Home /News /uttar-pradesh /

flats of panchsheel buildtech will complete soon after instalment of real estate stress fund in greater noida dlnh

ग्रेटर नोएडा के 13 सौ खरीदारों को जल्द मिलेंगे फ्लैट, जानें प्लान  

अपने आशियाने का ख्वाब देख रहे 13 सौ परिवारों के लिए एक बड़ी खुशखबरी है. demo pic

अपने आशियाने का ख्वाब देख रहे 13 सौ परिवारों के लिए एक बड़ी खुशखबरी है. demo pic

2020 के बजट में रियल एस्टेट स्ट्रेस फंड (Real Estate Stress Fund) योजना का ऐलान किया था. केन्द्र सरकार की इस योजना के तहत उन बिल्डर्स को पैसा दिया जाएगा जिनके प्रोजेक्ट अधूरे पड़े हुए हैं और खरीदार पैसा देने के बाद भी फ्लैट मिलने का इंतजार कर रहे हैं. योजना की शुरुआत भी ग्रेटर नोएडा (Greater Noida) के एक बिल्डर को फंड देने से हुई थी. इसके बाद चार और बिल्डर को फंड दिया गया था. नोएडा (Noida) में भी कई बिल्डर ने स्ट्रेस फंड का फायदा उठाया है.

अधिक पढ़ें ...

नोएडा. अपने आशियाने का ख्वाब देख रहे 13 सौ परिवारों के लिए एक बड़ी खुशखबरी है. जल्द ही ग्रेटर नोएडा (Greater Noida) में उनके 13 सौ फ्लैट का अधूरा काम शुरू हो जाएगा. कानूनी कार्रवाई पूरी होने के बाद एसबीआई कैप (SBI Cap) ने अधूरे फ्लैट को पूरा करने के लिए स्ट्रेस फंड (Stress Fund) के 39 करोड़ रुपये की किश्त जारी कर दी है. गौरतलब रहे एसबीआई उसी रियल एस्टेट प्रोजेक्ट (Real Estate Project) के लिए पैसा जारी करता है जिसके पूरा होने की ज्यादा उम्मीद होती है. ग्रेटर नोएडा में यह दूसरा प्रोजेक्ट है जिसे पूरा करने के लिए एसबीआई कैप ने पैसा जारी किया है. एसबीआई पहली किश्त सितंबर 2021 में जारी कर चुका है.

पंचशील बिल्डटेक के पूरे होंगे अधूरे फ्लैट

पंचशील बिल्डटेक के अधूरे प्रोजेक्ट के लिए स्ट्रेस फंड से करीब 249 करोड़ रुपये स्वीकृति करने को हरी झंडी पहले ही दी जा चुकी है. इसी कड़ी के तहत दूसरी किश्त जारी की गई है. पहली किश्त के बाद अब यह दूसरी किश्त एसबीआई कैप ने जारी की है.

ग्रेटर नोएडा में स्ट्रेस फंड से वित्तीय सहायता पाने वाला यह दूसरा प्रोजेक्ट है. गौरतलब रहे ग्रेटर नोएडा में ही कैपिटल एथेना प्रोजेक्ट को स्ट्रेस फंड के तहत करीब 165 करोड़ रुपये की मदद दी जा चुकी है. पंचशील बिल्डटेक प्रोजेक्ट को पूरा नहीं कर पा रहा था. बजट की कमी के चलते इसे अधूरा छोड़ दिया गया था. जबकि सभी 13 सौ फ्लैट खरीदार इस प्रोजेक्ट में अपनी रकम लगा चुके थे.

नोएडा के साइलेंट जोन में ही हो रहा सबसे ज्यादा ध्वनि प्रदूषण, जानें वजह

135 करोड़ रुपय बकाया हैं ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी के

जानकारों की मानें तो पंचशील बिल्डटेक के इस अधूरे पड़े प्रोजेक्ट पर ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी के भी करीब 135 करोड़ रुपये बकाया हैं. अथॉरिटी को यह रकम चार किश्तों में मिलेगी. पहली किश्त सितंबर में आ चुकी है. अब दूसरी किस्त करीब 39.42 करोड़ रुपये भी आ गए हैं. जानकारों का कहना है कि एसबीआई कैप पूरी छानबीन करने के बाद ही स्ट्रेस फंड जारी करता है.

इस बारे में फ्लैट खरीदारों का कहना है कि स्ट्रेस फंड पाने के लिए दूसरे बिल्डर्स को भी आगे आना चाहिए. स्ट्रेस फंड की मदद से प्रोजेक्ट को पूरा करें और अथॉरिटी का बकाया चुकाने की पहल करें. स्ट्रेस फंड के दूसरे केस से साफ है कि अथॉरिटी भी सहयोग करने को तैयार रहती है.

Tags: Central government, Greater Noida Authority, Real estate, Sbi

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर