होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /मार्च में ही खुल जाएगा नोएडा से हेलीकाप्टर की उड़ान का रास्ता, जानें प्लान

मार्च में ही खुल जाएगा नोएडा से हेलीकाप्टर की उड़ान का रास्ता, जानें प्लान

हेलीपोर्ट पर 5 बेल 412 हेलीकॉप्टर (12 सीटर) एक साथ खड़े हो सकेंगे. (Saj Sadiq Twitter)

हेलीपोर्ट पर 5 बेल 412 हेलीकॉप्टर (12 सीटर) एक साथ खड़े हो सकेंगे. (Saj Sadiq Twitter)

नोएडा अथॉरिटी (Noida Authority) चाहती है कि दिल्ली-एनसीआर (Delhi-NCR) से सटे होने के चलते सेक्टर-151ए को एक बड़ी पहचान ...अधिक पढ़ें

    नोएडा. बड़ी खुशखबरी की बात यह है कि मार्च में ही नोएडा (Noida) से हेलीकाप्टर की उड़ान का रास्ता खुल जाएगा. यूपी विधानसभा चुनाव से पहले जारी हुआ हेलीपोर्ट का ग्लोबल टेंडर 31 मार्च को खोला जाएगा. आचार संहिता लगने के चलते टेंडर अब खोला जा रहा है. हेलीपोर्ट की डीपीआर को भी केन्द्र और राज्य की मंजूरी मिल चुकी है. पीपीपी मॉडल पर हेलीपोर्ट का निर्माण किया जाएगा. इसकी निर्माण लागत करीब 43 करोड़ रुपये आने की उम्मीद है. जमीन खरीदने का काम नोएडा अथॉरिटी (Noida Authority) पहले ही कर चुकी है. 9 एकड़ से ज्यादा जमीन इसके लिए खरीदी गई है. खास बात यह भी है कि हेलीपोर्ट पर एयर एम्बुलेंस (Air Ambulance) को उतरने के लिए भी जगह दी जाएगी.

    5 बेल 412 हेलीकॉप्टर एक साथ हो सकेंगे खड़े
    जानकारों की मानें तो हेलीपोर्ट पर 5 बेल 412 हेलीकॉप्टर (12 सीटर) एक साथ खड़े हो सकेंगे. इतना ही नहीं एमआई 172 (26 सीटर) हेलीकॉप्टर का इस्तेमाल भी इस हेलीपोर्ट पर किया जा सकेगा. लेकिन इस तरह के बड़े हेलीकॉप्टर का इस्तेमाल सिर्फ इमरजैंसी और वीआईपी मूवमेंट के दौरान ही किया जाएगा. हेलीपोर्ट पर ही हेलीकॉप्टर की मेंटेनेंस रिपेयर एवं ओवर हॉलिंग की सुविधा भी होगी.

    500 वर्ग मीटर में टर्मिनल बिल्डिंग का निर्माण किया जाएगा. एक बार में हेलीपोर्ट से 20 सवारी रवाना और 20 जाने वाली सवारियों का संचालन होगा. हेलीपोर्ट से सिर्फ दिन में ही उड़ान भरी जा सकेगी. हेलीपोर्ट पर 15 मीटर ऊंचा एयर ट्रैफिक कंट्रोल टावर होगा. हेलीपोर्ट पर ही 50 कारों के लिए पार्किंग, इलेक्ट्रिक सब स्टेशन, फायर स्टेशन भी बनाया जाएगा. जरूरत पड़ने पर यहां से एयर एंबुलेंस का भी इस्तेमाल किया जा सकेगा.

    आपके शहर से (नोएडा)

    नोएडा
    नोएडा

    यूपी रेरा के यह नियम तय करते हैं कि बिल्डर्स अच्छा है या बुरा, जानें सब कुछ

    इसलिए कामयाब हो सकती है हेलीकॉप्टर सर्विस
    जानकार बताते हैं कि कई ऐसे बड़े प्रोजेक्ट हैं जो नोएडा और उससे सटे इलाकों में जल्द ही शुरु होने वाले हैं. जैसे जेवर एयरपोर्ट, दिल्ली-मुम्बई रेल कॉरिडोर, गौतमबुद्ध नगर और बुलंदशहर के 80 गांवों में बसने वाला नया नोएडा शहर, यमुना एक्सप्रेस-वे के किनारे राया, टप्पल और आगरा में नया शहर बसाना, टप्पल के पास डिफेंस कॉरिडोर के साथ ही ग्रेटर नोएडा, यमुना सिटी और नोएडा में कई बड़े आईटी-आईटीएमएस, टॉय पार्क और टेक्सटाइल पार्क जैसे प्रोजेक्ट शुरु होने हैं. फिल्म सिटी बनाने का काम भी चल ही रहा है.

    Tags: Delhi-ncr, Helicopter, Jewar airport, Noida Authority

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें