Award, Gautam Buddha Nagar, Tokyo Paralympics 2021

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर