Home /News /uttar-pradesh /

foot over bridge is sanctioned for noida sector 51 and 52 metro station by noida authority nmrc metro train blue and aqua line dlnh

Noida में मेट्रो की ब्ल्यू और एक्वा लाइन को जोड़ने के लिए मिली हरी झंडी, जानें प्लान

सीईओ का कहना है कि जल्द ही नोएडा के सेक्टर-51 और सेक्टर-52 मेट्रो स्टेशन को आपस में जोड़ दिया जाएगा.  (demo Photo)

सीईओ का कहना है कि जल्द ही नोएडा के सेक्टर-51 और सेक्टर-52 मेट्रो स्टेशन को आपस में जोड़ दिया जाएगा. (demo Photo)

अब आप इलेक्ट्रिक व्हीकल चार्जिंग स्टेशन (EV Charging Station), ब्रांडेड कंपनी का शोरुम खोलकर मेट्रो स्टेशन  (Metro Station) पर अपना कारोबार कर सकते हैं. इतना ही नहीं कम पैसों का खाने-पीने का फूड कोर्ट जैसा बिजनेस भी कर सकते हैं. मेट्रो स्ट्रेशन पर जगह लेकर आप पार्किंग भी चला सकते हैं. जगह आपको नोएडा मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (Noida metro Rail) लीज पर देगा. एनएमआरसी की एक्वा लाइन के 15 मेट्रो स्टेशन पर इस तरह के कारोबार करने का मौका मिलेगा. इसके लिए एनएमआरसी की बेवसाइट पर जाकर आनलाइन (Online) और ऑफलाइन आवेदन किया जा सकता है.

अधिक पढ़ें ...

    नोएडा. ब्ल्यू लाइन से उतरकर एक्वा लाइन और एक्वा लाइन से उतरकर ब्ल्यू लाइन मेट्रो ट्रेन (Metro Train) में चढ़ने वालों को नोएडा अथॉरिटी (Noida Authority) ने एक बड़ा तोहफा दिया है. सोमवार को बोर्ड बैठक के दौरान अथॉरिटी की सीईओ रितु माहेश्वरी ने सफर को और आसान बनाने के लिए फुट ओवर ब्रिज को मंजूरी दे दी है. एक ट्वीट कर सीईओ (CEO) ने यह जानकारी दी है. सीईओ का कहना है कि जल्द ही नोएडा के सेक्टर-51 और सेक्टर-52 मेट्रो स्टेशन (Metro Station) को आपस में जोड़ दिया जाएगा. जल्द ही एफओबी (FOB) के संबंध में टेंडर भी जारी कर दिया जाएगा. सूत्रों की मानें तो दोनों स्टेशन के बीच स्काईवॉक (Skywalk) बनाने की तैयारी भी चल रही है.

    दोनों मेट्रो स्टेशन के बीच इसलिए जरूरी था एफओबी

    सेक्टर-51 मेट्रो स्टेशन नोएडा मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (एनएमआरसी) की एक्वा लाइन है. सेक्टर-51 से यह लाइन ग्रेटर नोएडा की तरफ जाती है. वहीं सेक्टर-52 मेट्रो स्टेशन दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (डीएमआरसी) का है. यह लाइन दिल्ली को नोएडा से जोड़ने का काम करती है.

    लेकिन परेशानी यह है कि यात्री एक्वा लाइन के हों या फिर ब्ल्यू लाइन के, दोनों को ट्रेन चेंज करने के लिए सड़क पर उतरकर आना पड़ता है. दोनों स्टेशन के बीच करीब 700 मीटर की दूरी है. जिसके चलते यात्रियों को खासी परेशानी उठानी पड़ती है.

    नए नोएडा में शामिल होंगे 12 तो हटाए जाएंगे 5 गांव, यहां देखें पूरी लिस्ट

    25 करोड़ की लागत से बनेगा 400 मीटर लम्बा एफओबी

    एनएमआरसी के अफसरों की मानें तो सेक्टर-51 और सेक्टर-52 मेट्रो स्टेशन के बीच एरियल दूरी के हिसाब से 400 मीटर लम्बा और 5 मीटर चौड़ा एफओबी बनाया जाएगा. इसकी लागत करीब 25 करोड़ रुपये आने की उम्मीद है. एफओबी का काम शुरू होने के बाद 3 महीने में इसे बनाकर तैयार कर लिया जाएगा.

    जिसके बाद से मेट्रो के यात्रियों को एक स्टेशन से दूसरे स्टेशन तक आने-जाने में परेशानियों का सामना नहीं करना पड़ेगा. इस नए एफओबी का पूरा खर्च नोएडा अथॉरिटी उठाएगी. जानकारों की मानें तो नोएडा-ग्रेटर नोएडा के इस रूट पर करीब 12 हजार यात्री रोजाना सफर करते हैं. 30 किमी लम्बे इस रूट पर 21 मेट्रो स्टेशन हैं.

    Tags: Greater noida news, Metro project, Noida Authority

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर