होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /Noida News: आप सिर्फ 250 रुपये दें, ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी कराएगी लावारिस कुत्तों की नसबंदी

Noida News: आप सिर्फ 250 रुपये दें, ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी कराएगी लावारिस कुत्तों की नसबंदी

greater noida news: नोएडा और ग्रेटर नोएडा में कुत्तों के हमले बढ़ गए हैं. Demo Pic

greater noida news: नोएडा और ग्रेटर नोएडा में कुत्तों के हमले बढ़ गए हैं. Demo Pic

Greater Noida News: ग्रेटर नोएडा के पॉश इलाके सेक्टर स्वर्णनगरी में लावारिस कुत्तों का नसबंदी केंद्र शुरू किया गया है. ...अधिक पढ़ें

नोएडा. लावारिस कुत्तों की परेशानी बढ़ती ही जा रही है. नोएडा और ग्रेटर नोएडा में कुत्तों के हमले बढ़ गए हैं. इसी के चलते ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी ने एक प्लान बनाया है. प्लान के तहत लावारिस कुत्तों की नसबंदी कराई जाएगी. आरडब्ल्यूए और एसोसिएशन भी अपने इलाके के कुत्तों की नसबंदी करा सकती हैं. इसके लिए उन्हें अथॉरिटी से संपर्क करना होगा. साथ ही 250 रुपये प्रति कुत्ते के हिसाब से पेमेंट भी करना होगा. हालांकि एक कुत्ते की नसबंदी पर 1000 रुपये का खर्च आता है, लेकिन बाकी के 750 रुपये ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी देगी. नसबंदी कराने की जिम्मेदारी ह्यूमन वेलफेयर संस्था को यह जिम्मेदारी दी गई है.

ग्रेटर नोएडा अथॅरिटी के सीईओ नरेंद्र भूषण का कहना है कि अथॉरिटी ने कुत्तों की नसबंदी कराने की सूचना देने के लिए मोबाइल नंबर 7838565456 जारी किया है. कोई भी आरडब्ल्यूए और एसोसिएशन इस नंबर पर कॉल कर सूचना दे सकती है. सूचना देने के साथ ही आरडब्ल्यूए और एसोसिएशन को ह्यूमन वेलफेयर संस्था के बैंक खाता नंबर 67760170087, आईएफएसी कोड-आईसीआईसी 0006776, आईसीआईसीआई बैंक में प्रति कुत्ते के हिसाब से 250 रुपये जमा कराने होंगे. इसके बाद संस्था की टीम कुत्तों को पकड़कर लाएगी और उनकी नसबंदी की जाएगी.

मुम्बई से सीधे जुड़ जाएगा जेवर, जारी हुआ बजट, जानें प्लान

आपके शहर से (नोएडा)

नोएडा
नोएडा

कुत्ते सेंटर में 5 दिन तक आइसोलेट रहेंगे

नसबंदी के बाद पांच दिन के लिए कुत्तों को केन्द्र पर ही रखा जाएगा. उन्हें एंटी रेबीज के इंजेक्शन भी लगेंगे, जिस सेक्टर या सोसाइटी का पैसा पहले जमा होगा, वहां के कुत्तों की नसबंदी पहले की जाएगी. केंद्र में ऑपरेशन रूम, वेटिंग एरिया भी बनाया गया है. कुत्तों की देखरेख के लिए 24 घंटे कर्मचारी तैनात रहेंगे.

नोएडा में हर महीने 2000 कुत्तों की हो रही नसबंदी

नोएडा अथॉरिटी के ओएसडी इंदू प्रकाश का कहना है, “नोएडा अथॉरिटी की ओर से दो कंपनियां स्ट्रीट डॉग पर काम कर रही हैं. हर महीने करीब 2 हजार स्ट्रीट डॉग को पकड़ा जाता है और उनकी नसबंदी करने के साथ ही उनका टीकाकरण किया जाता है. उसके बाद उन्हें वापस उसी जगह पर छोड़ दिया जाता है, जहां से उन्हें पकड़ा गया था. अब तक करीब एक हजार पेट्स के रजिस्ट्रेशन हो चुके हैं. अभी भी जगह-जगह रजिस्ट्रेशन का काम चल रहा है. सोसाइटियों में कैम्प लगाए जा रहे हैं.”

Tags: Attack of stray dogs, Greater Noida Authority, Noida news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें