Home /News /uttar-pradesh /

gaurav ahuja made green gaddi car to reduce pollution making people aware nodelsp

नोएडा: मिलिए ग्रीन गड्डी बनाने वाले गौरव से, इन्होंने अपनी कार को ही बना दिया चलता फिरता बगीचा

Air Pollution: वायु प्रदूषण को कम करने के लिए नोएडा के रहने वाले गौरव आहूजा ने अनोखा प्रयोग करते हुए अपनी गाड़ी को ही चलता फिरता बगीचा बना दिया है. इतना ही नहीं प्रदूषण के खिलाफ मुहिम शुरू करते हुए उन्होंने अपनी कार का नाम ग्रीन गड्डी रखा है.

अधिक पढ़ें ...

आदित्य कुमार

नोएडा. दिल्ली एनसीआर (Delhi NCR) समेत पूरे देश में लगातार बढ़ता प्रदूषण (Pollution in india) सबसे बड़ी समस्या बनती जा रही है. ऐसे में खुद को प्रदूषण मुक्त रखना किसी बड़ी चुनौती से कम नहीं है. प्रदूषण का सबसे ज्यादा दुष्प्रभाव बच्चों व बुजुर्गों पर पड़ता है. ऐसे में वायु प्रदूषण को कम करने के लिए नोएडा (Noida) के रहने वाले गौरव आहूजा ने अनोखा प्रयोग करते हुए अपनी गाड़ी को ही चलता फिरता बगीचा बना दिया है. इतना ही नहीं प्रदूषण के खिलाफ मुहिम शुरू की है जिसका नाम उन्होंने ग्रीन गड्डी रखा है.

दरअसल, साल 2016 में गौरव आहूजा ने महसूस किया कि प्रदूषण के कारण उनके बच्चे परेशान हो रहे थे. स्कूलों में भी उस वक्त पहली बार प्रदूषण के कारण छुट्टियां हुई थीं. तभी गौरव ने ठान लिया कि पर्यावरण के बचाव के लिए कुछ करना है. इसके लिए उन्होंने ग्रीन गड्डी अभियान की शुरुआत की. गौरव बताते हैं कि सबसे पहले मैंने अपनी गाड़ी से शुरुआत की, इसको मोडिफाई करवा कर छत पर करीब 95-100 पौधे लगाए हुए हैं, ताकि लोगों के बीच पर्यावरण के बारे में जागरूकता आए.

इन पौधों से ठंडी रहती है कार
आहूजा बताते हैं कि मैं कभी भी गाड़ी चलाते हुए एयर कंडीशनर इस्तेमाल नहीं करता हूं. ये आयुर्वेदिक पौधे जैसे एलोवीरा, शतावरी आदि गाड़ी को बेहद ठंडा रखते हैं.

हर एक गाड़ी की छत पर पौधे लगवाने का है प्लान
गौरव ने अपनी गाड़ी पर पौधे लगवाने से पहले कई ट्राइल किये जिससे कि पौधे खराब न हों. ज्यादा पानी न देना पड़े और पौधा औषधीय गुणों वाला हो साथ ही गाड़ी को भी नुकसान न हो. इसके बाद 50 हजार रुपये खर्च कर गाड़ी की छत पर नारियल के छिलकों को रखकर एक स्पेशल ट्रे में पौधे लगाए जाते हैं. जिससे गाड़ी की छत भी खराब नहीं होती. इतना ही नहीं गाड़ी की छत पर लगने वाले बगीचे का कुल वजन भी 35 से 40 किलो के बीच ही रहता है, जिससे गाड़ी पर ज्यादा बोझ भी नहीं पड़ता है.

गौरव कहते हैं कि एनसीआर में लाखों चार पहिया वाहन चल रहे हैं. अगर सभी अपनी गाड़ी में इस प्रकार के प्रयोग करें तो प्रदूषित की समस्या को काफी हद तक कम किया जा सकता है. गौरव बताते हैं लोग मुझसे संपर्क कर इसकी पूरी जानकारी ले सकते हैं.

Tags: Delhi-NCR News, Noida news, UP news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर