परिजनों ने नामचीन स्कूल के बाहर शव रखकर किया प्रदर्शन

News18 Uttar Pradesh
Updated: August 16, 2019, 8:54 PM IST
परिजनों ने नामचीन स्कूल के बाहर शव रखकर किया प्रदर्शन
परिजनों ने स्कूल के बाहर शव रखकर किया प्रदर्शन. (फाइल फोटो)

नोएडा (Noida) के एक नामचीन स्कूल School) पर अपने कर्मचारी की हत्या का आरोप लगा है. दरअसल गुरुवार देर शाम स्कूल के पास पेड़ से लटकी हुई एक महिला कर्मचारी का शव मिला था.

  • Share this:
नोएडा (Noida) के नामचीन स्कूल पर अपने कर्मचारी की हत्या का आरोप लगा है. दरअसल गुरुवार देर शाम स्कूल के ही कैंपस में पेड़ से लटकी हुई एक महिला कर्मचारी का शव मिला था, जिसके बाद शुक्रवार को महिला कर्मचारी के परिजनों ने स्कूल के बाहर महिला का शव रखकर धरना-प्रदर्शन किया. परिजनों ने काफी देर तक हंगामा भी किया.

परिजनों का आरोप है कि स्कूल वालों ने महिला की हत्या कर उसके शव को पेड़ से लटका दिया है. फिलहाल पुलिस ने समझा-बुझाकर मृतक के परिजनों को वहां से हटा दिया है और मामले की जांच कर रही है. नोएडा के सेक्टर 30 स्थित स्कूल में काम करने वाली बसंती देवी गुरुवार को समय से घर से स्कूल के लिए निकली थी लेकिन देर शाम तक जब वह घर नहीं पहुंची तो उसके परिजनों ने उसकी तलाश शुरू की. जब बसंती देवी का कहीं पता नहीं चला तो परिजनों ने स्कूल में खोजबीन शुरू की.

शव को कब्जे में लेकर पुलिस ने शुरू कर दी है जांच
स्कूल के पास ही एक पेड़ से बसंती देवी का शव लटका हुआ मिला था. स्कूल प्रशासन का कहना था कि बसंती देवी ने आत्महत्या कर ली है. इसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने बसंती देवी के शव को कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी. वहीं बसंती देवी के परिजनों का आरोप है कि स्कूल प्रशासन ने बसंती देवी की हत्या की है और उनके शव को पेड़ से लटका दिया.

स्कूल की सुरक्षा-व्यवस्था पर लगा सवालिया निशान
मौके पर पहुंची पुलिस ने मृतका के परिजनों को समझा-बुझाकर वापस भेज दिया और मामले की जांच कर रही है, लेकिन जिस तरह से मृतका बसंती देवी का शव पेड़ से लटका हुआ मिला है वह अपने आप में स्कूल के आस-पास की सुरक्षा-व्यवस्था पर सवालिया निशान खड़ा करता है?

रिपोर्ट – कुणाल जायसवाल 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए नोएडा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 16, 2019, 8:16 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...